बॉलीवुड की इस अभिनेत्री के सबसे बड़े फैन थे अटल जी, इस फिल्म को देखा था 25 बार

भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज और भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई को 11 जून को यूरिन इंफैक्शन के कारण दिल्ली के एम्स में एडिमिट किया गया था. इसके बाद 15 अगस्त की रात में उन्हें लाइफ सपोर्ट पर रखा गया था जो अगले दिन यानि 16 अगस्त तक वैसे ही लाइफ सपोर्ट पर रहे लेकिन इसी दिन शाम 5 बजकर 5 मिनट उन्होंने प्राण त्याग दिए. जिसके बाद पूरा देश शोक में डूब गया और हर जगह से व्यक्ति अपना दुख सोशल मीडिया पर लगातार व्यक्त किया जा रहा है. अटल जी देश के दिग्गज लीडर के साथ-साथ एक साहित्यकार, कवि और पत्रकार भी थे इसके अलावा वे फिल्मों के भी शौकीन रहे हैं. फिल्मों से भी उनका गहरा नाता रहा है और क्या आपको पता है कि वे हिदी सिनेमा की मशहूर एक्ट्रेस और बीजेपी की मथुरा से सांसद हेमा मालिनी के बहुत बड़े फैन थे. बॉलीवुड की इस अभिनेत्री के सबसे बड़े फैन थे अटल जी और उनकी इस फिल्म को उन्होंने दस या बीस बार नहीं बल्कि 25 बार देखी.

बॉलीवुड की ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी ने बहुत सारी सुपरहिट फिल्मों में काम किया और उन्हें पूरा भारत बहुत पसंद करता है. उन दीवानों में हमारे दिग्गज पॉलीटिकल लीडर अटल बिहारी बाजपेई भी थे जिन्होंने हेमा की लगभग हर फिल्म देखा और पसंद भी किया. अटल जी को हेमा मालिनी की साल 1972 में आई फिल्म सीता और गीता बहुत ज्यादा पसंद थी और अक्सर वे उस फिल्म को वे देखा करते थे. जब फिल्म रिलीज हुई थी तब उन्होंने उसे 25 बार सिनेमाघर में देखा. उन्हें फिल्म में हेमा का डबल रूप बहुत पसंद आया था. इस बात का खुलासा खुद हेमा मालिनी ने किया था.

आपको बता दें कि फिल्म सीता और गीता का रमेश सिप्पी ने निर्देशन किया था और इसमें हेमा के डबल रोल के अलावा संजीव कुमार और धर्मेंद्र मुख्य भूमिका में थे. इस बात का खुलासा करते हुए हेमा ने बताया था, ”मुझे याद है कि जब एक बार मैंने पदाधिकारियों से कहा कि मैं अपने भाषणों में अटल जी का जिक्र करती हूं लेकिन उनसे कभी नहीं मिली, मिलवाइए. इसके बाद मुझे अटल जी से मिलवाने ले जाया गया, मुझसे पहली बार मिलने में अटल जी हिचकिचा रहे थे. इस पर मैंने वहां मौजूद एक महिला से पूछा कि क्या बात है, अटल जी ठीक से बात क्यों नहीं कर रहे तो उन्होंने बताया कि वे आपके बहुत बड़े फैन हैं और उन्होंने आपकी फिल्म सीता और गीता को 25 बार देखा है. आज अचानकर आपको सामने देखकर कुछ कह नहीं पा रहे.”

अटल जी को ग्वालियर में स्थित बहादुरा के बूंदी के लड्डू और दौलतगंज की मंगौड़ी बेहद पसंद थे और स्वादिष्ट खाने के वे बहुत खासा लगाव रखते थे. अटल बिहारी बाजपेयी को शाकाहारी की जगह मांसाहारी खाना भी बहुत ज्यादा पसंद था जिसमें वे झींगा मछली खाना बहुत पसंद करते थे. वो अक्सर प्रॉन की डिश खाते थे और अटल जी अक्सर भांग का सेवन भी करते थे. उनके लिए खास तौर उज्जैन से भांग मंगाई जाती थी, इसके साथ ही वे मिठाई के भी दीवाने थे. प्रधानमंत्री बनने के बाद भी वे ग्वालियर जाकर लड्डू, जलेबी और कचौड़ी का सेवन करते रहते थे.