ब्रेकिंग न्यूज़

पृथ्वी-II का परीक्षण सफल – सेना में शामिल हुई एटम बम से लैस विध्वसंक मिसाइल! जानें पाक-चीन क्यों होंगे परेशान

नई दिल्ली – भारतीय सेना में शामिल पृथ्वी-II का सफल परीक्षण सोमवार को उड़ीसा में किया गया। सेना ने मिसाइल का टेस्ट ओडिशा के चांदीपुर स्थित परीक्षण रेंज से किया। ये मिसाइल 2003 में भारतीय सेना का हिस्सा बनी थी। परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम मिसाइल का एक के बाद एक दो बार टेस्ट किया गया। इस खबर से हर भारतीय खुश होगा लेकिन इससे पाकिस्तान और चीन परेशान हो सकते हैं। क्योंकि ये मिसाइल न सिर्फ उनकी रेंज तक हमला करने की क्षमता रखता है बल्कि परमाणु बम ले जाने में भी सक्षम है। Twin trial of prithvi II.

 

पृथ्वी-II मिसाइल की यह हैं खास बातें –

9 बजकर 35 मिनट पर इसे आईटीआर के प्रक्षेपण परिसर से मोबाइल लॉन्चर की मदद से प्रक्षेपित किया गया। इस मिसाइल की ताकत इसकी 350 किलोमीटर तक मारक क्षमता है। इन मिसाइलों की मारक क्षमता 350 किलोमीटर है और वे 500 किलोग्राम से 1000 किलोग्राम तक वजनी हथियार ले जाने में सक्षम है। पृथ्वी-II देश में बनाई गई पहली बैलिस्टिक मिसाइल है। ये सॉलिड और लिक्विड दोनों तरह के इंजन से चलाई जा सकती है। इससे पहले 2016 और 2014 को इसका सफल यूजर ट्रायल हुआ था।

पाकिस्तान और चीन पर बढ़ेगा भारत का दबाव –

इस मिसाइल के आने के बाद भारतीय सेना और भी मजबूत हो चुकी है। वहीं भारत के खिलाफ साजिश रचने वाला पाकिस्तान इस मिसाइल के आने के बाद काफी घबराया हुआ है।

गौरतलब है कि सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से ही पाकिस्तान और चीन दोनों भारत पर दबाव बनाने की फिराक में है। लेकिन भारत अब इन दोनों के आगे झुकने को तैयार नही है और अब इन्हें सबक सिखाने का मन बना चुकी है। शायद यही कारण है की सीमा पर पाकिस्तान जब फायरिंग करता है तो भारत उनको मुंहतोड़ जवाब देता है। लेकिन अब भारत अपनी सैन्य शक्ति को और मजबूत बनाने की तैयारी में जुट गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close