बॉलीवुड

कांग्रेस के लिए मुसिबत से कम नहीं है’The Accidental Prime Minister’, ये एक्ट्रेस निभा रही हैं सोनिया गांधी का किरदार

ऐसा कहा जाता है कि जोड़ियां ऊपर से बनकर आती हैं बस हमारा मिलना यहां पर होता है. आपने बहुत से ऐसे जोडे़ देखे होंगे जिन्हें देखकर आपको लगेगा कि ये एक-दूसरे के लिए कैसे बने हो सकते हैं लेकिन यही बात सच होती है. कुछ ऐसी ही जोड़ी है एक सीधे-सादे अभिनेता अखिल मिश्रा और उनकी जर्मन पत्नी सुजैन बरनर्ट की, जिन्होंने साल 2009 में शादी की और अब मुंबई के मीरा रोड स्थित एक फ्लैट में साथ रहते हैं. अखिल यूपी के कानपुर को बिलॉन्ग करते हैं लेकिन सुजैन शादी के इतने साल बाद भी कानपुर नहीं गई हैं. ये एक्ट्रेस निभा रही हैं सोनिया गांधी का किरदार, इनकी खूबसूरत आप तस्वीरों और फिल्म में इनका किरदार हूबहु वैसा ही जैसी सोनिया गांधी दिखने में लगती हैं.

ये एक्ट्रेस निभा रही हैं सोनिया गांधी का किरदार

साल 2006 में सुजैन और अखिल मिश्रा की मुलाकात दूरदर्शन के एक धारावाहिक के दौरान हुई. इसके तीन साल बाद सुजैन ने अपनी उम्र से लगभग 17 साल बड़े अखिल मिश्रा के साथ शादी कर ली. इस समय अखिल 53 साल के और सुजैन 36 साल की हैं और इस फिल्म के अलावा सुजैन ने कई धारावाहिकों में भी काम किया. ये पहली ऐसी विदेशी महिला हैं जिन्होंने भारतीय धारावाहिक में खलनायिका का किरदार निभाया था. इन्होंने कलर्स टीवी के मशहूर धारावाहिक ‘चक्रवर्ती अशोक सम्राट’ में सम्राट अशोक की सौतेली मां हेलेना का किरदार निभाया जो खूब पॉपुलर हुआ था.

साल 2005 में सुजैन अपना करियर बनाने जर्मनी से मुंबई आई थीं और यहां आते ही थिएटर से जुड़ गईं और इन्होंने ‘हनीमून ट्रेवल्स प्राइवेट लिमिटेड’ और ‘नो प्रॉब्लम’ फिल्मों में भी काम किया है. सुजैन को जर्मन भाषा के अलावा बंगाली, मराठी और हिंदी भाषा भी आती है. इन्हें बैली और लावणी डांस की महारत हासिल है. सुजैन को सबसे पहले एकता कपूर के सीरियल कसौटी जिंदगी के पहले सीजन में मिसेज डोरिज बजाज का किरदार भी मिला था जो कुछ दिन दिखाया गया था. अब सुजैन फिल्म में सोनिया गांधी का दमदार किरदार निभाने वाली हैं जिसका ट्रेलर आ चुका है और सबको सुजैन का सोनिया गांधी के रूप में किरदार ओरिजनल लग रहा है.

पत्नी के बारे में कुछ ऐसा कहते हैं अखिल मिश्रा

एक्टर अखिल मिश्रा बताते हैं कि उनकी पत्नी को जो किरदार निर्देशक ने दिया है उसमें उन्होंने बहुत मेहनत की और अपना बेस्ट दिया है. एक्टर के लिए यही बड़ी बात होती है कि उसे जो भी किरदार मिले उसमें अपना बेस्ट दे. अखिल के अनुसार, सुजैन भारतीय सिनेमा में विदेशी अभिनेत्रियों में टॉप पर होंगी, क्योंकि यह किरदार चुनौतीपूर्ण है और इसमें देश की राजनीति को बयां किया गया है. अखिल ने बताया कि वो साल 1975 में कानपुर से मुंबई आए और यहीं पर थिएटर करते-करते सैटल हो गए. उस दौरान उन्होंने दूरदर्शन के धारावाहिक गृहलक्ष्मी का जिन्न, कमाल की मौत से काम शुरु किया और फिर उतरन, कुमकुम प्यारा सा बंधन, परदेश में मिला कोई अपना, प्रथा और प्रधानमंत्री जैसे सीरियल में काम किया. अखिल ने बॉलीवुड में थ्री इडियट्स, शिखर, डॉन, भोपाल, वेलडन अब्बा, करीब और गांधी जैसी कई फिल्मों में काम किया.

Back to top button
?>