ईशा अंबानी की इस आदत से नफरत करते हैं आनंद, सिर्फ ये एक चीज है दोनों में कॉमन

न्यूज़ट्रेंड एंटरटेनमेंड डेस्क: देश के सबसे अमीर मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी की शादी को अभी ज्यादा वक्त नहीं हुआ है। बता दें कि ईशा की शादी देश की सबसे बड़ी और भव्य शादियों में से एक थी, जिसमें पूरी दुनिया से लोग शिरकत लेने आए थे। इन शादी में बॉलीवुड से लेकर देश के बड़े बिजनेसमैन और राजनेताओं ने शिरकत की। शायद ही कोई ऐसी फेमस पर्सनैलिटी रहा हो जो इनके शादी के समारोह में शामिल ना हुआ हो।

ईशा की शादी की बारे में हर बात जानने के लिए लोग बहुत उत्सुक थे, लेकिन उनकी शादी के बाद अब सभी के मन में ये सवाल उठ रहा है कि आखिर शादी के बाद ईशा की लाइफ कैसी है। वो किस तरह से अपनी शादी-शुदा जिंदगी बिता रही हैं। तो अब इन सब सवालों के जवाब भी मिल गए हैं।

बता दें कि हाल ही में ईशा ने Vogue मैगजीन के कवर के लिए फोटोशूट कराया है जो सोशल मीडिया पर  वायरल हो रहा है। इसी के साथ उन्होंने मैगजीन को एक इंटरव्यू दिया जिसमें उन्होंने बताया कि शादी से पहले औऱ शादी के बाद उनकी लाइफ में क्या बदल गया है।

 

शादी से पहले ईशा की लाइफ

ईशा ने बताया कि, “मेरे पैरेंट्स बहुत ज्यादा बिजी रहते थे। साल 1991 में जब मैं पैदा हुई थी,  उस वक्त उदारीकरण का दौर चल रहा था। मतलब वो वक्त जब भारतीय कंपनियों को विश्व भर में अपनी पहचान बनाने का मौका मिल रहा था। उस वक्त मेरे पिता ने भी अपने बिजनेस को वर्ड वाइड करने की जद्दोजहद में लगे हुए थे। जिसके लिए वो काफी कड़ी मेहनत कर रहे थे और उसी का नतीजा है कि रिलायंस आज इस मुकाम पर है।” ईशा ने आगे कहा, “वह कई-कई घंटों तक काम करते रहते थे लेकिन जब हमें जरूरत पड़ती, वो हमारे लिए खड़े होते थे। उन्होंने ये सुनिश्चित किया कि हम पैसे, मेहनत और उदारता की कीमत को समझें।”

ईशा ने बताया कि , मेरे पैरेंट्स की शादी के 7 साल बाद मैं और आकाश पैदा हुए थे और हम दोनों ही IVF बेबीज थे। जब हम पैदा हुए तो हमारी मां ने हमको पूरा समय दिया औऱ जब हम पांच साल के हो गए तब वो दोबारा काम पर लौंटी लेकिन अब भी वह ‘टाइगर मॉम’ थीं।

बहुत सट्रिक्ट थी नीता अंबानी

ईशा ने बताया कि और बच्चों की तरह मेरा भी झगड़ा मां के साथ होता था तब पापा को हम दोनों की लड़ाई साल्व कराने के लिए आना पड़ता था। जब भी हमारा मन स्कूल जाने का नहीं होता था तब पापा तो झट से मान जाया करते थे लेकिन मां कभी नहीं मानती थी। वो हमारे खाने-पीने से लेकर के हमारी पढ़ाई के लिए काफी सतर्क रहती थी।

आनंद का सेंस ऑफ ह्यूमर है लाजवाब

इसके बाद ईशा अंबानी ने अपनी शादीशुदा जिंदगी के बारे में बात की और आनंद की तारीफ करते हुए कहा कि, आनंद हमेशा मुझे हंसाते रहते हैं। उनका सेंस ऑफ ह्यूमर लाजवाब है। हम दोनों को कई बातें एक-दूसरे से मेल नहीं खाती हैं।

सोशल नहीं हैं आनंद

ईशा ने बताया कि आनंद को किसी भी तरह के इवेंट में शामिल होने से नफरत हैं। वहीं ईशा सोशल इवेंट्स को काफी एंजॉय करती हैं और उनको पसंद भी करती हैं। अपनी शादी के बारे में बात करते हुए उन्होंने बताया कि, हमने अपनी शादी को एंजॉय किया लेकिन आनंद का फन करने का तरीका मुझसे काफी अलग है। वह मुझसे ज्यादा आध्यात्मिक हैं। लेकिन हम दोनों में एक समानता ये है कि हम दोनों ही खाने के शौकीन हैं।

ईशा ने अपनी शादी के वक्त का एक वाक्या भी सुनाया, “मेरे पिता शादी में स्पीच दे रहे थे कि उन्होंने आनंद को क्यों पसंद किया। वह आनंद की 10 क्वालिटीज गिना रहे थे. यह स्पीच मजाकिया थी क्योंकि उन्होंने अंत में कहा कि यही 10 क्वालिटीज उनकी भी हैं। ये सच है कि आनंद मुझे मेरे पिता की याद दिलाते हैं।”

शादी के बाद नहीं बदली लाइफ

जब ईशा से पूछा गया कि उनकी लाइफ में शादी के बाद क्या चेंजेस आए हैं तो उन्होंने कहा कि लाइफ पहले जैसी ही है। ईशा ने बताया, हमने कल रात को डिनर किया। जिसके बाद रात 11 बजे से सुबह 3 बजे तक आनंद के ऑफिस में एक मीटिंग थी। मुझे नहीं लगता है कि मेरी या आनंद की जिंदगी में कुछ बदला है। इस पड़ाव पर हम दोनों के लिए काम प्राथमिकता पर है। हमारे पैरेंट्स भी इस बात को समझते हैं। खुशकिस्मती से, मैं जिस परिवार में पैदा हुई और जिस परिवार में मेरी शादी हुई, दोनों जगह हर एक सदस्य काम की अहमियत समझता है।

ईशा को नहीं पसंद वेस्टर्न वियर

ईशा ने बताया कि लोगों को लगता होगा कि मैं हर दिन बहुत डिजाइनर और महंगे कपड़े पहनती होंगी, लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं हैं। सच्चाई ये है कि मैं अधिकतर कॉटन के सलवार कमीज ही पहनती हूं। मुझे इंडियन वियर पहनना ज्यादा पसंद हैं, खासकर ब्लॉक प्रिंट वाले कॉटन के कुर्ते।

ईशा ने बताया कि जब वह अमेरिका में थीं तो बिजनेस फॉर्मल पहनने से उन्हें नफरत हो गई थी। ब्लेजर पहनना उनके लिए किसी नाइटमेयर से कम नहीं था।