चंद्रग्रहण 2018: राशि अनुसार करें इन चीजों का दान, बिना मांगे पूरी होगी हर मुराद

27 से 28 जुलाई तक भारत में सदी का सबसे बड़ा चंद्रग्रहण लगने वाला है. आज रात 11 बजे से सुबह 3 बजे तक पूर्ण चन्द्र ग्रहण लगेगा, जो 1 घंटे 43 मिनट तक चलेगा. चंद्रग्रहण पर यदि आप अपने राशि के अनुसार दान देंगे तो बहुत पुण्य मिलेगा. कलयुग में भगवान के नाम का जप और दान की अनंत महिमा है. दान करने से कष्ट कम होता है और आने वाला कष्ट कटता है. ग्रहण के उपरांत स्नान करके पूजा करना चाहिए और फिर दान. 27 जुलाई 2018 को रात 11.54 से 03.49 तक चंद्र ग्रहण है. रात 03.49 के बाद मदिर की मूर्तियों को गंगा जल से पवित्र करें और फिर अपनी राशि के अनुसार दान करना शुरू करें. जाने-माने ज्योतिष सुजीत जी महाराज ने बताया है कि चंद्रग्रहण पर अपनी राशि के अनुरूप क्या दान करना चाहिए.

राशि के अनुसार करें इन चीजों का दान

मेष: मेष राशि का स्वामी मंगल है. गेहूं और गुड़ का दान करना शुभ है. गरीबों को अन्न और वस्त्रों का दान करें. मंगल का संबंध रक्त से होने के कारण सबसे बेहतर होगा कि आप रक्त दान करें. गाय को रोटी और गुड़ खिलाएं.

वृष: वृष राशि का स्वामी शुक्र ग्रह है. अंधे व्यक्ति को अन्न दान करना शुभ रहेगा. सुगन्धित इत्र को भी दान में दे सकते हैं. इसके अलावा चावल और चीनी का भी दान कर सकते हैं. हो सके तो स्टील या चांदी का गिलास मंदिर में दान कर दें.

मिथुन: मिथुन राशि का स्वामी बुध है. वस्त्र दान करना शुभ है. गाय को पालक खिलाएं. मूंग की दाल दान में दे सकते हैं. कपूर और धूप अगरबत्ती दान करें. सामर्थ्य के अनुसार चांदी का कोई आभूषण माता को चढ़ा सकते हैं.

कर्क: चंद्रमा इस राशि का स्वामी होता है. चावल और चीनी का दान कर सकते हैं. हो सके तो गाय को आटा खिलाएं. तांबे का पात्र मंदिर में दान कर सकते हैं.

सिंह: सूर्य इस राशि का स्वामी है. गेहूं और गुड़ का दान करना शुभ है. धार्मिक पुस्तकों और कलम को गरीबों में बांटें. रक्त दान भी कर सकते हैं.

कन्या: बुध इस राशि का स्वामी है. मूंग का दान करना शुभ है. देवी माता के मंदिर में कपूर का दान करें. गरीबों को वस्त्र बाटें. धार्मिक पुस्तक के दान से भी फल प्राप्त होगा.

तुला: इस राशि का स्वामी शुक्र है. इत्र और सुगन्धित अगरबत्ती मंदिर में दान करना शुभ है. माता लक्ष्मी के मंदिर में श्री सूक्त की पुस्तक भेंट कर सकते हैं.

वृश्चिक: मंगल इस राशि का स्वामी है. आपका मित्र गुरु है. ताम्र पात्र दान करने से मान-सम्मान और प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी. रक्त दान करना भी अच्छा विकल्प है.

धनु: इस राशि का स्वामी बृहस्पति है. आप पीले वस्त्र को भेंट कर सकते हैं. चने की दाल और हल्दी का दान पर्याप्त फल दे सकता है. शिक्षा में प्रगति के लिए धार्मिक पुस्तकों का दान करें.

मकर: शनि इस राशि का स्वामी होता है. तिल और तेल का दान जरूर करें. हो सके तो लाल चोला को हनुमान जी के मंदिर में चढ़ाएं. गरीबों को भोजन करना फायदेमंद साबित होगा.

कुंभ: शनि कुंभ राशि का स्वामी है. तिल का दान करें. शनि भगवान को तेल अर्पित करें. लोहे का पात्र दान कर सकते हैं. गरीबों में अन्न और वस्त्र भी बांटना शुभ होगा.

मीन: इस राशि का स्वामी गुरु है. धार्मिक पुस्तक का दान करें. गरीब बच्चों में फल, पुस्तक और कलम बांटना शुभ होगा. चने की दाल का भी दान कर सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

two × 5 =