बॉलीवुड

बॉलीवुड की इन 6 अश्लील फिल्मों को सेंसर बोर्ड ने देखते ही कर दिया था बैन, यूट्यूब पर देखना हुआ आसान

बॉलीवुड में हर साल हजारों फिल्में बनती हैं लेकिन हर फिल्म रिलीज नहीं हो पातीं ऐसा इसलिए होता है कि लोग फिल्में तो अपने हिसाब से बना लेते हैं लेकिन जब तक उस फिल्म को सेंसर बोर्ड से हरी झंडी नहीं मिलती तब तक फिल्में सिनेमाघरों में रिलीज नहीं हो पाती. ये बात अलग है कि बॉलीवुड में बहुत सी फिल्में अश्लील बनने लगी हैं और गालियों से भरपूर भी हैं लेकिन सेंसर बोर्ड उस हद तक की फिल्मों को सिनेमाघरों में लगाने की इजाजत देता है जिसे हम अपने परिवार के साथ बैठकर या फिर सिनेमाहॉल में ही बैठकर आसानी से देख सकें लेकिन हम जिन फिल्मों की बात बताने जा रहे हैं वो आप अकेले में भी देखने में असहज हो सकते हैं. इसलिए बॉलीवुड की इन 4 अश्लील फिल्मों को सेंसर बोर्ड ने देखते ही कर दिया था बैन, इन्हें अगर आप एक बार देखना चाहते हैं तो शायद आपको यूट्यूब पर दिख जाए.

बॉलीवुड की इन 4 अश्लील फिल्मों को सेंसर बोर्ड ने देखते ही कर दिया था बैन

हिंदी सिनेमा का दौर बहुत ज्यादा बदल चुका है और आज का बॉलीवुड कई असहज शब्दों का इस्तेमाल भी करने लगा है लेकिन हर चीजें एक लिमिट में दिखाई जाने लगी है. मगर कुछ ऐसी फिल्में बनाई गईं जिन्हें सेंसर बोर्ड ही देखने में असहज हो गया और रिलीज पर रोक लगा दी. ये हैं बॉलीवुड की 4 सबसे ज्यादा बोल्ड फिल्में.

अनफ्रीडम

सेंसर बोर्ड ने फिल्म अनफ्रीडम को इसलिए बैन किया क्योंकि इस फिल्म में दो लड़कियों के प्रेम संबंधों को दिखाया गया था. प्रेम संबंध अलग बात है लेकिन इस फिल्म में बहुत से ऐसे संवेदनशील सीन थे जिन्हें आप अपने परिवार क्या दोस्तों के साथ बैठकर देखने में भी असहज हो सकते थे. ये फिल्म साल 2015 में मई के महीने में रिलीज होने वाली थी लेकिन इसे आप यूट्यूब पर आसानी से देख सकते हैं. इस फिल्म का निर्देशन राज अमित कुमार ने किया था.

बैंडिट क्वीन

आपने डकैत फूलन देवी का नाम तो सुना ही होगा ? जी हां ये वही नाम है जिसने चंबल में कई साल राज किया था और कई राजपूतों को मौत के घाट उतारा था. साल 1994 में फिल्म बैंडिट क्वीन बनी, इसमें एक ऐसी औरत की कहानी को दिखाया गया जिसकी इज्जत समाज के बड़े जमींदार लूट लेते हैं और वो जिनके पास भी मदद के लिए जाती वहां उसके आबरू को तार-तार किया जाता. इसके बाद उसने खुद हथियार उठा लिये और चंबल की डकैत बनकर अपना बदला लिया. असल जिंदगी हिसाब से इस फिल्म को तैयार किया गया था कई काट-झाट के बाद फिल्म रिलीज की गई लेकिन बाद में बैन कर दी गई.

कामसूत्र 3डी

निर्देशक रुपेश पॉल की फिल्म साल 2013 में फिल्म कामसूत्र 3डी रिलीज होने वाली थी लेकिन फिल्म के बहुत से सीन इतने कामुक थे कि इसे यूट्यूब पर ही दिखाना मुनासिब समझा गया. सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म की रिलीज पर बैन लगाया लेकिन आप इसे ऑनलाइन देख सकते हैं.

सिंस

साल 2005 में शाइनी आहूजा की फिल्म सिंस को यशराज बैनर तले बनाया गया था. इस फिल्म में एक पादरी को एक जवान लड़की से इश्क हो जाता है और फिल्म में जरूरत से ज्यादा अश्लीलता को परोस दिया गया था कि लोगों ने इसके गाने खूब डाउनलोड किए थे. मगर जब ये फिल्म सेंसर बोर्ड में पहुंची तो इसे बैन कर दिया गया.

Back to top button
?>