रावण ने अपने अंतिम समय में लक्ष्मण से कही थी ये 6 जरूरी बातें, जो आपके जीवन में भी होती है लागू

जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि विजयदशमी यानी दशहरा का त्यौहार हमारे देश में बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक के रूप में मनाया जाता है इस दिन भगवान श्री राम जी ने रावण का वध किया था और श्री राम जी ने बुराई का अंत करके अच्छाई पर जीत हासिल की थी तभी से दशहरे का त्यौहार बड़ी ही धूमधाम के साथ हमारे देश में मनाया जाता है इसी दिन भगवान विष्णु जी के अवतार श्री राम जी ने रावण का वध किया था रावण महा ज्ञानी पंडित और भगवान शिव का परम भक्त था परंतु रावण के अंदर अहंकार कूट-कूट कर भरा था जिसकी वजह से उसके जीवन की समाप्ति हुई थी जब लंका युद्ध में रावण मृत्यु की कगार पर पहुंच गया था तब मरने से पहले उसने श्री राम जी के प्रिय भाई लक्ष्मण जी को जीवन से जुड़ी हुई कुछ बहुत ही जरूरी बातें बताई थी।

रावण ने मरने से पहले जो बातें श्री राम जी के भाई लक्ष्मण जी को बताई थी यह बातें बहुत ही सही थी यह बातें हर व्यक्ति के जीवन पर लागू होती है इसलिए आपको यह बातें जानना बहुत ही आवश्यक है इन बातों को जानकर आपके जीवन को एक सही मार्गदर्शन मिलेगा और आप अपने जीवन में कभी भी धोखा नहीं खाएंगे जो बातें रावण ने लक्ष्मण को बताई थी आज हम आपको उन्हीं बातों के विषय में जानकारी देने वाले हैं।

आइए जानते हैं रावण ने अपने अंतिम समय में लक्ष्मण को कौन सी बातें बताई थी

  • रावण ने लक्ष्मण को बताया था कि जब भी कोई शुभ कार्य करना हो तो उस कार्य को तुरंत कर लेना चाहिए अन्यथा आपको बाद में पछताना पड़ सकता है जिस प्रकार रावण ने श्री राम जी की शरण में आने में देरी कर दी थी।
  • रावण ने लक्ष्मण को बताते हुए कहा कि कभी भी अपने शत्रु को कमजोर नहीं समझना चाहिए जिस प्रकार मैंने हमेशा से श्री राम जी और महाबली हनुमान जी को समझा था।

  • रावण ने लक्ष्मण को बताया था कि अपने जीवन का कोई भी रहस्य किसी को भी नहीं बताना चाहिए चाहे आपका कोई सगा ही क्यों ना हो अन्यथा आप बहुत बड़ी मुसीबत में आ सकते हैं जिस प्रकार विभीषण रावण की मृत्यु का राज जानते थे।
  • रावण ने लक्ष्मण को बताया था कि अपने आसपास या साथ में काम करने वाले व्यक्तियों और भाइयों से कभी भी दुश्मनी नहीं मोल लेनी चाहिए अन्यथा आपको बहुत बड़ा नुकसान उठाना पड़ सकता है।
  • रावण ने लक्ष्मण को एक बहुत ही अच्छी बात बताई थी कि हमेशा उस व्यक्ति पर विश्वास करना चाहिए जो आपकी आलोचना करता हो यानी हमेशा आपकी तारीफ करने वाला असल में आपका भला चाहता है यह नहीं होता।
  • रावण ने लक्ष्मण को यह बात बताते हुए कहा कि हमेशा खुद को विजेता मानने की गलती बिल्कुल भी नहीं करनी चाहिए भले ही आपकी हर बार जीत ही क्यों ना होती हो।

उपरोक्त यह 6 बातें थी जो रावण ने अपने अंतिम समय में श्री राम जी के भाई लक्ष्मण को कही थी भले ही रावण बुराई का प्रतीक माना जाता है परंतु उसके द्वारा बताई गई बातें बिल्कुल सत्य है और आजकल के समय में हर मनुष्य को इन बातों पर अमल करना चाहिए भले ही रावण अहंकारी था परंतु इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि उससे बड़ा कोई ज्ञानी अभी तक नहीं हुआ है।