सरकार की पहल राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना, बना गरीबों का सहारा

न्यूज़ट्रेन्ड वेब डेस्क: राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना: एक गरीब इंसान अपने खाने के लिए दो वक्त की रोटी भी बड़ी मुश्किल से जुटा पाता हैं, ऐसे में भला वो बीमारी के इलाज का खर्च कैसे उठाएँ क्योंकि उसके पास इतने पैसे ही नहीं होते कि वो अस्पतालो की भारी-भरकम फीस और दवाइयों के खर्च उठा सके। ऐसे में बहुत सारे गरीब इंसान या परिवार सिर्फ इलाज या सही से इलाज ना मिलने के कारण अपनी जान गवां देते हैं। बता दें की वर्तमान समय में मोदी सरकार गरीबों के स्वास्थ्य और उनके इलाज से जुड़ी कई योजना लायी हैं, जिससे की गरीबों को सिर्फ इलाज ना मिलने के कारण अपनी जान ना गवानी पड़े। ऐसे में राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना गरीबो का एक सहारा बन कर आया हैं। बता दें की इस योजना में एक हेल्थ स्मार्ट कार्ड बनाया जाता हैं ताकि इस स्मार्ट हैल्थ कार्ड को दिखा कर देश का कोई भी गरीब अपना इलाज करवा सके।

क्या है राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना

आपकी जानकारी के लिए बता दें राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना की शुरुआत 6 साल पहले ही की जा चुकी हैं, इस योजना में एक हेल्थ स्मार्ट कार्ड बनाया जाता हैं। जिसको कुछ चुने सरकारी और गैर सरकारी अस्पतालों में दिखाने पर आपको इलाज और दवाइयाँ फ्री में मिलती हैं। यह कार्ड परिवार के मुखियाँ के नाम पर बनता हैं और उस घर के पाँच लोगों का स्वास्थ्य बीमा किया जाता हैं और राज्य सरकार बीमा योजना के लिए प्रीमियम भरती है। इस योजना के तहत हर साल एक परिवार चुने हुये अस्पतालो में तीस हजार रुपये तक का इलाज फ्री में करा सकता है।

कहाँ कहाँ मान्य होगी ये सरकारी योजना

बता दें की यह सरकारी योजना देश के सभी 28 राज्य चलायी जा रहा हैं और वो इस योजना में स्वेच्छा से शामिल हुए हैं, राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के जरिए करीब अब तक 13 करोड़ भारतीयों का बीमा किया जा चुका हैं। राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत करीब 60 लाख गरीब लोग अस्पताल में भर्ती होकर अपना इलाज करा चुके हैं। इसके अलावा कुछ राज्य इस स्मार्ट कार्ड के जरिए अन्य सामाजिक सेवाएं भी देने के बारे में सोच रहे हैं ताकि गरीब परिवार भी अपना जीवन सुचारु रूप से चला सके।

कितना मिलेगा फायदा

राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना ने कई गरीब परिवारों की जिंदगी बदल दी हैं, इस योजना का लाभ पाने के लिए किसी भी व्यक्ति के पास गरीबी रेखा के नीचे जी रहे यानि बीपीएल कार्ड का होना जरूरी हैं तभी आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। हालांकि इस सरकारी योजना के बारे में ग्रामीण जनता उतनी जागरूक नहीं हैं इसलिए सरकार उन्हें इस योजना के बारे में जागरूक करना चाहती हैं और इसके लिए सरकार प्रचार-प्रसार करती हैं। इसके अलावा यह योजना कड़ी निगरानी में चलाई जा रही हैं ताकि कोई अन्य व्यक्ति इस योजना का लाभ ना उठा सके और जो इस योजना का लाभ पाने लायक हैं उसे ही इस योजना का लाभ प्राप्त हो। इस योजना के अंतर्गत ऑपरेशन और दवाइयों का भी खर्च वहन किया जाता हैं, ऐसे में सरकार इस योजना को और बेहतर बनाने की कोशिश कर रही हैं ताकि देश के हर नागरिक को अच्छा इलाज मिल सके।

error: Content is protected !!