स्वास्थ्य

प्रेगनेंसी में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं, अभी जानिए

हमारे भारत में औरत को देवी और जननी का रूप माना जाता है. इसका एकमात्र कारण यह है कि केवल एक औरत ही संतान पैदा करके पीढ़ी को आगे बढ़ा सकती है. माँ बनना हर औरत के लिए एक सुनहरी ख्वाब की तरह होता है. एक तरह से देखा जाए तो बच्चे के जन्म के बाद हर महिला का दूसरा जन्म होता है. प्रेगनेंसी के 9 महीनों के दौरान हर औरत को सतर्कता से रहना पड़ता है. ऐसे में किसी भी गर्भवती महिला के लिए अच्छा खान-पान होना बेहद जरूरी है. यदि आप एक महिला हैं तो गर्भवस्था में आपके मन में सबसे पहला प्रश्न एक ही उठता होगा कि प्रेगनेंसी में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं? क्यूंकि कोख में पल रहे बच्चे के अच्छे स्वस्थ्य के लिए अच्छा एवं पोष्टिक आहार बहुत मायने रखता है. ऐसे में गलत खाने के चलते कईं बार माँ और बच्चे दोनों की जान को खतरा बन सकता है.

दरअसल गर्भावस्था के दौरान कोख में पल रहे बच्चे के संपूर्ण विकास एवं अच्छी सेहत के लिए हर महिला को संतुलित एवं पौष्टिक भोजन की जरूरत रहती है. डॉक्टर के अनुसार एक गर्भवती महिला को बाकी अन्य महिलाओं के मुकाबले अधिक कैलोरी की आवश्यकता होती है इससे माँ और बच्चा दोनों स्वस्थ्य रहते हैं.

प्रेगनेंसी में क्या खाना चाहिए?

1. गर्भावस्था के दौरान एक औरत जो कुछ भी खाती है उसका सीधा असर उसके पेट में पल रहे बच्चे पर पड़ता है इसलिए कुछ भी खाने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से सलाह विमर्श जरूर कर लें और उल्टा खाने पीने से सतर्क रहें. तो चलिए जानते हैं आंखें गर्भावस्था के दौरान किसी भी महिला को क्या-क्या खाना चाहिए:

2. प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को अधिक से अधिक पानी पीना चाहिए ताकि उनके शरीर के सभी अंगों को भरपूर पोषण मिल सके. कोशिश करें कि गर्मी के मौसम में जितना अधिक हो सके उतना पानी पिए. आप चाहे तो ताजा फलों का जूस या नारियल पानी भी पी सकते हैं. पानी पीने से पहले एक बात का खास ख्याल रखें कि आप जो पानी पी रहे हैं वह कीटाणु रहित होना चाहिए इसलिए कोशिश करें कि आप जब भी पानी पिए तो उबाल कर ही पिए.

3. बहुत सी महिलाओं को प्रेगनेंसी की शुरुआत में ही खून की कमी महसूस होने लगती है ऐसे में आप नेचुरल तरीके से खून बढ़ाने के लिए अपनी डाइट में कुछ जरूरी फूड शामिल कर सकते हैं जैसे कि मछली, ब्रोकली, अंडे की जर्दी, पालक, सोयाबीन , जामुन आदि.

4. प्रेगनेंसी के दौरान विटामिन सी से भरपूर चीजें खाएं जैसे कि खट्टे फल :संतरा, मौसमी, आंवला आदि.

5. प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं के शरीर में बदलाव होते रहते हैं ऐसे में आलू, चावल और ब्रेड आदि खाना उनके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है क्योंकि इन सभी चीजों में कार्बोहाइड्रेट्स उचित मात्रा में मौजूद रहती है जो कि महिलाओं में ऊर्जा के स्तर को बढ़ावा देती है. मगर इन चीजों को ज्यादा खाने से बचें क्योंकि इससे आपका वजन भी अधिक बढ़ सकता है.

प्रेगनेंसी में क्या ना खाएं?

-गर्भावस्था के दौरान कच्चा खाना खाने से परहेज करें क्योंकि इन खानों में वायरस और बैक्टीरिया अधिक मात्रा में होते हैं जो किसी शुरू और मां दोनों के लिए हानिकारक साबित हो सकते हैं.

-समुद्री भोजन में ओमेगा-3 जैसे फैटी एसिड भारी मात्रा में मौजूद रहते हैं जो कि बच्चे के दिमाग के लिए नुकसानदेह साबित हो सकते हैं इसलिए केकड़ा, शार्क, सालमन फिश आदि से परहेज करें.

-किसी भी फलियां सब्जी को बिना छुए कभी ना खाएं क्योंकि इन सब्जियों और फलों में कई तरह के बैक्टीरिया मौजूद रहते हैं जो कि शरीर में प्रवेश करके आपके बच्चे के लिए जानलेवा साबित हो सकते हैं.

-गर्भावस्था के दौरान एल्कोहलिक पदार्थों एवं धूम्रपान से बचें क्योंकि इन चीजों का सेवन करने से आपका गर्भपात भी हो सकता है.

Show More
Back to top button