राजपाल यादव जेल में इस तरह से बिता रहे हैं दिन, हर कैदी उन्हें कहता है “रियल हीरो”

बॉलीवुड की फ़िल्मी दुनिया दूर से जितनी हसीन दिखती है, हकीक़त में उतनी ही उलझी हुई है. यहाँ हर स्टार की स्माइल के पीछे लाखों राज छिपे हुए हैं. उन्ही में से बात अगर राजपाल यादव की करें तो उन्हें इंडियन फिल्मों का कॉमेडी किंग कहा जाता है. अपनी कम हाइट और दमदार एक्टिंग के चलते उन्होंने बहुत कम समय में लोगों के दिलों में अपनी अलग जगह बना ली है. हाल ही में चेक बाउंस होने के कारण कोर्ट द्वारा सज़ा दे दी गई. जिसके बाद उन्हें अपने दिन तिहाड़ जेल में गुजारने पड़ रहे हैं. लेकिन जेल में होने के बाद भी राजपाल यादव ने जीने की हिम्मत नहीं छोड़ी और अपने कैदी साथियों का भरपूर मनोरंजन कर रहे हैं.

हाल ही में मिली एक रिपोर्ट के अनुसार यह जानकारी प्राप्त हुई कि इन दिनों जेल जी सजा काट रहे राजपाल यादव कैदियों के बीच काफी पोपुलर हो गए हैं. उन्होंने बीते दिन जेल के मंच पर कवि सम्मेलन में हिस्सा लिया और अपनी कॉमेडी के जरिये सबको हंसा हंसा के लोट-पोट किया. बता दें कि राजपाल यादव को बॉलीवुड में उनके हास्य किरदारों के रूप में याद किया जाता है. उनकी हर फिल्म में उनकी कॉमेडी ने लोगों को प्रभावित किया. छोटी कद-काठी के कारण जहाँ कुछ लोग जीने का आत्मविश्वास खो बैठते हैं, वहीँ राजपाल यादव ने अपनी हाइट को ही अपनी पहचान बनाया और लोगों को हंसने पर मजबूर किया.

कैदियों के हैं रियल हीरो

 

इस बात में अधिक जानकारी देते हुए जेल के एक अधिकारी ने बताया कि राजपाल यादव ने कवि सम्मेलन के दौरान अपना एक कॉमेडी शो पेश किया जिसने सभी कैदियों को खूब हंसाया. हर कैदी अपने बीच इतनी बड़ी हंसती को देख कर अवाक हो उठा. जेल अधिकारी के अनुसार उनकी जेल में काफी लंबे समय से कोई बड़ी हस्ती नहीं आई थी. हालाँकि तिहाड़ में सालों से कईं राजनेता, क्रिकेटर, गैंग्स्टर और आतंकवादी आते रहे हैं लेकिन इस दशक में पहली बार कोई कॉमेडियन कैदी बन कर वहां आया है जोकि सभी लोगों से अच्छा बर्ताव कर रहा है. अधिकारी के अनुसार वह जेल नंबर सात में हैं और अपने हंसमुख स्वभाव के चलते काफी मशहूर हो चुके हैं.

प्ले की भी कर रहे हैं तैयारी

जेल के एक अन्य अधिकारी के साथ हमारी न्यूज़ टीम ने जब बात की तो उन्होंने बताया कि राजपाल यादव अक्सर कैदियों को अपने प्ले के बारे में बताते रहते हैं. दरअसल वह एक प्ले की तैयारी कर रहे हैं, जिसे वह कुछ ही दिनों में जेल में परफॉर्म करेंगे. राजपाल यादव ने यह बात साबित कर दिखाई कि इंसान भले कितना भी बड़ा क्यूँ ना हो जाए, लेकिन वह साधारण लोगों के लिए हमेशा साधारण ही रहता है. तभी शायद राजपाल यादव इतनी बड़ी हस्ती होने के बाद भी अन्य कलाकारों की तरह बर्ताव नहीं करते और कैदियों के मनोरंजन के लिए जेल में बढ़ चढ़ कर इवेंट्स में हिस्सा लेते रहते हैं.

आखिर क्यों हुई थी जेल?

आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि राजपाल यादव फ़िलहाल 47 वर्ष के हो चुके हैं. उन्हें बीते वर्ष एक दिसंबर को कोर्ट ने 3 महीने की तिहाड़ जेल की सजा सुनाई थी. दरअसल, उन्होंने एक कंपनी से पंच करोड रुपए का लोन लिया था जिसकी वह फिल्म बनाना चाहते थे. लेकिन वह तय किए गए समय पर राशी का भुगतान नहीं कर सके जिसके कारण न्यायधीश राजीव सहाय मूर्ति ने उन्हें हिरासत में लेने के आदेश दे दिए. बता दें कि यह कंपनी दिल्ली की “मुरली प्रोजेक्ट्स” नामक कंपनी थी जिसने राजपाल यादव की कंपनी “श्री नौरंग गोदावरी एंटरटेनमेंट” को पांच करोड रुपए का क़र्ज़ दिया था और क़र्ज़ न चुकाने के आरोप में मामला दर्ज़ करवा दिया था. बता दें कि राजपाल ने यह लोन साल 2010 में फिल्म “अता पता लापता” के निर्देशन के लिए लिया था.