शनिदेव के प्रकोप से बचने के लिए अपनाएं ये उपाय, शनि देव हो जाएंगे मेहरबान

हिंदू धर्म ग्रंथों में शनि देव को न्यायाधीश की उपाधि दी गई है इसका मतलब शनि देव मनुष्य के अच्छे और बुरे कर्मों के अनुसार ही उसको फल प्रदान करते हैं प्राचीन काल से ही शनि देव को सबसे गुस्सैल देवता के रूप में जाना जाता है अगर शनि देव की कृपा किसी व्यक्ति पर हो जाए तो वह मालामाल हो सकता है अगर शनि देव की टेढ़ी नजर किसी व्यक्ति पर पड़ जाए तो थोड़े समय में ही राजा भी रंक बन सकता है शनि देव क्रोधित स्वभाव और गलती की सजा देने वाले देवता माने जाते हैं हिंदू शास्त्रों में शनि देव को किस्मत सवारने वाला और बिगड़े कार्य बनाने वाला माना गया है।

हिंदू धर्म परंपराओं में दंडाधिकारी माने गए शनिदेव का चरित्र भी असल में कर्म और सत्य को जीवन में अपनाने की ही प्रेरणा देता है पुराणों में शनि देव को खुश करने वाले बहुत से उपायों के बारे में उल्लेख किया गया है अगर आप इन उपायों को करते हैं तो इससे आपको जीवन में सफलता हासिल होगी और सुख सौभाग्य की प्राप्ति होती है आज हम आपको इस लेख के माध्यम से शनिदेव को प्रसन्न करने के कुछ उपायों के बारे में जानकारी देने वाले हैं।

आइए जानते हैं शनिदेव को प्रसन्न करने के उपाय

  • मान्यता अनुसार सूर्य उदय से पहले पीपल की पूजा करने से शनि देव अत्यधिक प्रसन्न होते हैं अगर आप शनिदेव को प्रसन्न करना चाहते हैं तो शनिवार के दिन पीपल के पेड़ की पूजा जरूर कीजिए और उस पर सरसों के तेल में लोहे की कील डालकर अर्पित करें।

  • अगर आप शनिदेव को प्रसन्न करना चाहते हैं तो रविवार का दिन छोड़कर लगातार 43 दिनों तक शनि देव की मूर्ति पर तेल अर्पित कीजिए शनिदेव को प्रसन्न करने का यह उपाय आप शनिवार के दिन से आरंभ कर सकते हैं।
  • अगर आप शनिदेव के क्रोध को शांत रखना चाहते हैं तो इसके लिए शनिवार का व्रत जरूर रखें और काली गाय या भैंस को उड़द, तेल, तिल, नीलम रत्न और ब्राह्मण को काला कंबल कपड़ा या लोहा दान जरूर कीजिए।

  • आप शनिवार के दिन पीपल के पेड़ के चारों ओर 7 बार कच्चा सूत लपेट कर इस दौरान शनि मंत्र का जाप करते रहिए, अगर आप यह उपाय करते हैं तो इससे शनि की साढ़ेसाती की सभी परेशानियां दूर होंगी धागा लपेटने के पश्चात पीपल के पेड़ की पूजा और दीपक जलाना जरूरी है, साढ़ेसाती के प्रकोप से बचने के लिए इस दिन उपवास रखना और नमक विहीन भोजन करना जरूरी होता है।
  • आप शनिवार के दिन बंदरों और कुत्तों को गुड़ और काले चने खिलाए इसके अतिरिक्त केले या मीठी लाई भी खिला सकते हैं अगर आप यह उपाय करते हैं तो शनि देव के अशुभ प्रभाव दूर होंगे।
  • आप किसी भी शनिवार के दिन चोकर सहित आटे की दो रोटियां बनाएं, एक रोटी पर सरसों का तेल और मिठाई रखिये और दूसरी रोटी पर घी लगा लें, अब पहली रोटी एक काली गाय को खिला दीजिए और दूसरी रोटी भी उसी गाय को खिला दें अगर आप यह उपाय करते हैं तो इससे शनि के प्रभाव की वजह से उत्पन्न समस्याएं दूर होंगी।