ब्रेकिंग न्यूज़

जाने भारतीय रिज़र्व बैंक ने ऐसे कौन से कदम उठाये हैं ताकि लोगों को समय से सैलरी के पैसे मिल सकें!

जैसा कि आप जानते हैं आज 1 तारीख़ है और आज ही के दिन सभी लोगों की सैलरी आती है। सैलरी लेने में लोगों को कोई दिक्कत ना हो इसका रिज़र्व बैंक ने ख़ास ध्यान रखा है। सूत्रों ने बताया है कि लोगों को होने वाली दिक्कत से बचाने के लिए रिज़र्व बैंक ने बुधवार की शाम से ही बैंक और एटीएम में 500 के नोटों की आपूर्ति को तेज कर दिया है। ऐसा करने से लोगों को खुल्ले पैसे की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा और सैलरी के पैसे निकालने में भी कोई दिक्कत नहीं होगी।

7 दिसंबर तक बैंक और एटीएम में कैश ज्यादा:

आप तो जानते ही हैं कि देश में 8 नवम्बर के बाद से सभी पुराने 500 और 1000 के नोट बंद किये जा चुके हैं, इस वजह से देश में कैश की कमी चल रही है। सभी लोगों को पैसे की जरुरत है और रिज़र्व बैंक के पास इतना पैसा नहीं था कि वह सबकी माँग उनके अनुसार पूरी कर सके। सैलरी आने के बाद लोगों को अपने पैसे निकालने में कोई दिक्कत ना हो इसलिए रिज़र्व बैंक ने अन्य बैंकों के साथ मिलकर कई योजनाएँ बनाई है। इसके तहत देश के अभी बैंक और एटीएम में 7 दिसंबर तक कैश की मात्रा को बढ़ाया जायेगा। 500 के नोटों की संख्या ज्यादा बढ़ाई गयी है, ताकि लोगों को खुल्ले पैसे का संकट ना हो।

रिज़र्व बैंक ने उठाये ये 10 कदम:

1- बुधवार शाम से ही देश के सभी बैंक और एटीएम में कैश की आपूर्ति तेज कर दी गई है ताकि लोगों को सैलरी का पैसा निकालने में किसी प्रकार की दिक्कत का सामना ना करना पड़े।

 

2- कैश की आपूर्ति सभी बैंक और एटीएम में 7 दिसंबर तक ऐसी ही रहेगी ताकि सैलरी निकालने वालों को कोई दिक्कत ना हो।

 

3- देश के जिन बैंकों में लोगों के सैलरी खाते हैं, उन बैंकों में अन्य बैंकों की तुलना में 20-30 प्रतिशत ज्यादा कैश की आपूर्ति की जाएगी।

 

4- ऐसे बैंकों में काम करने वाले कर्मचारियों की कोई कमी ना हो इसका भी ख़ास ध्यान रखा गया है।

 

5- सैलरी देते वक़्त किसी प्रकार की दिक्कत कैश की आपूर्ति में ना होने पाए इस बात का भी रिज़र्व बैंक ने ख़ास ध्यान रखा है।

 

6- जिन कर्मचारियों के पास अपना खुद का बैंक अकाउंट नहीं हैं, उनके नए खाते खोलने के लिए जगह-जगह पर कैम्प लगाये जायेंगे।

 

7- 500 के नोटों की छपाई में तेजी कर दी गयी है और साथ ही साथ 2000 के नोट भी छापे जा रहे हैं।

 

8- सभी बैंकों में 7 दिसंबर तक कैश की कोई दिक्कत ना होने पाए इसलिए लोगों के विशेष दल को तैयार किया गया है, ताकि कैश की आपूर्ति समय पर की जा सके।

 

9- बुधवार से ही कैश सम्बन्धी होने वाली दिक्कतों के चलते 500 के नोटों की आपूर्ति बैंक और एटीएम में सबसे ज्यादा की गयी है, इससे लोगों को खुल्ले पैसे की भी दिक्कत नहीं होगी।

 

10- वित्त मंत्रालय के अनुसार सैलरी वाला दिन होने की वजह से पिछले दो दिनों से कैश की आपूर्ति तेज कर दिया गया है और इसका ख़ास ध्यान भी रखा जा सहा है।

 

युद्ध स्तर पर किया जा रहा है कैश आपूर्ति का काम:

आपको बता दें पिछले दो दिनों से रिज़र्व बैंक लोगों को कोई दिक्कत ना हो इसलिए युद्धस्तर पर लगी हुई है। इसी दो दिनों में सभी योजनाये बनाई गयी हैं और उसके क्रियान्वयन पर भी ख़ास ध्यान दिया जा रहा है। आपको बता दें सरकारी विभागों में सैलरी 30 के बाद और 1 के बीच ही मिलती है, ऐसे में सभी लोगों को पैसे चाहिए होते हैं। अगर ऐसे में बैंक और एटीएम में पैसे नहीं होंगे तो लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close