प्रधानमंत्री मोदी ने कहा गंगा में चवन्नी डालने वाले अब लाखों डाल रहे हैं!

गंगा में चवन्नी डालने वाले अब लाखों डाल रहे हैं: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने तीन दिवसीय दौरे के लिए जापान गए हुए हैं। वहाँ उन्होंने भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत देश अब तेजी से आर्थिक वृद्धि कर रहा है। देश की गरीब जनता ने अमीरी दिखाते हुए बैंकों के खातों में लगभग 45 हजार करोड़ रुपये जमा किये हैं।

गंगा में चवन्नी भी डालने में दो बार सोचते थे

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में जो लोग पहले गंगा में चवन्नी भी डालने में दो बार सोचते थे आज उनके घर से लाखों रुपये निकल रहे हैं, पकड़े जाने के डर से कई लोगों ने अपने काले धन को नदियों में भी फेंक दिया है।

देश में बढ़ते काले धन के प्रकोप-

आपको बता दें पिछले दिनों देश में बढ़ते काले धन के प्रकोप को रोकने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने कड़ा कदम उठाते हुए मंगलवार की रात को यह घोषणा की कि अब से पुराने 500 और 1000 के नोट बंद किये जायेंगे। इसकी जगह अब नए 500 और 2000 के नोट बाजार में चलन के लिए आ गए हैं और कुछ ही दिनों में 1000 के नोट को भी लाने की तैयारी की जा रही है। प्रधानमंत्री की इस घोषणा के बाद से देश में काला धन रखने वालों की तो जैसे साँसे ही रुक गयी हो। सभी अपने- अपने धन को छुपाने के चक्कर में पड़े हुए हैं।

अभी पीछले दिनों यह भी खबर आयी थी कि कई लोग अपने काले पैसे को किसी सुनसान जगह पर ले जाकर जला दे रहे हैं ताकि पकड़े ना जा सकें। काले धन के साथ पकड़े जाने पर सरकार का नियम थोडा कड़ा है। इसी बात को प्रधानमंत्री मोदी ने जापान में रह रहे भारतीय समुदाय के लोगों को बताई और कहा कि इससे निश्चित तौर पर देश में विकास की गति तेज हो जाएगी।

आपको बता दें प्रधानमंत्री के इस फैसले से देश के कई लोगों में दुख का आलम छाया हुआ है और वहीँ कई लोग खुशियाँ मना रहे हैं। लेकिन जो भी हो इस कदम से देश की गरीब जनता को काफी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ रहा है। कई राजनीतिक पार्टियां  जिन  पर  काल  धन  रखने  का  आरोप  है वो  प्रधानमंत्री मोदी के इस कदम की कड़े शब्दों में आलोचना भी कर रहे हैं .

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.