कप्तान कोहली और मीराबाई को इस साल मिल सकता है खेल रत्न, हुई है पुरस्कार के लिए सिफ़ारिश

नई दिल्ली: भरतिय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और भरोत्तोलक मीराबाई चानू के नाम की सिफ़ारिश देश के सबसे बड़े खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न के लिए की गयी। बता दें अर्जुन पुरस्कार की 20 खिलाड़ियों की लिस्ट में भालाफेंक स्टार नीरज चोपड़ा के नाम को भी शामिल किया गया है। जानकारी के अनुसार अर्जुन पुरस्कार के लिए चोपड़ा के अलावा हिमा दस और एशियाई खेलों में सवर्ण पदक जीतने वाले माध्यम दूरी के धावक जिन्सन जॉनसन, क्रिकेटर स्मृति मंदाना, हॉकी खिलाड़ी मनप्रीत सिंह एवं सविता पुनिया, टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा और रोहन बोपन्ना के नाम की सिफ़ारिश की गयी है।

आपको बता दें अभी इन सिफ़ारिशों को खेल मंत्रालय से मंज़ूरी मिलना बाक़ी है। एकि बार मंत्रालय से अनुमोदित होने के बाद 25 सितम्बर को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद राष्ट्रपति भवन में पुरस्कार से सम्मानित करेंगे। अगर मंत्रालय चयन समिति की सिफ़ारिशों को मान लेता है तो कप्तान कोहली खेल रत्न पाने वाले तीसरे भारतीय क्रिकेटर होंगे। इससे पहले यह पुरस्कार सचिन तेंदुलकर (1997) और महेंद्र सिंह धोनी (2007) को मिल चुका है। इस पुरस्कार की चयन समिति से जुड़े एक सूत्र से पता चला है कि, चयन समिति ने विराट कोहली और मीराबाई चानू के नाम की सिफ़ारिश की है।

चोट की वजह से नहीं ले पायी थीं एशियाई खेलों में हिस्सा:

सूत्र से यह भी जानकारी मिली है कि बैडमिंटन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत भी इस दौड़ में शामिल थे। उन्होंने पिछले साल सुपर सीरीज़ में बेहतरीन प्रदर्शन किया था, लेकिन मीराबाई चानू से पिछड़ गए। बता दें पिछले साल मीराबाई चानू ने विश्व चैम्पियनशिप में 48 किग्रा वर्ग में सवर्ण पदक जीता था। इसी वजह से इस पुरस्कार के लिए इनके नाम की सिफ़ारिश की गयी है। राष्ट्र्मंडल खेलों में भी इन्होंने अपना जलवा दिखाया था, लेकिन चोट की वजह से एशियाई खेलों में हिस्सा नहीं ले पायीं। अर्जुन पुरस्कार के लिए एशियाई खेलों में सवर्ण पदक जीतने वाले अमित पंघाल के नाम की अर्जुन पुरस्कार के लिए चर्चा की गयी थी।

25 सितम्बर को किया जा रहा है आयोजन:

लेकिन आपको बता दें 2012 में डोपिंग के एक मामले में इनका नाम आ चुका था, इसलिए इनके नाम को ख़ारिज कर दिया गया। एशियाई खेलों के पूर्व कांस्य पदक विजेता और राष्ट्र्मंडल खेलों के रजत पदक विजेता सतीश कुमार इस सूची में इकलौते मुक्केबाज़ हैं। इस सूची में तीन निशानेबाज़ राही सरनोबत, अंकुर मित्तल, और श्रेयसी सिंह का नाम शामिल है। बता दें एशियाई खेलों की वजह से इस साल पुरस्कार समारोह का यह आयोजन राष्ट्रीय खेल दिवस 29 अगस्त की बजाय 25 सितम्बर को किया जाएगा।

कोहली को मिल चुका है पद्मश्री:

आपकी जानकारी के लिए बता दें खेल पुरस्कारों के लिए चुने गए खिलाड़ियों को साढ़े सात लाख और अर्जुन पुरस्कार के खिलाड़ियों को 5 लाख रुपए पुरस्कार में दिया जाता है। कप्तान कोहली की बात करें तो इस समय आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में ये बल्लेबाज़ों की लिस्ट में शीर्ष पर हैं। इनके नाम की सिफ़ारिश 2017 में भी की गयी थी, लेकिन चयन समिति में उनके नाम पर सहमति नहीं बन पायी। कोहली उन चुने हुए खिलाड़ियों में से हैं जिन्हें खेल रत्न पुरस्कार से पहले पद्म श्री पुरस्कार मिल चुका है। पीठ की चोट से उबरकर आयी मीराबाई को 2020 में टोक्यो में होने वाले ओलम्पिक से काफ़ी उम्मीदें हैं।

खेल रत्न के लिए सिफ़ारिश नाम:

विराट कोहली (क्रिकेट) और मीराबाई चानू (भरोत्तोलन)

अर्जुन पसरकर के लिए सिफ़ारिश नाम:

नीरज चोपड़ा (एथलेटिक्स), जिन्सन जॉनसन (एथलेटिक्स), हिमा दास (एथलेटिक्स), एन सिक्की रेड्डी (बैडमिंटन), सतीश कुमार (मुक्केबाजी), स्मृति मंधाना (क्रिकेट), शुभंकर शर्मा (गोल्फ) और मनप्रीत सिंह (हॉकी), सविता (हॉकी), रवि राठौड़ (पोलो), राही सरनोबत (निशानेबाजी), अंकुर मित्तल (निशानेबाजी), श्रेयशी सिंह (निशानेबाजी), मनिका बत्रा (टेबल टेनिस), जी सथियान (टेबल टेनिस), रोहन बोपन्ना (टेनिस), सुमित (कुश्ती), पूजा काडिया (वुशु), अंकुर धामा (पैरा एथलेटिक्स), मनोज सरकार (पैरा बैडमिंटन)।