UGC NET 2018 : एड्मिट कार्ड जारी होने की तिथि हो गयी घोषित, इस तरह कर सकते हैं डाउनलोड

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (नेट) UGC NET EXAM 2018 परीक्षा 2018 का प्रवेश पत्र जारी करने की तारीख घोषित कर दी है, यूजीसी के ताजा बयान के मुताबिक अब 19 नवंबर को नेट 2018 परीक्षा के प्रवेश पत्र जारी करेगा। बता दें कि यूजीसी नेट 2018 परीक्षा के प्रवेश पत्र 19 नवंबर से एनटीए की आधिकारिक वेबसाइट ntanet.nic.in पर उपलब्ध होंगे। इस साल यूजीसी नेट के परीक्षा आयोजन एनटीएन करा रही हैं क्योंकि पिछले कुछ वर्षों से यूजीसी नेट के परीक्षा का आयोजन सीबीएससी करती थी लेकिन इस साल यूजीसी नेट के परीक्षा का आयोजन एनटीए कर रही हैं।

UGC NET

UGC NET ने जारी की एड्मिट कार्ड डाउनलोड की तारीख

दरअसल UGC NET 2018 परीक्षा का आयोजन 18, 19, 20, 21 और 22 दिसंबर को दो पारियों में कराया जाएगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यूजीसी नेट 2018 के लिए पहली पारी में सुबह 9:30 बजे से शाम 1 बजे तक और दूसरी पारी में 2:30 बजे से शाम 6 बजे तक परीक्षा सम्पन्न कराया जाएगा। उम्मीदवारों की जानकारी के लिए की बता दें कि यूजीसी नेट 2018 के लिए पंजीकरण प्रक्रिया की अंतिम तारीख अब खत्म हो चुकी हैं, हालांकि फोटो और हस्ताक्षर करेक्शन करने का विकल्प 30 अक्टूबर तक था और उम्मीदवार कल तक आवेदन में सुधार कर सकते थे लेकिन अब इसकी भी अंतिम तारीख खत्म हो चुकी हैं। USC NET 2018 Admit card download

इस सब के अलावा यदि किसी भी प्रकार की समस्या उम्मीदवार को हैं तो वो 10:00 बजे से 5:00 बजे के बीच आधिकारिक हेल्पलाइन नंबर पर भी कॉल कर पूछ सकते हैं। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) के द्वारा देश के विभिन्न विश्वविद्यालयों में सहायक प्रोफेसरों और स्कॉलरों की भर्ती के लिए इस परीक्षा का आयोजन कर रहा है। हर साल की तरह इस साल भी सहायक प्रोफेसरों और जेआरएफ के चयन के लिए UGC NET परीक्षा आयोजित करती हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि परीक्षा के लिए कुल 11,48,235 उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन किया था और दोनों परीक्षाओं में 8,59,498 उम्मीदवार शामिल हुए थे और जिसमें से 55872 उम्मीदवारों ने सहायक प्रोफेसर के लिए अर्हता प्राप्त की थी, इस साल भी बहुत ज्यादा संख्या में उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन किया हैं।

UGC NET

UGC NET की परीक्षा के लिए ये हैं एलिजेबल

जो भी विद्यार्थी पोस्ट ग्रेजुएट हो जाते हैं वो UGC NET  परीक्षा को देने के एलिजेबल होते हैं या फिर ऐसे विद्यार्थी जो पोस्ट ग्रेजुएशन के अंतिम सेमेस्टर में हैं वो भी इस परीक्षा को देने के एलिजेबल होते है। दरअसल इस परीक्षा को वहीं विद्यार्थी देते हैं जो चाहते हैं कि वो रिसर्च करे या फिर असिस्टेंट प्रोफेसर बनना चाहते हैं क्योंकि बिना इस परीक्षा को पास किए कोई भी विद्यार्थी रिसर्च नहीं कर सकता हैं। इसलिए इस परीक्षा को देना जरूरी होता हैं। जो भी विद्यार्थी रिसर्च करना चाहते हैं वो इस परीक्षा को जरूर देते हैं। हालांकि इस समय प्रतिस्पर्धा इतनी ज्यादा हो गयी हैं की आज के समय में लोग नेट और जेआरएफ करके भी घूम रहे हैं और उनकी जॉब भी नहीं लग रही हैं क्योंकि आज लाखो, करोड़ों युवा बेरोजगार घूम रहे हैं, ऐसे में बेरोजगारी युवाओं के सामने सबसे बड़ी समस्या हैं। अब देखना यह कि इस बार कितने उम्मीदवार नेट या जेआरएफ क्वालिफाइ करते हैं।

यह भी पढ़ें