ये बाबा गर्म दूध से नहाकर करता है भविष्यवाणी, देखकर सभी लोगों की आंखें रह जाती है खुली की खुली

अगर हम दुनिया की बात करें तो इस दुनिया में आपको ऐसे बहुत से अजीब-गरीब लोग मिल जाएंगे जिन लोगों को देखकर आपको काफी हैरानी होगी यह लोग दुनिया के सामने अपने आपको लाने के लिए सभी हदें पार कर देते हैं बहुत से लोग ऐसे हैं जो बर्फ के ऊपर घंटो तक सो जाते हैं और बहुत से लोग तो ऐसे हैं जो आग के ऊपर ही चलने लगते हैं यह सभी लोग ऐसा इसलिए करते हैं ताकि सारी दुनिया इनको जानने लगे और यह दुनिया भर में मशहूर हो जाए इसलिए यह अजीबो-गरीब हरकत करते रहते हैं शायद आप भी ऐसे बहुत से लोगों को जानते होंगे जो इसी तरह की अजीब हरकतें करते रहते होंगे उनको देखकर आपको थोड़ा अजीब भी लगता होगा आज हम आपको इसी तरह के एक ऐसे बाबा से मिलवाने वाले हैं जो गर्म दूध से नहाते हैं और भविष्यवाणी करते हैं।

जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं कि दूध पीना हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी सेहतमंद होता है और बहुत से लोग अपनी सेहत बनाने के लिए गर्म दूध का सेवन करते हैं परंतु आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि एक बाबा उबलते हुए दूध से स्नान करते हैं? आपको यह बात सुनकर अवश्य हैरानी हो रही होगी लेकिन यह बात बिल्कुल सत्य है दरअसल यह बाबा सिर्फ गर्म दूध से नहाते ही नहीं है बल्कि नहाने के पश्चात यह भविष्यवाणी भी करते हैं यह घटना उत्तर प्रदेश के सोनभद्र से सामने आई है।

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में यह बाबा गोवर्धन पूजा के समय गर्म दूध से स्नान करते हैं यह नजारा देखकर लोग काफी हैरान हो जाते हैं बहुत से व्यक्तियों ने तो बाबा को मनाने का प्रयत्न भी किया परंतु बाबा तो अपनी ही धुन में लगे हुए थे और उन्होंने गर्म दूध करवाया और उससे नहाना आरंभ कर दिया वहां पर खड़ी लोगों की भीड़ बाबा के इस कारनामे को देखती रह गई उन लोगों को कुछ भी समझ में नहीं आ रहा था कि वह क्या करें? बाबा रुकने का नाम ही नहीं ले रहे थे दरअसल सोनभद्र में एक पुरातन परंपरा काफी समय से चली आ रही है इस परंपरा के तहत लोग गोवर्धन पूजा में एक वीर लोरिक पत्थर का पूजन करते हैं इसके पूजन के वक्त दूध गर्म किया जाता है और पूजन के पश्चात पुजारी इस गर्म दूध से खुलेआम स्नान करता है इस बार के गोवर्धन पूजा में गर्म दूध से स्नान करके बाबा ने 2019 चुनाव के परिणाम की भविष्यवाणी करके लोगों को हैरत में डाल दिया है।

दरअसल जैसे जैसे समय बीतता जा रहा है इस तरह की चीजों पर रोक लगने लगी है क्योंकि यह चीजें व्यक्ति के लिए काफी खतरनाक होती है इनकी वजह से व्यक्ति की जान भी जाने का खतरा रहता है सोनभद्र के स्थानीय व्यक्तियों का कहना है कि उनके यहां लोरिक पत्थर के पूजन की परंपरा लगभग पिछले 5000 वर्षों से चली आ रही है इस परंपरा के अंतर्गत पुजारी और यजमान दोनों को ही उबलते हुए दूध से नहलाया जाता है ऐसा माना जाता है कि ईमानदार और सच्चे व्यक्ति के शरीर को गर्म दूध किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं पहुंचा पाता है शायद यही वजह हो सकती है कि इस बाबा को गर्म दूध के स्नान करने के पश्चात भी किसी प्रकार का नुकसान नहीं होता है।