अशोक गहलोत ने बोला भाजपा पर हमला, कहा-नहीं चलने वाला इस बार मोदी का जादू

जयपुर: राजस्थान में इसी साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। इसके मद्देनज़र भाजपा और कांग्रेस ने एड़ी-चोटी का ज़ोर लगाना शुरू कर दिया है। दोनो ही पार्टियाँ अपनी-अपनी उपलब्धियाँ गिनाने में जुटी हुई हैं। वहीं दोनो एक दूसरे के ऊपर हमला करने से भी बाज़ नहीं आ रही हैं। जहाँ भाजपा कांग्रेस के 70 सालों का हवाला देती रहती है, वहीं कांग्रेस भी अपने तरीक़े से भाजपा पर हमला बोलने से नहीं चूकती है। हाल ही में कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत ने भाजपा पर जमकर हमला किया है।

लगातार कई राज्यों में भाजपा ने दर्ज की जीत:

अशोक गहलोत ने भाजपा पर हमला करते हुए सोमवार को कहा कि आगामी चुनावों में प्रधानमंत्री का जादू नहीं चलने वाला है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ समय में मोदी का ग्राफ़ तेज़ी से नीचे गिरा है। आपको बता दें भाजपा ने जब 2014 में लोकसभा चुनाव में पूर्ण बहुमत से जीत हासिल की थी, तब कहा जा रहा था कि यह किसी और नहीं बल्कि मोदी के जादू की वजह से सम्भव हुआ है। 2014 के बाद से भाजपा ने लगातार कई राज्यों में अपनी जीत दर्ज की है। भाजपा का लक्ष्य है कि वह भारत को कांग्रेस मुक्त बना दे।

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के राजस्थान दौरे की चर्चा करते हुए अशोक गहलोत ने कहा कि अमित शाह वसुंधरा राजे सरकार के काम और प्रदर्शन का ज़िक्र नहीं कर रहे हैं, बल्कि पीएम मोदी के नाम पर वोट माँग रहे हैं। गहलोत ने आगे कहा कि इस बार मोदी का जादू नहीं चलने वाला है। उनका समय अब गया। मोदी का ग्राफ़ बहुत तेज़ी से नीचे आया है। राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि, इस बात में कोई आश्चर्य नहीं है कि आने वाले चुनाव में इनका सफ़ाया हो जाए।

बिना वजह कांग्रेस नहीं खड़ा करना चाहती कोई विवाद:

आने वाले चुनावों में महागठबंधन के बारे में बोलते हुए अशोक गहलोत ने कहा कि देशहित में जनता का कांग्रेस सहित सभी राजनीतिकि दलों पर दबाव बनेगा और उन्हें एक मंच पर आना ही पड़ेगा। इससे फाँसीवाद के ख़तरों से निपटने में मदद मिलेगी। हालाँकि अभी इसके बारे में सभी बातचीत शुरुआती चरण में ही है। राफ़ेल विमान सौदे के बारे में बोलते हुए गहलोत ने कहा कि, कांग्रेस ना ही विमान ख़रीदने के ख़िलाफ़ है और ना ही वह बिना वजह कोई विवाद खड़ा करना चाहती है। उन्होंने कहा कि पार्टी तो केवल इसमें हुए घपले और भ्रष्टाचार की बात कर रही है, जिसका जवाब भाजपा को देना चाहिए।

अगला चुनाव जीते तो 50 साल तक करेंगे राज:

आपकी जानकारी के लिए बता दें भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा था कि अगला चुनाव जीते तो 50 साल तक राज करेंगे। अमित शाह के इस बयान पर गहलोत ने कहा कि उनके इस बयान में निहित ख़तरे को देश और देश की जनता को समझना होगा। गहलोत ने आगे कहा कि लोकतंत्र की धुरी सत्ता का विकेंद्रीकरण है, लेकिन इस समय देश में दो ही चेहरे (पीएम मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह) पूरे देश पर राज कर रहे हैं। गहलोत ने नोटबंदी को भी भाजपा की मोदी सरकार का बड़ा घोटाला बताया है।