दुबलेपन से हैं परेशान तो इससे छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय

दुनिया के 70 प्रतिशत लोग वजन बढ़ने से परेशान हैं। यह परेशानी वर्तमान जीवन के खानपान और लाइफस्टाइल की वजह से हो रही है। जबकि ठीक इसके उलट तकरीबन 20 प्रतिशत लोग दुबलेपन के शिकार हैं। अनुमानित सिर्फ 10 प्रतिशत लोग ही हेल्दी डाइट इन्जॉय कर रहे हैं। और दुबलेपन या मोटापे का शिकार नहीं हैं। शरीर में अगर कमजोरी आ जाए तो इससे बाहरी हिस्से में सबसे पहले कमजोरी दिखती है। जबकि शरीर का आंतरिक हिस्सा भी लगातार कमजोर होता जाता है। लेकिन सबसे ज्यादा प्रभावित आपकी मांसपेशियां होती हैं जो कमजोर हो जाती हैं। इससे आपकी मांसपेशियां कमजोर होने लगती हैं। दुबलापन को कई लोग एक प्रकार की बीमारी बताते हैं। शरीर इतना दुबला कि जरूरी हिस्से में भी फैट न हो तो समझिए आप दुबलेपन के बीमारी से गुजर रहे हैं।

 

क्यों होता है दुबलापन- दुबलापन शरीर में कीटाणुओं, जीवाणुओं, रोगाणुओं के रासायानिक प्रभाव से होता है। दुबलापन शरीर के थायराइड ग्रंथि पर भी निर्भर करता है। यह ग्रंथि जिस व्यक्ति का जितना ही कमजोर और छोटा होगा वह व्यक्ति उतना ही कमजोर और पतला होता जाएगा। कभी कभी देखा होगा कि दुबले लोग सेहतमंद लोगों से भी ज्यादा खाना खाते हैं, लेकिन उनका दुबलापन नहीं जाता। दुबले लोगों का इम्यून सिस्टम भी कमजोर होता है और बीमारियों के चपेट में भी जल्दी आते हैं। दुबले लोग किसी भी मौसम के साथ जल्दी से तालमेल नहीं बिठा पाते और उसे सहन करने में कमजोर होते हैं।

दुबलेपन का लक्षण-

  • शरीर में सुस्ती- किसी भी काम को करने से पहले ही उसे छोड़ देंगे क्योंकि शरीर में शक्ति नहीं रहेगी। आप हमेशा अपने आप को सुस्त महसूस करेंगे। हमेशा नींद या सोने का मन करेगा। इसकी वजह है शरीर में उर्जा का न होना।
  • मौसम से तालमेल नहीं- मौसम से तालमेल नहीं बिठा पाएंगे । जैसे कि सर्दी में ज्यादा ठंड लगना और बीमार रहना। इसके अलावा गर्मा के मौसम में अधिक गर्मी लगना। ये सभी दुबलेपन के लक्षण हैं।
  • चिड़चिड़ापन और हताशा
  • चेहरे में निखार नहीं रहेगा
  • थकावट- किसी भी काम को करने से जल्दी जल्दी थकने लगेंगे। ऐसा शरीर में उर्जा और जरूरी पोषक तत्वों की कमी के कारण होता है।
  • लंबाई के अनुपात में वजन का कम होना

दुबलेपन का कारण- 

  • दुबले लोगों में आहार रस का निर्माण कम मात्रा में होता है। आहार रस के निर्माण में कमी के कारण शरीर में रक्त मांस, हड्डी आदि को संपूर्ण पोषक तत्व नहीं मिल पाता और शरीर लगातार पोषक तत्वों की कमी से दुबला होता जाता है।
  • पाचन शक्ति में कमजोरी- दुबले लोगों की पाचन शक्ति बहुत ही कमजोर होती है।
  • मानसिक तनाव- जीवन में किसी भी तरह का अगर मानसिक तनाव है तो आप दुबलेपन का शिकार हो सकते हैं। क्योंकि मानसिक तनाव एक ऐसी चीज है जिससे शरीर को आहार भी ठीक ढंग से नहीं मिल पाता। जिससे शरीर में पोषक तत्वों की कमी हो जाती है और शरीर दुबलेपन का शिकार हो जाता है।
  • हार्मोन का असंतुलन
  • बीमारी- अगर आपको किसी भी तरह की बीमारी जैसे डायबीटिज, एनिमीया या अन्य कोई भी बीमारी है तो ये भी दुबलेपन का कारण हो सकता है।

दुबलेपन को दूर भगाने के घरेलू उपाय- 

  • अखरोट- अगर आप दुबलेपन से गुजर रहे हैं तो अखरोट का सेवन आपके लिए फायदेमंद हो सकता है क्योंकि इसमों मोनोफैट पाया जाता है। जो दुबलेपन को दूर भगाने में सहायक है।
  • केला- केले को संपूर्ण आहार माना जाता है। इसमें कई तरह के पोषक तत्वों का समावेश होता है जो आपको दुबलेपन से दूर रखेगी।
  • आलू- आलू को कार्बोहाईड्रेट का खजाना माना जाता है । इसे खाकर जल्द ही वजन बढ़ाया जा सकता है।
  • भरपूर नींद- भरपूर नींद स्वस्थ शरीर के लिए आवश्यक है।
  • नारियल और किशमिश
  • मांंसाहार- अगर आपको मांसाहार करने से किसाी प्रकार का परहेज न हो तो अंडे और चिकन का सेवन करें ये आपको दुबलेपन से दूर करेंगे।
  • बीन्स- इसमें पौषिटकता के साथ कैलोरी की मात्रा भी होती है। ये भी फायदेमंद है।
  • शरीफा- शरीफा में मौजूद औषधिय गुण वजन बढ़ाने में सहायक है। यह आपको कई तरह की बीमारियों से भी दूर रखता है।