स्वास्थ्य

बवासीर की समस्या पर बहुत जल्दी असर करता है ये 5 घरेलू उपाय, एक बार जरूर अपनाए ये इलाज

वैसे तो इंसान को कोई भी बीमारी हो तो उसे बहुत तकलीफ देती है लेकिन कुछ ऐसी भी बीमारियां होती है जिनके होने पर उनसे होने वाला दर्द इंसान को परेशान कर देता है. इसमें कई बीमारियां सामने आती हैं लेकिन बवासीर ऐसी बीमारी है जिससे बहुत से लोग परेशाान होते हैं और इसका इलाज जल्दी लोगो को नहीं मिल पाता. बवासीर में होने वाला असहनीय दर्द मरीज को और तोड़ देता है इसके बाद वो हर छोटी बातें मानने लगता है जो उसे ठीक होने का दिलासा देते हैं. मगर आमतौर पर बवासीर यूंही ठीक होने वाली बीमारी नहीं होती है. बवासीर की समस्या पर बहुत जल्दी असर करता है ये 5 घरेलू उपाय, इनके बारे में पढ़िए और अगर आप इस बीमारी से जूझ रहे हैं तो ये आपकी मदद जरूर करेगा.

यह भी जानें –
बवासीर की अचूक दवा

बवासीर की समस्या पर बहुत जल्दी असर करता है ये 5 घरेलू उपाय

बवासीर की बीमारी बहुत दर्द देने वाली होती है और इसके शिकार बहुत से लोग हो जाते हैं. घंटों एक जगह बैठने या कब्ज के कारण ये बीमारी भी तेजी से बढ़ने लगती है. बवासीर के मरीज को शौच करने, बैठने और लेटने में भी बहुत दर्द होता है. बवासीर में असहनीय दर्द होता है क्योंकि मलाशय के आस-पास की नसों में सूजन आ जाती है और मरीज को कभी-कभी यहां से खून भी आता है. वैसे बवासीर दो प्रकार की होती है, एक खूनी बवासीर और दूसरी वादी बवासीर. खूनी बवासीर में मस्से सुर्ख होते हैं जिसके कारण खून आता है और वादी बवासीर के मस्से काले होते हैं. आयुर्वेद में बवासीर की समस्या के कई इलाज हैं जिन्हें घरेलू उपचार के रूप में आप इस्तेमाल कर सकते हैं.

सेंधा नमक और ग्लिसरीन

2 चम्मच सेंधा नमक में 2 चम्मच ग्लिसरीन मिलाकर इसे साफ मेडिकेटेड पट्टी में लगाएं और दर्द वाली जगह पर रख लें. इसके बाद 15 से 20 मिनट तक इस मिश्रण को उस जगह पर लगा रहने दें इसके बाद पट्टी निकाल दें. अगर दर्द बहुत ज्यादा है, तो हर 4-5 घंटे में एक बार फिर इस मिश्रण को लगा सकते हैं. ऐसा हर दिन करिए धीरे-धीरे बवासीर का दर्द कम होने लगेगा और फिर खत्म हो जाएगा. इस उपचार पर मेडिकल भी सहमति जता चुका है.

एलोवेरा जेल

एलोवेरा में दर्द और सूजन को कम करने जैसे गुण पाए जाते हैं. इसलिए बवासीर के मस्सों पर आप एलोवेरा जेल का करना बेहतर होता है. हालांकि गुदाद्वार एक संवेदनशील अंग होता है इसलिए एलोवेरा जेल को बहुत ही सावधानी के साथ लगाना चाहिए. ऐसा न हो कि क्रीम में एलोवेरा जेल के साथ कोई दूसरी चीजें भी मिलाई गई हों. एलोवेरा जेल दर्द से राहत दिलाएगा और ठंडक भी पहुंचाएगा.
यह भी पढ़ें :
एलोवेरा के औषधीय गुण

ईसबगोल की भूसी

ईसबगोल की भूसी में फाइबर की मात्रा अत्यधिक होने के कारण ये मल को मुलायम बनाता है, जिससे बवासीर के कारण होने वाला दर्द कम होता है. इससे कुछ हद तक पेट भी साफ रहता है और मस्‍सा ज्‍यादा दर्द भी नही करता. दिन में एक या दो चम्‍मच ईसबगोल की भूसी को दूध या पानी के साथ लिया जा सकता है लेकिन ध्यान दें कि इसे ज्यादा मात्रा में ना लें, क्योंकि इससे गैस और पेट दर्द की समस्या भी हो सकती है. इसके अलावा ये भी ध्यान रहे कि ईसबगोल की भूसी खाने के बाद आपको पानी भी पर्याप्त पीना चाहिए.

छाछ है फायदेमंद

बवासीर के मस्‍सों को दूर करने के लिए मट्ठा बहुत फायदेमंद पेय पदार्थ माना जाता है. इसके लिए करीब दो लीटर छाछ लेकर उसमे 50 ग्राम पिसा हुआ जीरा और स्‍वादानुसार नमक मिला लें, प्यास लगने पर पानी की जगह इसे पिएं. चार दिन तक ऐसा करने से मस्‍से ठीक हो जायेगें और इसके अलावा हर रोज दही खाने से बवासीर होने की संभावना कम होती है और बवासीर में फायदा भी मिलता है.

बर्फ की सिकाई

बिर्फ की सिंकाई द्वारा बवासीर के दर्द में तत्काल राहत मिलती है. इसके लिए बर्फ का एक टुकड़ा लें और दर्द वाली जगह पर इसे थोड़ी देर तक दबाकर रखें. बर्फ की ठंडक के कारण दर्द में आहाम मिलता है और ऐसा दिन में 4-5 बार बार करिए इससे बवासीर के मस्सों की सूजन कम हो जाती है और ये ठीक होने लगती है.

Back to top button
?>