मुठ्ठीभर होली की राख से करें ये 5 छोटे उपाय, झट से दूर हो जाएंगी सारी समस्याएं होलिका दहन बेहद खास होता है और माना जाता है कि होलिका दहन के समय जो कुछ भी मांगा जाता है, वह सब ज़रूर मिलता है।

होली का त्यौहार पूरे देश में 20 और 21 मार्च को बड़े ही धूमधाम से मनाया जाएगा। होली के त्यौहार में दुश्मन से भी गले मिला जाता है, इसलिए इसे प्यार का त्यौहार भी कहा जाता है। माना जाता है कि होली का त्यौहार शांति और खुशियां लेकर आता है, जिससे पूरी फिजाओं में प्यार का रंग गूंजता है। होली के दिन हर तरफ सिर्फ प्यार ही प्यार दिखाई देता है और इस हर कोई बस मस्ती में ही डूबा रहा है। होली का त्यौहार बुराई पर अच्छाई की जीत के लिए मनाया जाता है, इसलिए होली के दिन नकारात्मक शक्तियों को घर से ज़रूर भगाना चाहिए। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

होली से ठीक एक दिन पहले होलिका दहन मनाई जाती है, जोकि फाल्गुन मास की पूर्णिमा को मनाई जाती है। होलिका दहन के अगले दिन ही होली खेलने की परंपरा है। ऐसे में होलिका दहन बेहद खास होता है और माना जाता है कि होलिका दहन के समय जो कुछ भी मांगा जाता है, वह सब ज़रूर मिलता है। होलिका दहन में हर किसी को भाग लेना चाहिए और उसकी राख को अपने घर ज़रूर लाना चाहिए, जिससे आपके घर में खुशियां ही खुशियां आती हैं, तो चलिए जानते हैं कि होलिका दहन की राख आपके लिए कैसे लकी बन सकती है।

नकारात्मक शक्तियां होती हैं दूर

माना जाता है कि होलिका दहन के बाद अगर उसकी एक मुठ्ठी राख घर ले आना चाहिए। इसके बाद राख को पूरे घर में घुमाना चाहिए, ऐसा करने से घर में मौजूद सभी नकारात्मक शक्तियां हमेशा के लिए घर से दूर हो जाती हैं और आपके घर में फिर सिर्फ सकारात्मक शक्तियों का वास ही होता है।

बुद्धि होती है तेज़

ज्योतिष शास्त्रों के मुताबिक, जब होलिका दहन की राख ठंडी हो जाए तो उसको अपने माथे पर चंदन की तरह लगाना चाहिए, ऐसा करने से व्यक्ति का दिमाग तेज़ होता है। इसलिए होलिका दहन के बाद थोड़ी सी राख घर में ज़रूर लेकर आएं और अपने पूरे परिवार के माथे पर इससे टिका करे, ताकि परिवार में सभी का दिमाग तेज़ रहे।

बच्चे को नहीं लगती है नजर

अगर आपके बच्चे को बार बार नजर लगती है और वह काफी परेशान करता है, तो इससे छुटकारा पाने के लिए आपको होलिका दहन की राख को एक ताबीज में बांधकर अपने बच्चे को पहना देना चाहिए। ऐसा करने से आपके बच्चे को कभी भी नजर नहीं लगी और वह बुरी बलाओं से दूर रहेगा।

दरिद्रता हो जाती है दूर

अगर आप गरीबी और दरिद्रता से छुटकारा पाना चाहते हैं, तो होलिका दहन से थोड़ी सी राख घर ले जाएं और हर दरवाजे पर थोड़ा थोड़ा छिड़क दें, ऐसा करने से आपके घर में दुख, दरिद्रता कभी नहीं आती है।

नहीं होती है दुर्घटना

होलिका दहन के बाद एक मुठ्ठी राख को घर लाकर किसी कपड़े में बांध दें और किसी जगह सुरक्षित रख दें। ऐसा करने से आपके परिवार में कोई भी सदस्य दुर्घटना ग्रसित नहीं होगा।