5 पुरुषों की एक पत्नी थीं द्रौपदी फिर भी भाईयों में कभी नहीं हुई लड़ाई, पतियों को ऐसे रखती थी खुश

महाभारत का युद्ध धर्म के लिए लड़ा गया बहुत बड़ा युद्ध था। इसके हर एक पात्र बहुत ही दिलचस्प थे और हर किसी ने हमें कोई ना कोई सीख दी थी। इन पात्रों में सबसे खास कोई और सबसे ज्यादा प्रुख किरदार कोई था तो वो थी द्रोपदी जिसे महाभारत के होने का मुख्य कारण माना है। द्रौपदी के और किस्से भी दिलच प लगते हैं कि क्योंकि भारतीय समाज में वो इकलौती ऐसी महिला था जिसके पांच पति थी। द्रौपदी को स्वंयवर में तो अर्जुन ने जीता था, लेकिन मां कुंती के गलत वाक्य कहने के कारण द्रौपदी को पांचो भाईयों से शादी करवनी पड़ी थी। हालांकि सबसे गौर करने वाली बात ये थी ही पांचों भाईयों में कभी भी द्रौपदी को लेकर कोई विवाद नहीं हुआ था।

पांचों भाईयों के लिए ये थे नियम

नारद जी ने द्रौपदी के पाचों भाईयों के साथ रहने के कुछ नियम बनाए थे जिसका हर कोई पालन करता था। इसके अनुसार जब द्रौपदी एक भाई के साथ एकांत में हो तो कोई औऱ भाई उसक साथ नहीं जा सकता। अगर कोई इस नियम को तोड़ता है तो उसे 12 वर्षों तक जंगलो में अकेले ब्रह्मचर्य का जीवन व्यतीत करना पड़ेगा। ये एक खास वजह थी की द्रौपदी जब एक समय में एक भाई के पास रहती तो बाकी के चार भाई उनसे दूर रहते। हालांकि इसे सुयोग्य बनाए रखने में द्रोपदी का भी अपना दिमाग था। एक बार कृष्ण की पत्नी सत्यभामा ने उनसे पूछा था कि वह सबके साथ ऐसी मधुरता कैसे बनाएं रखती हैं।

चरित्र की अच्छी

द्रोपदी ने सबसे पहले बताया कि जिस औऱत का चरित्र अच्छा ना हो उस औरत की संगति में रहने से बचना चाहिए। अगर आप खराब चरित्र वाली स्त्री के संपर्क में आते हैं तो आपका भी चरित्र खराब हो जाता है। द्रौपदी ने हमेशा माना की खराब नियत वाली औरतों, दूसरा का बुरा चाहने वाली औरतों और दुष्चरित्र वाली औरतों से खुद को दूर रखना चाहिए।

तांक-झांक नहीं

लड़कियों को दरवाजे या खिड़कियों से तांक झांक नहीं करनी चाहिए। किसी का सामना  खुल कर करें। इस तरह का व्यवहार किसी भी स्त्री के लिए ठीक नहीं होता है। जो दूसरों के घर में तांक झांक करने वाली स्त्रियों का खुद का दांपत्य जीवन खराब कर लेती हैं। जो इन बातों का ध्यान रखती हैं उनके जीवन में किसी तरह की कोई परेशानी नहीं होती है।

पति से बनाएं रखें प्रेम

अक्सर स्त्रियां इस चालाकी में रहती है कि कैसे वो अपने पति को वश में कर लें, लेकिन पतियों को वश में करने के लिए किस तंत्र, मंत्र या जड़ी बूटियों का इस्तेमाल करना चाहिए। पति को अगर वश में करना है तो बस इसके लिए उनसे खुलकर अपना प्यार जताएं। पति को अच्छा भोजन कराएं और उनसे प्यारी भाषा बोलें। इन दो चीजों से ही पति वश में आ जाते हैं। जो पत्नियां हर वक्त झगड़ा करती रहती है उनके पति उनसे हमेशा नाराज रहते हैं औऱ उनकी गृहस्थी पर बुरा असर पड़ता है। अपने रिश्तों की पूरी जानकारी रखें और हमेशा तालमेल बैठाने की कोशिश करें। जब आप अपने ही पति को समझने की कोशिश नहीं करेंगी तो आपके जीवन में स्थिरता कैसे आएगी।

यह भी पढ़ें