गर्मियों के मुकाबले सर्दियों में अधिक बढ़ता है शरीर का वजन, जानिए क्या है कारण

सर्दी में वजन का बढ़ना : सर्दियों में वजन बढ़ने की समस्या आम बात है और वैसे भी वजन बढ़ने से हर कोई परेशान रहता है। शरीर का वजन बढ़ना कई कारणों से हो सकता है। इसके पीछे कई बीमारियां भी वजह बन सकती हैं, जैसे हृदय रोग, डायबिटीज, मोटापा और ब्लड प्रेशर आदि। अगर सर्दी के मौसम की बात करें तो इस समय वजन बढ़ने की संभावना ज्यादा हो जाती है क्योंकि माना जाता है कि सर्दी में भूख अधिक लगती है। और लोग अस्वस्थ चीजों का सेवन करने लगते हैं। इससे अनियमित जीवनशैली हो जाती है और गलत खान पान के कारण वजन बढ़ने लगता है।

आज जंक फूड लोगों के खान पान में अपना जगह बना चुकी है। इसलिए जितना हो सके इसके सेवन को कम करें। मोटापा शरीर के अलग अलग अलग हिस्सों में फैट जमा हो जाना है। सर्दियों में वजन बढ़ता है, ज्यादातर लोगों को लगता होगा कि इसका कारण उनके द्वारा खाया गया आहार है। लेकिन मौसम परिवर्तन भी इसका बहुत बड़ा कारण है। वास्तव में कई ऐसे कारण हैं जो ठंड के मौसम में वजन बढ़ाने का काम करते हैं।

आइये जानते हैं वो कौन से कारण हैं जिसकी वजह से सर्दियों में वजन बढ़ने लगता है।

सर्दी में वज़न क्यों बढ़ता है जानिये

सर्दी में वजन का बढ़ना : ज्यादा सोना

अक्सर देखा जाता है कि ठंड के मौसम में लोग अधिक नींद लेते हैं। और होता है भी है कि सर्दियों के दिनों में रातें लंबी और दिन छोटे होते हैं। इसी कारण अधिक नींद आती है और आप ज्यादा सोने लगते हैं। बताया जाता है कि सर्दियों के मौसम में बॉडी भी अधिक काम नहीं करती है मतलब कि बॉडी ज्यादा एक्टिव नहीं रहती है। इसी कारण से वजन बढ़ने लगता है।

सर्दी में वजन का बढ़ना : भोजन

शरीर के वजन बढ़ने में भोजन सबसे बड़ा कारण होता है। आप क्या खाते हैं, कैसे खाते हैं इसका आपके शरीर पर बहुत असर पड़ता है। अक्सर देखा जाता है कि सर्दी के मौसम में शरीर में गर्माहट बनाए रखने के लिए लोग मसालेदार भोजन का अधिक इस्तेमाल करते हैं। और अधिक मसालेदार भोजन शरीर का वजन बढ़ाने में बहुत ही कारगर भूमिका निभाता है।

सर्दी में वजन का बढ़ना : मीठे का सेवन

गर्मियों के मुकाबले सर्दियो में शरीर को अधिक कैलोरी की आवश्यकता होती है। और वैसे भी सर्दियों में मीठा अधिक खाने का मन करता है। ऐसे में शरीर को अधिक कैलोरी मिलती है इसी वजह से वजन बढ़ने लगता है।

सर्दी में वजन का बढ़ना : सर्दियों में मेटाबॉलिज्म बढ़ जाता है

ये तो ठीक बात है कि शरीर मेंं मेटाबॉलिज्म का सही मात्रा में रहना आवश्यक है। मेटाबॉलिज्म ही शरीर की पाचन क्रिया को मजबूत करती है। लेकिन ये भी जानना जरूरी है कि मेटाबॉलिज्म के अधिक हो जाने से वजन घटने की बजाए बढ़ने लगता है।

सर्दी में वजन का बढ़ना : शरीर का सुस्त पड़ जाना

सर्दियों में लोग अक्सर एक्सरसाइज करने से डरते हैं। क्योंकि ठंड इतनी ज्यादा होती है कि लोग घर से निलकने में भी घबराते हैं तो एक्सरसाइज तो दूर की बात है। एक्सरसाइज नहीं करना भी वजन बढ़ने का कारण है।

वजन कम करने के तरीके

एक्सरसाइज करें

सर्दियों में लोग अधिकतर आलस के कारण भी एक्सरसाइज नहीं करते हैं। अगर आप एक्सरसाइज करेंगे तो आपके शरीर से पसीना निकलेगा और फैट बर्न होगा।

पोषक तत्व वाले खाद्य पदार्थ खाएं

सर्दियों में भी फल खाने से न हिचकिचाएं। केला, संतरा सेब आदि खाकर आप अपना वजन कम कर सकते हैं। क्योंकि इसमें  एंटी ऑक्सीडेंट, विटामिन सी और मिनरल्स मौजूद होते हैं। जो आपके शरीर के इम्यून सिस्टम को भी बूस्ट करने में मदद करते हैं।

प्रोटीन का सेवन

अगर आप ठंड के दिनों में प्रोटीन से भरपूर नाश्ते का सेवन करेंगे तो आप मोटापा से बच सकते हैं क्योंकि प्रोटीन से भरपूर भोजन आपके भूख को नियंत्रित करने में सहायक होता है। प्रोटीन वाले आहार से आपको लंबे समय तक उर्जा प्राप्त होती रहेगी और भूख भी कम लगेगा। इससे आपका वजन नियंत्रित होता है।

यह भी पढ़ें