वास्तु शास्त्र में झाड़ू से जुड़ी कही गई हैं ये बातें, जो बना सकती हैं आपको धनवान झाड़ू को गलत समय पर खरीदना और गलत दिशा पर रखना आप पर पड़ सकता भारी -जानें कैसे

वास्तु शास्त्र में झाड़ू को रखने की दिशा और इसको लगाने के सही समय के बारे में जिक्र किया गया है। वास्तु शास्त्र के अनुसार अगर झाड़ू का सही से इस्तेमाल किया जाए और घर में इसको सही दिशा पर रखा जाए, तो ये आपको मालामाल बना सकता है। वास्तु शास्त्र की तरह ही हमारे शास्त्रों में भी झाड़ू के प्रयोग को लेकर कई सारी अहम चीजें बताई गई हैं। जैसे की कभी भी झाड़ू से किसी जानवर को नहीं मारना चाहिए और इसे केवल सही मुर्हूत पर ही खरीदकर घर लाना चाहिए।

सही दिशा में रखें झाड़ू को –

छुपा कर रखें

वास्तु शास्त्र के मुताबिक झाड़ू को हमेशा ऐसी जगह पर रखना चाहिए जहां पर किसी की भी नजर इस पर ना पड़े। आप झाड़ू को हमेशा लेटा कर ही रखें और कभी भी इसे उलटा ना रखें। झाड़ू को उलटा रखना अपशगुन का संकेत होता है।

घर से बाहर रखें

रात के समय घर के बाहर या घर के मुख्य दरवाजे के पास झाड़ू को रखना शुभ माना जाता है और कहा जाता है कि अगर झाड़ू को रात के समय इन जगहों पर रखा जाए तो घर के अंदर नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं कर पाती है। हालांकि याद रहे की आप केवल रात के समय ही झाड़ू को बाहर रखें और दिन के समय इसपर किसी की भी नजर ना पड़ने दें।

इस दिशा में रखें

झाड़ू को हमेशा अपने घर की दक्षिण पश्चिम कोण दिशा में ही रखना सबसे उत्तम माना गया है और आप भी केवल इस दिशा में ही झाड़ू को रखा करें। इसके अलावा कभी भी अपने घर की छत के ऊपर इसे ना रखें। छत के ऊपर झाड़ू को रखने से घर में पैसों की कमी होती है और चोरी होने की संभावना बनी रहती है।

किचन या भोजन कक्ष

जिस जगह पर खाना बनता हैं और जिस स्थान पर आप खाना खाते हैं वहां  पर इसे बिल्कुल नहीं रखें। माना जाता है कि किचन में झाड़ू रखने से घर में अनाज की कमी आ जाती है और अनाज जल्दी खत्म होने लगता है। इसी तरह से खाना खाने वाली जगह पर इसे रखने से सेहत पर बुरा असर पड़ता है और घर के लोग बीमार रहते हैं।

झाड़ू से जुड़ी शगुन और अपशगुन की बातें-

किसी के जाने पर तुरंत झाड़ू ना लगाएं

अगर आपके घर से कोई व्यक्ति या मेहमान जाता है तो आप उसके जाते ही झाड़ू को घर में ना लगाएं क्योंकि ऐसा करने से उस व्यक्ति के साथ कोई हादसा हो सकता है। घर से किसी भी सदस्य के बाहर जान के कम से कम एक घंटे बाद झाड़ू को लगाना चाहिए।

रात के समय ना लगाएं

रात को भूलकर भी झाड़ू का प्रयोग नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से अनहोनी हो सकती है। झाड़ू को लगाने का सबसे सही समय सुबह और दिन का होता है। शाम के पांच बजे के बाद इसका इस्तेमाल करना अशुभ माना जाता है।

हमेशा नए झाड़ू का प्रयोग करें

जब भी आप किसी अन्य घर में या नए घर मे रहने के लिए जाते हैं तो कभी भी अपने साथ पुराना झाड़ू ना लेकर जाएं। नए घर में हमेशा नया झाड़ू ही लेकर जाना शुभ माना जाता है और ऐसा करने से घर में बरकत होती है।

झाड़ू पर पैर ना रखें

झाड़ू पर कभी भी पैर नहीं रखना चाहिए और ना ही इसको पैरों से छुना चाहिए। वास्तु शास्त्र के अनुसार इसपर पैर लगाने से लक्ष्मी मां नाराज हो जाती हैं। इसी तरह से कभी भी झाड़ू के ऊपर से गुजरना भी नहीं चाहिए।

झाड़ू को कब खरीदें –

कृष्णपक्ष के दौरान

झाड़ू को अगर शुभ और सही समय पर खरीदा जाए तो ही ये अपने साथ घर में लक्ष्मी मां को लाता है। शास्त्रों के अनुसार झाड़ू को  कृष्णपक्ष के समय खरीदना सबसे उत्तम होता है और इस दौरान घर में झाड़ू लाने से घर में अच्छी ऊर्जा का प्रवेश होता है। वहीं शुक्लपक्ष के दौरान झाड़ू को खरीदा शुभ नहीं माना जाता है और इस दौरान इसे खरीदने से घर में नकारात्मक ऊर्जा आती है।

दीपावली के समय

दीपावली के समय झाड़ू खरीदना शुभ माना जाता है। कहा जाता है कि अगर छोटी दीपावली पर घर में नया झाड़ू लाया जाए तो घर में लक्ष्मी मां का प्रवेश होता है और आप के जीवन में पैसों की कमी कभी भी नहीं आती है।

झाड़ू से जुडे़ टोटके-

अगर आपको अपने जीवन में कामयाबी नहीं मिल रही है और आप हर काम में असफल हो रहे हैं तो आप बस झाड़ू को मंदिर में रख आएं। मंदिर में झाड़ू रखने से आपके जीवन में आ रही सभी परेशानियां दूर हो जाएंगी और आपको कामयाबी मिलने लगेगी। हालांकि ध्यान रहे की आप मंदिर में केवल शुभ समय के दौरान या फिर शुक्रवार के दिन ही तीन झाड़ू को रखकर आएं। वहीं जिस दिन आपको ये झाड़ू मंदिर में रखना हो उससे एक दिन पहले ही इन्हें खरीद लें।