बच्ची को किया किडनैप औऱ फिर छोड़ दिया घर, लोगों ने सोचा की ज़रूर बच्ची के साथ ग़लत हुआ होगा, लेकिन..

राजधानी दिल्ली में आए दिन महिलाओं और बच्चियों के लेकर कई वारदात होती रहती हैं। ऐसे में दिल्ली के रजौरी गार्डन में एक बच्ची के किडनैपिंग का मामला सामने आया है। हालांकि बच्ची किडनैपिंग के अगले ही दिन वापस घर पहुंचा दी गई थी। किडनैप करने वाले शख्स का नाम है किशन दत्त है जो इस वक्त पुलिस की गिरफ्त में हैं। उसने 8 साल की बच्ची 25 जनवरी को किडनैप कर थी और अगले ही दिन छोड़ भी दिया। इस किडनैपिंग के पीछे की जो वजह सामने आई है वह बहुत हैरान कर देने वाली है।

इस वजह से किडनैप की थी बच्ची

रजौरी गार्डन के पास है कीर्ति नगर जहां के जवाहर कैंप में ये बच्ची अपने परिवार के साथ रहती है। 25 जनवरी को बच्ची अचानक से गायब हो गई। उसे किशन ने टॉयलेट के पास से किडनैप कर लिया था। घरवालों ने जब बच्ची की गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखवाई तो किशन को इस बारे में पता चल गया। जब उसे लगा कि मामला पुलिस तक पहुंच गया है तो उसने अगले ही दिन बच्ची को उसके घर के पास छोड़ दिया। किडनैपिंग के पीछे उसका मकसद पैसे मांगना या बच्ची के साथ कुछ गलत करना नहीं था।बच्ची 26 जनवरी को ही जब घर पहुंची तो घरवालों ने उससे जानना चाहा कि कहीं उसके साथ कोई गलत हरकत तो नहीं हुई है। बच्ची ने बताया कि एक अंकल उसे अपने साथ ले गए थे और दूसरे ही दिन उसे बाइक से लेकर आ गए और घर  के बाहर छोड़ दिया। उसके साथ किसी भी तरह की गलत हरकत नहीं हुई। दरअसल किशन ने उस बच्ची को किडनैप इसलिए किया था क्योंकि उसकी खुद की कोई बेटी नहीं थीं।

पहले भी कर चुका है किडनैपिंग

इस मामले में किशन को पकड़ने के लिए सीसीटीवी फुटेज की जांच की। पता चला कि राजौरी गार्डन इलाके में रिंग रोड के पास ही बच्ची को छोड़ कर गया था। बाइक काले रंग की थी। नंबर प्लेट से बाइक का नंबर मिल गया। इसके बाद से किशन पुलिस वालों के हाथ लगा। 27 जनवरी तक उसे गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तारी के बाद किशन से इस बारे में पूछताछ की गई तो उसने बताया कि उसके दो बेटे हैं, लेकिन कोई बेटी नही है इसलिए वह बच्ची को उठाकर अपने साथ ले गया था। जब उसे पता चला की मामला पुलिस के पास पहुंचा है तो उसने बच्ची को घर पर छोड़ दिया।

देखने से ये मामला अजीब ही लगता है, क्योंकि किशन ने ऐसा पहली बार नहीं किया था। इससे पहले भी वह ऐसा कर चुका है। पिछले साल वह हरि नगर से एक बच्ची को उठाकर ले गया था और तीन दिन तक उसे अपने घर रखा था। इसके बाद बच्ची को उसके घर छोड़ दिया था। उस वक्त पुलिस उसे नहीं पकड़ पाई थी, लेकिन इस बार उसकी गिरफ्तारी हो गई।

हालांकि बच्ची के साथ उसने कोई गलत हरकत नहीं की इसलिए ऐसा माना जा रहा है कि उसने भावुकता में ऐसा कर दिया, लेकिन इस तरह बच्चों को किडनैप करके ले जाना गुनाह है। किशन की मानसिक स्थिति के बारे में पता लगाया जा रहा है। उसकी मेडिकल जांच भी हो रही हैं। पहले डॉक्टर्स उसे ऑबजर्व करेंगे फिर कुछ कहा जा सकता है।

यह भी पढ़ें