महिलाओं में तेज़ी से बढ़ रहा है ओवेरियन सिस्ट का खतरा, जानिए क्या है इसके लक्षण, कारण और इलाज? महिलाओं की जीनवशैली आएं दिन बिगड़ रही है, जिसकी वजह से उनमें ओवेरियन सिस्ट की समस्या देखने को मिल रही है।

आजकल की बिजी लाइफ में महिलाएं अपने स्वास्थ्य का ठीक से ध्यान नहीं रख पाती हैं, जिसकी वजह से उन्हें कई बड़ी बड़ी समस्याओं से जूझना पड़ता है। जी हां, महिलाओं की जीनवशैली आएं दिन बिगड़ रही है, जिसकी वजह से उनमें ओवेरियन सिस्ट की समस्या देखने को मिल रही है। ताजा आकड़ो की माने तो हर महिला को अपने जीवन काल में एक न एक बार ओवेरियन सिस्ट से जूझना पड़ता है। तो चलिए ओवेरियन सिस्ट से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारियों के बारे में जानते हैं।

1. ओवेरियन सिस्ट क्या होता है?

ओवेरियन सिस्ट यानि अंडाशय के ऊपर एक परत का जम जाना। आम भाषा में कहें तो अंडाशय में गांठ का बन जाना। यह गांठ पानी की तरह होता है, लेकिन इसका दर्द काफी असहनीय होता है। जब यह गांठ बढ़ने लगता है, तब दर्द असहनीय हो जाता है। इसका दर्द पेट के नीचे भाग पर होता है, जिसे कभी कभार महिलाएं आम दर्द समझ कर नज़रअंदाज़ कर देती हैं।

2. ओवेरियन सिस्ट के लक्षण क्या होते हैं?

यूं तो ओवेरियन सिस्ट के ढेर सारे लक्षण हो सकते हैं, जिनमें से कुछ प्रमुख लक्षणों के बारे में नीचे बताया गया है –

1. पेट के निचले भाग में तेज़ दर्द होना।

2. पेट में दर्द होने के साथ साथ सूजन का होना।

3. पेशाब करते समय दर्द महसूस होना।

4. पीरियड्स (मासिक धर्म) में देरी होना।

5. उल्टी जैसा मन होना।

6. अचानक से वजन बढ़ना।

7. चेहरे और स्तन पर तेज़ी से बाल आना।

3. ओवेरियन सिस्ट के कारण क्या है?

ओवेरियन सिस्ट के कुछ प्रमुख कारणों के बारे में नीचे बताया गया है –

1. मोटापा

2. गलत खानपान

3. हॉर्मोनल समस्या

4. अनियमित मासिक धर्म

5. आनुवाशिंक

6. बांझपन

4. ओवेरियन सिस्ट का इलाज क्या है?

अगर आपको ऊपर बताए गए लक्षण महसूस हो रहे हैं, तो आपको तुरंत किसी स्त्री रोग विशेषज्ञ से संपर्क करना चाहिए। स्त्री रोग विशेषज्ञ आपका इलाज निम्नलिखित तरीके से कर सकती है –

1. अल्ट्ररासाउंड कराने की सलाह देगी।

2. अगर आपका मासिक धर्म अनियमित है, तो यूरिन टेस्ट भी करवा सकती है।

3. ब्लड टेस्ट कराने की सलाह दे सकती है।

4. आमतौर पर अल्ट्ररासाउंड के ज़रिए ही स्त्री रोग विशेषज्ञ ओवेरियन सिस्ट के बारे में पता लगा लेती हैं, लेकिन कई बार ओवेरियन सिस्ट का कारण पता करने के लिए वे आपको एमआरआई कराने की भी सलाह दे सकती हैं।

5. अगर ओवेरियन सिस्ट दवा से ठीक नहीं होती है, तो डॉक्टर एक छोटा सा ऑपरेशन करवाने की सलाह भी दे सकती है, ताकि भविष्य में यह कैंसर का रुप नहीं ले।

6. अगर आपको ओवेरियन सिस्ट की समस्या लंबे समय से है, तो डॉक्टर CA-125 टेस्ट कराने की भी सलाह दे सकती है। यह एक प्रकार का ब्लड टेस्ट होता है। इससे कैंसर का पता लगाया जाता है।

नोट : यदि अल्ट्ररासाउंड रिपोर्ट में ओवेरियन सिस्ट का पता चलता है, तो स्त्री रोग विशेषज्ञ आपको तीन से चार महीने गर्भनिरोधक गोली खाने की सलाह दे सकती है, जिसके बाद आपका एक और अल्ट्ररासाउंड करवाया जाएगा, जिससे ओवेरियन सिस्ट के साइज के बारे में पता लगाया जाता है। साथ ही ओवेरियन सिस्ट की दवाई कई महीने भी चल सकती है और यह आपके सिस्ट की साइज पर निर्भर करता है।