लहसुन के इस छोटे से उपाय से चुटकी में दूर हो जाएगी धन की कमी, परेशानियां होंगी ख़त्म

धन की कमी किसी को भी हो सकती है और इसकी कमी के कारण अक्सर लोग खूब परेशान भी रहते हैं. धन की कमी होने पर लोगों द्वारा कई तरह के पूजा और पाठ भी किए जाते हैं. मगर इन पूजा पाठ के बावजूद भी लोगों की धन की कमी दूर नहीं होती है. पैसे की कमी को दूर करने के लिए लोगों द्वारा कई सारे टोटकों का इस्तमेल भी किया जाता है, जो कि काफी कारगर साबित होते हैं और इन्हीं टोटकों में से एक टोटका लहसुन से जुड़ा हुआ है. जी हां, लहसुन के जरिए भी पैसों की कमी को दूर किया जा सकता है और कम समय में ही मालामाल बना जा सकते हैं. रसोईघर में प्रयोग होने वाली इस चीज का इस्तेमाल अगर सही तरह से किया जाए, तो पैसों की कमी की समस्या को खत्म किया जा सकता है.

अपनाएं लहसुन के इन उपायों को और दूर करें गरीबी –

पर्स में रखें लहसुन

पर्स में ही लोगों द्वारा पैसे रखे जाते हैं और अगर आप अपने पर्स में शनिवार को लहसुन अपने पैसों के साथ रखें तो आपके पैसों में बरकत हो जाएगी. जी हां, एक छोटी से लहसुन की कली को पर्स में रखने से धन की कमी दूर हो जाती है. हालांकि आप इस टोटके को हर शनिवार के दिन करें और अगला शनिवार आते ही उस लहसुन को निकाल कर उसकी जगह दूसरी लहसुन की कली रख दें.

तिजोरी में रखें लहसुन

पर्स के जैसे ही आप लहसुन को अपने घर की या फिर दुकान की तिजोरी में भी रख सकते हैं. हालांकि जब भी आप किसी तिजोरी में  इस रखें तो इसको लाल रंग के कपड़े में लपेटकर रखें. ऐसा करने से आपकी तिजोरी में रखे पैसों में बरकत होगी और वो पैसे जल्द खर्च भी नहीं होंगे.

जमीन में दबा दें लहसुन

जिन लोगों की आर्थिक स्थिति बेहद ही खराब है वो लोग एक लाल रंग की पोटली के अंदर इसकी दो कलियां रख दें और फिर इस पोटली को जमीन के अंदर दबा दें. ऐसा करने से कुछ ही समय के अंदर ही इन लोगों की आर्थिक स्थिति पहले से बेहतर होने लग जाएगी.

दरवाजे पर रखें लहसुन

जिन लोगों को उनके व्यापार या फिर दुकान के कार्यों में नुकसान हो रहा है वो लोग भी लहसुन की मदद से अपने कार्य के नुकसान से निजात पा सकते हैं और ऐसा करने के लिए इन लोगों को बस अपनी दुकान और व्यापार स्थल के गेट पर एक पोटली के अंदर पांच लहसुन की कलियां डालकर रखनी होगी. वहीं समय समय पर इस पोटली में रखी गई इन कली को बदलते रहें और कुछ दिनों के अंदर इन लोगों को व्यापार में मुनाफा होने लगेगा.