महाभारत में श्रीकृष्ण ने किया है इन 5 पवित्र चीजों का जिक्र, जो घर में लाती है सुख-समृद्धि

सुख-समृद्धि पाना ही हर व्यक्ति के जीवन का लक्ष्य होता है और जीवन में सुख-समृद्धि हासिल करने के लिए लोगों द्वारा खूब व्रत और पुण्य के कार्य भी किए जाते हैं. वहीं हमारे शास्त्रों में भी सुख-समृद्धि कैसे पाई जाए इसका उल्लेख किया गया है और महाभारत में भी जीवन में सुख-समृद्धि को पाने से जुड़ी बातें कहीं गई हैं. महाभारत के एक प्रसंग में श्रीकृष्ण जी ने बताया है कि किस तरह से महज पांच पवित्र चीजों को घर में रखकर कोई भी व्यक्ति भगवान को खुश कर अपने घर में सुख-समृद्धि को ला सकता है. श्रीकृष्ण जी द्वारा इन चीजों का जिक्र युधिष्ठिर के साथ किया गया था और  ये पांच चीजें कौन सी हैं, ये इस प्रकार है.

चंदन

टिका लगाने के लिए किया जाता है और ये खुशबूदार होने के साथ साथ काफी पवित्र होता है. कहा जाता है कि माथे पर चंदन लगाने से शरीर को केवल सकारात्मक ऊर्जा ही प्राप्त होती है. इस लिए भगवान शिव जी के तिलक के लिए भी केवल चंदन का ही प्रयोग किया जाता है. इसलिए श्रीकृष्ण जी द्वारा कहा गया है कि हर व्यक्ति के पूजा घर में चंदन को रखना शुभ होता है और इससे रोजाना भगवान का अभिषेक करने से भगवान प्रसन्न हो जाते हैं और जीवन में खुशियां का आगमन होने लगता है.

पानी का कलश

कई लोगों द्वारा रोज सुबह पूजा करने से पहले मंदिर घर में पानी से भरा कलश जरूर रखा जाता है और रोज इस कलश के पानी को बदला भी जाता है. वहीं  श्रीकृष्ण जी द्वारा भी कहा गया है कि पूजा घर में हमेशा पानी रखा होना चाहिए और साथ में ही जब भी कोई व्यक्ति घर आए तो उसको जरूर पानी देना चाहिए. दरअसल लोगों को पानी पिलाने से कई दोषों को दूर किया जा सकता है और घर में सुख-समृद्धि का वास होता है. वहीं जब भी आप मंदिर में पानी का कलश रखें तो उसको पूरा भरकर ही रखें. क्योंकि आधा पानी का कलश शुभ नहीं होता है.

वीणा

वीणा मां सरस्वती जी से जुड़ी हुई है और वीणा की धुन काफी मधुर होती है. वहीं श्रीकृष्ण जी के अनुसार घर में वीणा रखने से घर के लोगों पर मां सरस्वती की कृपा बनीं रहती है और मां सरस्वती की कृपा से घर के सदस्यों को कभी भी ज्ञान की कमी नहीं होती है.

घी

किसी भी प्रकार के हवन में देसी घी का प्रयोग जरूर किया जाता है और इसके अलावा घी का इस्तेमाल भगवान के जलाभिषेक के दौरान भी किया जाता है. क्योंकि देसी घी को काफी शुद्ध माना जाता है. वहीं ऐसा भी कहा जाता है कि घर में रोज घी का दीया जलाने से घर में सकारात्मक ऊर्जा बनी रहती है और घर में शांति का माहौल रहता है. इसलिए घर के पूजा घर में देसी घी का होना भी काफी जरूरी होता है.

शहद

भगवानों के जलााभिषेक के दौरान शहद का भी प्रयोग किया जाता है. इसके साथ ही भगवान का पूजन करते समय कई लोग मीठे के रूप में उन्हें सबसे पहले शहद अर्पित करते हैं. इसलिए ये भी एक ऐसी चीज है जिसका पूजा घर में होना काफी जरूरी होता है और शहद को मंदिर में रखने की बात  श्रीकृष्ण द्वारा  महाभारत में कही गई है.

ऊपर बताई गई चीजों के साथ साथ पूजा घर में लाल रंग का धाग, गंगा जल और ताजा फूल होने से भी भगवान प्रसन्न हो जाते हैं और उस घर में अपनी कृपा बनाएं रखते हैं. इसलिए अगर आप के घर के मंदिर में ऊपर बताई कई पवित्र चीजों में से कोई चीज मौजूद नहीं हैं तो उसे तुरंत रख लें.