क्या आपने कभी ध्यान दिया कि 11 अलग तरीकों से बजाएं जाते हैं ट्रेन के ह़ार्न, सबका होता है अलग मतलब

न्यूज़ट्रेंड वेब डेस्क: बचपन में ट्रेन को गुजरते देखने की ललक और उससे बाए करना जैसे की उसके अंदर बैठा हर शख्स आपसे बाय कर रहा हो। इतना ही नहीं अपने दोस्तों के साथ ट्रेन के डब्बे बनकर खेलना और ना जाने बचपन की कितनी यादें हैं जो ट्रेन से जुड़ी हुई हैं। आज जब आप ट्रेन में सफर करते होंगे तो उन यादों को याद करके मुस्कुराते जरूर होंगे। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर बात क्या हो रही है। तो आज हम आपको ट्रेन से जुड़ी एक ऐसी बात बताएंगे जिसे जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे।

आपने ट्रेन का हार्न तो सुना ही होगा, इसके साथ ही ट्रेन के सीटियों की आवाज भी जरुर सुनी होगी, लेकिन क्या कभी आपने ट्रेनों के इस सीटियों पर गौर किया है। क्या आपको पता है कि ट्रेन में कुल ११ तरह की सीटियां (हॉर्न) बजाई जाती हैं जिनका अपना वैसा ही एक मलतब होता है जैसा कि ट्रेनों पर लिखे नंबर या चिन्हों का मतलब होता है।

तो चलिए अब आपको बताते हैं ट्रेन के हॉर्न के उन 11 तरीकों और उनके मतलब के बारे में और साथ ही ये कि कब बजाए जाते हैं ये हॉर्न।

एक शॉर्ट हॉर्न

एक शॉर्ट हॉर्न कुछ सेकेंड के लिए ही होता है। इस हॉर्न का मतलब होता है कि गाड़ी यार्ड में जा रही है। जहां पर अगले सफर में जाने से पहले इसकी सफाई होगी।

दो शॉर्ट हॉर्न

दो शॉर्ट हॉर्न का मतलब होता है यात्रियों को संकेत देना की अब ट्रेन निकलने के लिए तैयार हैं, तो सभी यात्री ट्रेन में आकर बैठ जाएं, इसे ट्रेन में सफर कर रहे यात्रियों के लिए वार्निंग हॉर्न भी कह सकते हैं क्योंकि ये यात्रियों को ट्रेन में आने का आखिरी संकते देती हैं।

तीन शॉर्ट हॉर्न

तीन शॉर्ट हॉर्न का इस्तेमाल बहुत ही इमरजेंसी के लिए किया जाता है। जिस वजह से इसे हम इमरजेंसी हॉर्न भी कह सकते हैं। तीन शॉर्ट हॉर्न केवल मोटर मैन ही बजाता है। इस हॉर्न के जरिए वो संकेत देता है कि लोको पायलट इंजन से अपना कंट्रोल खो चुका है। जिसके बाद गार्ड को वैक्यूम ब्रेक से ट्रेन को रोकना होता है।

 चार शॉर्ट हॉर्न

जब ट्रेन के इंजन में कोई गड़बड़ी हो जाती है या वो चलते हुए रुक जाती है तब चार बार शॉर्ट हॉर्न बजता है जिसका मतलब होता है कि इंजन में खराबी आने के कारण गाड़ी आगे नहीं जा सकती है।

एक लंबा और एक शॉर्ट हॉर्न

बता दें कि जब एक लंबे और एक शॉर्ट हॉर्न का मतलब होता है कि मोटरमैन इसके जरिए गार्ड को संकेत दे रहा है कि वो इंजन स्टार्ट होने से पहले ब्रेक पाइप सिस्टम को सेट कर दें।

दो लंबे और दो शॉर्ट हॉर्न

दो लंबे और दो शॉर्ट हॉर्न के जरिए लोको पायलट गार्ड को इंजन पर बुलाने का संकेत देता है।

लगातार लंबा हॉर्न

जब लोको पायलट काफी लंबे समय तक हॉर्न बजाता है तो इसका मतलब होता है कि ट्रेन उस प्लेटफॉर्म पर नहीं रुकेगी और वो सीधे जाएगी।

 रुक-रुक कर दो बार हॉर्न

दो बार रुक- रुक हॉर्न बजाने का मतलब क्रासिंग से गुजरने वाले लोगों को संकेत देना होता है कि ट्रेन रेलवे क्रॉसिंग से गुजरने वाली है। तो सभी क्रासिंग से दूर हो जाएं।

दो लंबे और एक शॉर्ट हॉर्न

इस तरह का हॉर्न रेलवे की इंटरनल कार्यप्रणाली के दौरान बजाया जाता है। इस हॉर्न का मतलब होता है कि ट्रेन अपना ट्रैक चेंज करने वाली है।

दो शॉर्ट और एक लंबा हॉर्न

दो शॉर्ट और एक लंबा हॉर्न का मतलब होता है कि ट्रेन में बैठे किसी यात्री ने इमरजेंसी चैन खीची है या तो फिर गार्ड ने वैक्युम ब्रेक लगाया है।

छह बार शॉर्ट हॉर्न

वैसे तो यह हॉर्न कम ही बजाया जाता है। लेकिन ऐसा हॉर्न ड्राइवर तब बजाता है जब उसे किसी खतरे का आभास होता है।