बॉलीवुड

आज हैं करोड़ो की समपत्ति के मालिक, कभी करते थे 800 रूपए की नौकरी

न्यूज़ट्रेन्ड बॉलीवुड डेस्क: बॉलीवुड के बादशाह कहे जाने वाले अमिताभ बच्चन का आज जन्म दिन है आज अमिताभ बच्चन 76 साल के हो जाएंगे।बॉलीवुड में अमिताभ बच्चन एक ऐसा नाम है जिसके अभिनय ने दर्शकों को अपनी दीवाना बना लिया था और आज के दौर में भी उनके सामने कई कलाकार टिक नहीं पाते हैं।लेकिन अमिताभ जी ने वो दौर भी देखा है जब उनको फिल्मों में काम नहीं दिया जाता था उनकी लंबाई के चलते उनके साथ कोई भी ऐक्ट्रेस काम नहीं करना चाहती थी,आज भी जब वो बोलते हैं तो सबकी नजरें उन पर टिक जाती हैं।लेकिन एक दौर ऐसा भी था, जब जब उनकी आवाज को आकाशवाणी ने नकार दिया था।

बता दें कि अमिताभ ने बॉलीवुड में अपना करियर शुरू करने से पहले ‘आकाशवाणी’ में भी आवेदन किया था लेकिन उनकी आवाज के चलते उनको वहां पर काम नहीं मिला था।यहां तक की उनकी भारी आवाज के कारण ही उनको फिल्म ..रेशमा और ‘शेरा’ में उन्हें मूक भूमिका निभानी पड़ी थी।

800 रुपए की नौकरी से शुरू की थी कमाई:
11 अक्टूबर 1942 को इलाहाबाद में जन्मे अमिताभ बच्चन ने बॉलीवुड में आने से पहले अमिताभ ने कलकत्ता में एक सुपरवाइजर के तौर पर नौकरी की थी, जहां पर उनको 800 रूपए प्रति माह की सैलरी पर रखा गया था ।लेकिन अमिताभ का रूझान अभिनय की तरफ था इसलिए वो साल 1968 में कलकत्ता की नौकरी छोड़ कर मुंबई आ गये।बता दें अमिताभ जी दिलीप कुमार के फैन थे, दिलीप जो को देखकर ही वो उनकी तरह अभिनेता बनना चाहते थे।

बता दें कि अमिताभ बच्चन ने पहली फिल्म साल 1969 में की थी, अमिताभ को ये मौका ख्वाजा अहमद अब्बासी ने अपनी फिल्म सात हिंदुस्तानी से में दिया था।लेकिन ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कोई खासा कमाल नहीं कर पाई जिस वजह से अमिताभ भी इस इंडस्ट्री में खासा कमाल नहीं दिखा पाए।

साल 1971 में अमिताभ बच्चन को राजेश खन्ना के साथ फिल्म आनंद में काम करने का मौका मिला।राजेश खन्ना उस समय फिल्मों में छाये हुए थे, राजेश खन्ना जैसे बड़े सुपरस्टार के साथ काम करते हुए भी अमिताभ ने इस फिल्म के दर्शकों का ध्यान अपनी तरफ खींच लिया था, और इस फिल्म के जरिए उनको इंडस्ट्री में थोड़ी बहुत पहचान मिल गई थी।बता दें इस फिल्म के लिये उन्हें सहायक अभिनेता का फिल्म फेयर पुरस्कार भी मिला था।

इस फिल्म ने बनाई थी अमिताभ की किस्मत:
साल 1973 में आई फिल्म जंजीर अमिताभ के करियर के लिए मील का पत्थर साबित हुई थी।इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा दिया था जिसके बाद इंडस्ट्री में अमिताभ को एक नई पहचान मिल गई थी।जिस अमिताभ को अभी तक कोई जानता नहीं था अब वो सब उन्हीं की बात करने लगे थे। निर्माता प्रकाश मेहरा की फिल्म में अमिताभ को उनकी किस्मत खींच लाई थी।बता दें कि प्रकाश मेहरा अपनी फिल्म के लिए पहले देवानंद के पास गए, वो चाहते थे कि देवानंद इस फिल्म में लीड रोल निभाए, लेकिन किन्ही कारणवश वो ये फिल्म नहीं कर पाए जिसके बाद मेहरा ने राजकुमार से भी फिल्म में काम करने की बात की लेकिन वो भी इस फिल्म में काम नहीं कर पाए जिसके बाद अमिताभ को ये फिल्म मिली, जो उनके करियर के ग्राफ को ऊचाइयों पर ले गई, इस फिल्म के बाद से अमिताभ को इंडस्ट्री में पहचान मिल गई।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close