जानें आपके स्मार्टफोन से निकालने वाला रेडिएशन है कितना खतरनाक, कैसे करें बचाव

स्मार्टफोन तो आज हमारी एक ऐसी जरूरत बन चुकी है जैसे इसके बिना हमारा कोई भी काम हो ही नहीं सकता, कुछ ऐसा समझ लीजिये की आज स्थिति ये है की स्मार्टफोन और खाने में से आपको एक चुनने को दिया जाए तो आपकी पहली असंद स्मार्टफोन ही होगी। असल में देखा जाए तो ये लत नही बल्कि हमारी जरूरत बन चुकी है और हमारी दिनचर्या का लगभग 70 प्रतिशत से ज्यादा काम हमारे स्मार्टफोन से ही होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि हम सभी जो स्मार्टफोन इस्तेमाल कर रहे हैं, वो हमारे लिए कई मायनों में जानलेवा भी साबित हो सकता है।

आप जरूर सोच रहे होंगे की स्मार्टफोन और जानलेवा भला ये कैसे, मगर आपको बता दें की जितने भी मोबाइल फोन या स्मार्टफोन होते हैं उसमें से रेडिएशन निकलता है जो एक सीमा से ज्यादा निकले तो हमारे लिए बहुत ही ज्यादा खतरनाक साबित होता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें की किसी भी स्मार्टफोन से निकलने वाले रेडिएशन के लिए एक अंतराष्ट्रीय स्टार पर मानक तैयार किया गया है क्योंकि यदि आपके स्मार्टफोन से मानक से ज्यादा रेडिएशन निकलता है तो ये ना सिर्फ आपके सेहत पर बुरा असर डालता है बल्कि आपके स्मार्टफोन पर भी बुरा असर डालता है। ऐसे में आपको इस बात की जानकारी होनी चाहिए की आपके स्मार्टफोन से कितना रेडिएशन निकलता है, हालांकि आजकल एक से बढ़कर एक बढ़िया बढ़िया स्मार्टफोन लॉंच हो रहे हैं और तकरीबन सभी कंपनी की तरफ से स्मार्टफोन के बॉक्स पर यह बताती है की इससे निकलने वाले रेडिएशन कितनी है।

गंभीर बीमारियां के हो सकते हैं शिकार

आपको बता दे की मोबाइल फोन में जो रेडिएशन निकलती है उसकी वजह से हमारे दिमाग के साथ-साथ शरीर पर भी काफी ज्यादा हानिकारक असर पड़ता है। इसकी वजह से कोई भी इंसान ब्रेन कैंसर, बहरापन, हार्ट प्रोब्लम जैसी घातक बीमारियां हो सकती हैं।

कितना निकल रहा है रेडिएशन ऐसे करें पता

बताना चाहेंगे की मोबाइल से जो रेडिएशन निकलता है उसे Specific Absorption Rate यानी SAR कहा जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें की भारत में SAR की सीमा 1.6 वॉट प्रति किलो से ज्यादा नहीं होना चाहिए। आपके स्मार्टफोन से SAR की स्थिति जानने के लिए आप अपने स्मार्टफोन से *#07# कोड डायल करना है और फिर तुरंत ही आपको इससे संबंधित सभी जानकारी मिल जाएगी। इस बात का ध्यान रखिएगा की आपके फोन की SAR 1.6 kw से ज्यादा नही होनी चाहिए।

बचाव के तरीके

  • सबसे पहले तो आपको बता दें की स्मार्टफोन से आप दूरी बना नहीं सकते तो ऐसे में कोई ना कोई विकल्प निकालना होगा की किस तारह से आप स्मार्टफोन से निकलने वाले रेडिएशन से बच पाएँ और ऐसे में हर किसी के लिए सबसे पहली सलाह यही रहेगी की जितना हो सके उतना स्मार्टफोन का इस्तेमाल कम करें।
  • सबसे महत्वपूर्ण बात ये की जहां तक संभव हो मोबाइल फोन पर कम से कम बात करें।
  • जहां तक संभव हो सके चाहे ऑफिस या फिर घर में आप लैंडलाइन फोन का इस्तेमाल करें।
  • अगर आप किसी बस, ट्रेन या प्लेन में बैठें हैं तो कोशिश करें की उस दौरान मोबाइल का इस्तेमाल कम ही करें, क्योंकि उस दौरान आपके मोबाइल से निकलने वाला रेडिएशन उस जगह मौजूद धातु की चीजों के जरिए ज्यादा फैलता है।