ASIA CUP: फिर आमने सामने होंगे भारत-पाकिस्तान, जानिए भारतीय टीम क्यों है जीत की प्रबल दावेदार

एशिया कप का रोमांच अपने चरम पर पहुँच गया है। एशिया कप में भारत और पाकिस्तान की भिड़ंत एक बार फिर होने जा रहा है। चिर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान से ये सुपर मैच, एशिया कप के सुपर चार मुकाबले में आज सुपर संडे के दिन खेला जाएगा। लगातार तीन मैचों में तीन जीत के साथ भारत की नजरें अब फाइनल के टिकट पर होगी।

रोहित शर्मा की अगुवाई वाली ये भारतीय टीम जबरदस्त फॉर्म में है। तो वहीं पाकिस्तान अपने ग्रुप स्टेज के मैच में भारत से मात खा चुका है। पाकिस्तानी टीम ने पिछले मैच में भी अफगानिस्तान के साथ महज तीन गेंद रहते तीन विकेट से जीत दर्ज की थी। भारत बनाम पाकिस्तान का मुकाबला भारतीय समयानुसार शाम पॉंच बजे से दुबई के इंटरनेशनल क्रिकेट ग्राउंड पर खेला जाएगा।

आज जीते तो फाइनल में जगह पक्का- भारतीय टीम आज अपने पारंपरिक चीर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान से भिड़ेगा। अगर आज जीतते हैं तो भारत का ये 10 वां एशिया कप फाइनल होगा। एशिया कप में भारतीय टीम 9 बार फाइनल में पहुँची है जिसमें से 6 बार खिताब अपने नाम किया है। भारतीय टीम एशिया कप में हमेशा से प्रबल दावेदार रही है।

हालांकि आज हारने वाली टीम को सुपर चार के अपने अंतिम मुकाबले में जीत दर्ज करनी होगी। तभी फाइनल का टिकट मिल सकता है। चार दिन पहले ही भारत ने पाकिस्तान को 8 विकेट से करारी शिकस्त दी थी। लेकिन भारतीय टीम पाकिस्तान को कतई हल्के में नहीं लेगी। एशिया कप में दस साल बाद ऐसा होगा कि दोनों टीमें दूसरी बार इस टूर्नामेंट में भिड़ेंगी। दस साल पहले 2008 में एशिया कप में दोनों टीमें दो बार भिड़ी थीं। जिसमें पहले मुकाबले में तो भारत ने पाकिस्तान 6 विकेट से हरा दिया था। लेकिन दूसरी बार पाकिस्तान ने 8 विकेट से जीत दर्ज की थी। तो इसे देखते हुए भी भारत पाकिस्तान को हल्के में लेना नहीं चाहेगा।

एशिया कप में अब तक भारत का दमदार प्रदर्शन- भारतीय टीम ने पूरी एकजुटता के साथ तीनों मैचों में अब तक प्रदर्शन किया है। और तीनों ही मैचों में शानदार जीत दर्ज की। हांग कांग के विरूद्ध अपने पहले मैच भारत थोड़ा लड़खड़ा गया था लेकिन अंत में जीत दर्ज की। उसके बाद पाकिस्तान को 8 विकेट से धूल चटाया और सुपर चार के पहले मुकाबले में बांग्लादेश को 7 विकेट से रौंद कर अपना दबदबा कायम रखा है।

सभी डिपार्टमेंट में मजबूत- भारतीय टीम चाहे  बल्लेबाजी हो या गेंदबाजी अपने प्रदर्शन में कोई कमी नहीं दिखा रही है। उम्मीद के अनुसार टीम बल्लेबाजी गेंदबाजी के अलावा फिल्डिंग में भी अब तक शानदार प्रदर्शन किया है।

ओपनिंग जोड़ी फॉर्म में- रोहित शर्मा तीनों ही मैचों में बेहतरीन फॉर्म में नजर आए हैं, बांग्लादेश के खिलाफ मैच में 83 रनों की शानदार पारी खेली और टीम को जीत दिलाया। जबकि उनके पार्टनर शिखर धवन भी अच्छे फॉर्म में लग रहे हैं। हांग कांग के अलावा अगले दोनों मैचों में भी टीम को अच्छी शुरूआत दिलाई है।

मध्यक्रम भी मजबूत- रायूडू ने इस टूर्नामेंट में अच्छी फॉर्म दिखाई है। जबकि कार्तिक ने भी पाकिस्तान के खिलाफ 31 रन का योगदान दिया था। जबकि धोनी ने बांग्लादेश के खिलाफ क्रीज पर कुछ समय बिताय और 33 रनों की अनुभवी पारी खेली। वहीं केदार जाधव ने भी बल्लेबाजी के साथ गेंदबाजी में भी अपने जलवे बिखेरे हैं।

जडेजा की वापसी- जडेजा ने बेहतरीन वापसी की है। बांग्लादेश के खिलाफ चार विकेट लेकर दिखा दिया कि अभी भी वे टीम के लिए एक अच्छे आलराउंडर की भूमिका निभा सकते हैं।

गेंदबाजी में दम- भुवनेश्वर और बुमराह टीम के मुख्य तेज गेंदबाज जबकि कलाई के दो जादूगर कुलदीप और चहल भी अपनी गेंदबाजी से किसी भी बल्लेबाज को परेशान करने का माद्दा रखते हैं। केदार और जडेजा टीम के लिए अलग से विकल्प हैं।