सपा में लड़ाई के बाद बदले चुनावी समीकरण – अखिलेश का कद बढ़ा, मुलायम से भी ज्यादा लोकप्रिय: सर्वे

लखनऊ/नई दिल्लीः मुलायम सिंह यादव के परिवार में चल रहे झगड़े के कारण समाजवादी पार्टी और परिवार में भले ही अखिलेश यादव का कद छोटा हुआ हो, लेकिन आम जनता के बीच उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी में चल रही महाभारत से अखिलेश को फायदा होता दिखाई दे रहा है। उनकी लोकप्रियता बढ़ी है। सी-वोटर द्वारा किए गये एक सर्वे में सामने आया है कि पिछले एक महीने में अखिलेश की लोकप्रियता बढ़ी है।  सपा के झगड़े से अखिलेश यादव को फायदा हुआ है और उनकी लोकप्रियता में लगातार इजाफा हुआ है। Electoral Equation Uttar Pradesh.

मतदाताओं के बीच बढ़ी लोकप्रियता – 

सी-वोटर द्वारा किए गये इस सर्वे में बताया गया है कि मतदाताओं के बीच अखिलेश यादव की छवि में पहले से काफी इजाफा हुआ है। उत्तर प्रदेश में अक्टूबर महीने में ऐजेंसी द्वारा किए गये सर्वे में यह बात सामने आई कि मतदाताओं की नजर में अखिलेश मुलायम से बेहतर सीएम कैंडिडेट हैं। Electoral Equation Uttar Pradesh.

यह सर्वे जिन लोगों के बीच किया गया, उनमें से 68 फीसदी लोगों का मानना है कि अखिलेश पार्टी को गुंडा छवि से बाहर निकालने की कोशिश कर रहे हैं। 63.2 प्रतिशत लोगों का यह भी मानना है कि अखिलेश को उनलोगों को पार्टी में शामिल नहीं करने देना चाहिए जो आपराधिक छवि के हैं।

अखिलेश ने चाचा शिवपाल को भी पछाड़ा –

इस सर्वे के अनुसार परिवार की इस महाभारत में अखिलेश के चाचा शिवपाल को खासा नुकसान हुआ है। सर्वे के आंकड़ों के अनुसार शिवपाल के मुकाबले अखिलेश को पसंद करने वाले लोगों की संख्या में फीसदी का इजाफा हुआ है।

मुलामय सिंह यादव, अखिलेश यादव, और उनके चाचा शिवपाल यादव को लेकर सी-वोटर ने दो सर्वें किया। पहला सर्वे सितंबर में किया और दूसरा अक्टूबर में किया गया था। सर्वे के नतीजों को अनुसार चाचा शिवपाल के मुकाबले अखिलेश को पसंद करने वाले लोगों की संख्या सितंबर में 77.1 प्रतिशत थी जो अक्टूबर में बढ़कर 83.1 प्रतिशत हो गई। यानी अखिलेश को चाहने वालों की संख्या 6 फीसदी बढ़ गई।