ब्रेकिंग न्यूज़राजनीति

MP में BJP ने की वादों की बौछार, ‘हर साल 10 लाख रोजगार, लड़कियों को स्कूटी देने का वादा’

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने शनिवार को अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया। जी हां, एमपी के भोपाल में वित्त मंत्री अरुण जेटली और केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान की मौजूदगी में बीजेपी ने घोषणा पत्र जारी किया। एमपी में बीजेपी के चुनावी घोषणा पत्र में युवाओं और महिलाओं को काफी जगह दी गई है। इसके अलावा मध्यप्रदेश में चौथी बार सत्ता पर काबिज होने के लिए बीजेपी ने इस घोषणा पत्र के ज़रिए वादों की झड़ियां लगा दी, जिससे जनता आकर्षित करने की कोशिश की गई है। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

सीएम शिवराज सिंह चौहान घोषणापत्र जारी करने के बाद नीमच और मंदसौर में रैलियां करेंगे। याद दिला दें कि पिछले साल मंदसौर किसानों के आंदोलन का केंद्र बन गया था, लेकिन इस बार बीजेपी किसानों की मांगो को लेकर काफी ज्यादा सजग हो गई है और वह किसानों के मांगो को पूरा करने की हर संभव कोशिश करेगी। बता दें कि बीजेपी के लिए मध्यप्रदेश का चुनाव जीतना बहुत ज़रूरी है, वरना 2019 की राह बीजेपी के लिए मुश्किल हो जाएगी। तो चलिए जानते हैं कि मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी के घोषणा पत्र में क्या कुछ है?

हर साल 10 लाख रोजगार का वादा

यूं तो मध्यप्रदेश की जनता से बीजेपी ने इस घोषणा पत्र में कई वादे किये हैं, लेकिन इसमें रोजगार कफी प्रमुख है। जी हां, राज्य सरकार ने युवाओं को नौकरी देने के लिए हर साल 10 लाख रोजगार के अवसर पैदा कराने का वादा किया है। इसके अलावा सीएम शिवराज सिंह चौहान ने युवा उद्यमियों को स्टार्ट अप की सुविधाएं उपलब्ध कराने का वादा किया है, जिसके लिए सरकार की तरफ से युवाओं को हर तरह की मदद करने का वादा भी है। बता दें कि बीजेपी के घोषणा पत्र में व्यापारी कल्याण कोष की स्थापना करने का भी लक्ष्य रखा गया है।

लड़कियों को स्कूटी देने का वादा

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी के घोषणा पत्र में लड़कियों के लिए खास तौहफा नजर आया। जी हां, अगर इस बार बीजेपी की सरकार मध्यप्रदेश में आई तो 12वीं में 75 प्रतिशत से ज्यादा मार्क्स लाने वाली लड़कियों को राज्य सरकार की तरफ से स्कूटी मुफ्त में दिया जाएगा। महिलाओं के मुद्दे पर बात करते हुए सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि हमारी सरकार महिला सशक्तिकरण में कोई कसर नहीं छोड़ेगी। इस बार सरकार ने नारी सशक्तिकरण संकल्प पत्र जारी किया, जिसके तहत महिलाओं के मुद्दे पर काम किया जाएगा।

Related Articles

Close