भूलकर न छुए स्त्री का ये अंग, हो जाती हैं देवी नाराज़ और टूट पड़ता है मुसीबतों का पहाड़ बहुत अजीब बात है लेकिन शास्त्रों में एक बात के बारे में विस्तार से बताया गया है कि महिलाओं के साथ पुरुष को किस तरह से पेश आना चाहिए.

कुदरत की बनाई बहुत सी चीजें खूबसूरत हैं और उनकी तरफ हर किसी का ध्यान जरूर जाता है. उन्हीं रचनाओं में एक रचना है महिला की जिसके आगे इंसान क्या दुनिया झुक गई है. बड़े-बड़े युद्ध महिला के पीछे हुआ फिर वो रामायण में सीता माता का हरण हो या फिर महाभारत में द्रोपदी का चीरहरण हो. हर बार महिलाओं के पीछे बड़े-बड़े ऋषि -मुनियों की तपस्या भी भंग हुई है. महिलाएं घर को जोड़ भी सकती हैं और घर को तोड़ भी सकती हैं. महिलाओं से ही ये पूरा संसार चलता है और उन्ही की वजह से दो खानदान एक होते हैं जो दोनों की इज्जत कही जाती है. पुरुष महिलाओं की हर अदा के दीवाने होते हैं लेकिन अगर आप देवी मां को पूजते हैं तो भूलकर न छुए स्त्री का ये अंग, हो जाती हैं देवी नाराज़, इससे आपके ऊपक मुसीबतों का पहाड़ ही टूट सकता है.

भूलकर न छुए स्त्री का ये अंग, हो जाती हैं देवी नाराज़

बहुत अजीब बात है लेकिन शास्त्रों में एक बात के बारे में विस्तार से बताया गया है कि महिलाओं के साथ पुरुष को किस तरह से पेश आना चाहिए. उनके साथ संबंध बनाते हुए बहुत सी चीजों का ख्याल एक पुरुष को रखना चाहिए ना कि बस अपने मन की करनी चाहिए. स्त्री में एक खास अंग ऐसा भी होता है जिसे छूने मात्र से काली माता नाराज हो जाती हैं और फिर आपको इसका बहुत बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ता है. हिंदू धर्म में महिला को देवी का रूप कहा गया है और बहुत से लोग महिलाओं और लड़कियों को पूजते हैं उनकी इज्जत करते हैं. स्त्री को ईश्वर ने बहुत कोमल भी बनाया है और पुरुष को मजबूत जिससे वे महिलाओं की इफाजत कर सके ना कि उनके ऊपर अपनी बेबुनियादी बातों का हुक्म चलाया करें. स्त्री की काया सुकोमल बनाई गई है और पहले तो उनसे संबंध बिना उनकी अनुमति के नहीं बनाना चाहिए. अगर वो मान भी गई है तो उनके साथ बहुत नजाकत के साथ पेश आना चाहिए.

 

शास्त्रों में लिखा है कि महिलाओं से उनकी मर्जी के साथ संबंध बनाना बुरा नहीं होता लेकिन संबंध स्थापित करते समय अगर आप उनकी नाभि को छू लेते हैं तो काली मां जरूर नाराज हो सकती हैं. नाभि एक खास जगह होती है जहां पर भूलकर भी स्पर्श नहीं करना चाहिए, स्त्री की नाभि में काली माता की शक्ति निहित होती है. यहां पर स्पर्श करने से पुरुषों पर मुसीबतों का पहाड़ टूट सकता है. वैसे तो नाभि की स्वच्छता पर विशेष ध्यान देना चाहिए. यह हमारे पूरे शरीर का केंद्र होता है और ठंड के दिनों में यहां पर नियमित रूप से तेल की बूंदे डालनी चाहिए इससे त्वचा रूखी नहीं रहती इसके अलावा यहां पर तेल डालने के कई फायदे होते हैं.