ब्रेकिंग न्यूज़

रिलायंस जियो पर प्रधानमंत्री मोदी की फोटो बिना इजाज़त उपयोग में लाने के लिए लग सकता है जुर्माना!

आपको याद होगा कि कुछ दिन पहले जब जियो ने अपना नया नेटवर्क शुरू किया था तो अपने प्रचार के लिए प्रधानमंत्री की फोटो वाली ऐड निकाली थी। जियो ने प्रधानमंत्री की फोटो इलेक्ट्रोनिक और प्रिंट ऐड में लगाया था, इसके लिए उसके ऊपर जुर्माना किया जा सकता है। आपको बता दें, यह जुर्माना जियो के ऊपर प्रधानमंत्री की इजाजत के बिना उनकी फोटो को इस्तेमाल करने के लिए लगाया जायेगा। प्रधानमंत्री कार्यालय ने किसी भी तरह के फोटो को इस्तेमाल करने की इजाजत जियो को नहीं दी थी, बावजूद इसके जियो ने प्रधानमंत्री की फोटो को अपने ऐड में इस्तेमाल किया।

jio could face fine for using pm modis pic in adds

राज्यवर्धन सिंह ने कहा उन्हें पहले से ही पता था:

यह बात संसद सामने तब आयी जब समाजवादी पार्टी के नेता नीरज शेखर ने इससे जुड़ा सवाल राज्यभा में उठाया। इस बात के जवाब में सूचना एवं प्रसारण राज्यमंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने लिखित रूप से यह स्वीकार किया कि इसके बारे में उन्हें पहले से ही जानकारी थी। उन्होंने कहा कि जी हाँ इसकी जानकारी सरकार को थी, लेकिन प्रधानमंत्री कार्यालय ने किसी भी फोटो को इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं दी थी।

PMO ने नहीं दी थी फोटो के इस्तेमाल की इजाजत:

राठौड़ ने बताया कि मंत्रालय की मीडिया शाखा DAVP ही इससे जुड़े सारे काम करती है, और सरकारी नीतियों से जुड़े सभी विज्ञापनों को रिलीज करती है। लेकिन यह सिर्फ सरकारी विज्ञापनों के लिए है, यह किसी निजी संस्था के विज्ञापन के लिए कोई काम नहीं करती है। शेखर ने आगे पूछा की ऐसे लोगों के लिए कानून में सजा का क्या प्रावधान है तो इसपर उन्हेंनें इससे जुड़े कानून के बारे में बताया। राठौड़ ने कहा कि इससे जुड़ा कानून (राजकीय प्रतीक (अनुचित प्रयोग का निषेध) अधिनियम 1950), उपभोक्ता मामले खाद्य, सार्वजनिक मंत्रालय की देख-रेख में है।

बिना इजाजत नहीं कर सकते इनका इस्तेमाल:

इस कानून के सेक्शन 3 के हिसाब से किसी भी विशिष्ट व्यक्ति के नाम, फोटो और अन्य पहचान को कोई भी बिना केंद्र सरकार की इजाजत के इस्तेमाल नहीं कर सकता है। इस लिस्ट में लगभग 3 दर्जन ऐसे नाम हैं, जिन्हें विशिष्ट का दर्जा दिया गया है। इसमें भारत के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, सभी राज्यों के गवर्नर, भारत या राज्य सरकार, संयुक्त राष्ट्र संघ, अशोक चक्र, महात्मा गाँधी, जवाहर लाल नेहरु या इंदिरा गाँधी शामिल हैं।

अपनी सर्विस इस भारतीय नेता को समर्पित:

मुकेश अम्बानी ने इस बारे में कहा है कि नरेन्द्र मोदी मेरे भी प्रधानमंत्री हैं। प्रधानमंत्री ने एक डिजीटल भारत का सपना देखा है, जिससे मैं भी बहुत प्रेरित हुआ हूँ। मैं अपनी यह सर्विस इसी भारतीय नेता को समर्पित करता हूँ, यह डिजीटल की तरफ एक और कदम है। इसी मौके पर मुकेश ने प्रधानमंत्री के नोटबंदी वाले फैसले का भी खूब समर्थन किया और कहा मैं उनके इस साहसिक फैसले के लिए उनका शुक्रिया अदा करना चाहता हूँ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close