क़द में छोटे हैं तो परेशान ना हों, 18 साल के बाद भी इस तरह से बढ़ा सकते हैं अपनी लम्बाई

किसी भी व्यक्ति की लम्बाई उसके जींस पर निर्भर करती है। अगर उसके माता-पिता की लम्बाई अच्छी है तो यक़ीनन वह भी लम्बा होगा। केवल यही नहीं कई बार लोगों की लम्बाई पर उनके रिस्तेदारों का भी असर देखने को मिलता है। जींस के इस खेल को समझ पाना हर व्यक्ति के लिए आसान नहीं है। इसके साथ ही कुछ और भी वजहें हैं जिनका किसी व्यक्ति की लम्बाई पर असर पड़ता है। इसमें सबसे ज़रूरी चीज़ है ह्यूमन ग्रोथ हार्मोंस, यह किसी भी व्यक्ति की लम्बाई को रेगुलेट करता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें यह पिट्यूटरी ग्लैंड में बनता है और लम्बी हड्डियों व कर्टिलेज के लिए ज़रूरी होता है। इसके अलावा कुछ और भी वजहें होती हैं, जिससे इंसान की लम्बाई काम होती है। अक्सर आपने लोगों को कहते हुए सुना होगा कि किसी की लम्बाई केवल 18 साल तक ही बढ़ती है, लेकिन सच्चाई यह है कि किसी की लम्बाई 18 साल के बाद भी बढ़ती है। हालाँकि इस समय लम्बाई बढ़ने की रफ़्तार काफ़ी काम होती है। छोटे क़द के लोग अक्सर सोचते हैं कि वो ऐसा क्या करें कि उनकी लंबाई बढ़ जाए। आपको बता दें कि अगर आप अपनी जीवनशैली में कुछ बातों का ध्यान रखते हैं तो आपकी लम्बाई बढ़ सकती है।

ऐसे कई आसान हैं जिनको लगातार करने से किसी भी व्यक्ति की लम्बाई आसानी से बढ़ सकती है। इसके साथ ही प्राणायाम भी लम्बाई बढ़ाने में बहुत मददगार साबित होती है। इससे रीढ़ की मसल्स रिलैक्स होती है और ग्रोथ में मदद भी मिलती है। आप सूर्य नमस्कार के साथ ही ताड़ासन, भुजंगासन, चक्रासन और सर्वांगासन भी कर सकते हैं। आसनों को करते समय कुछ बातों का ध्यान रखना बहुत ज़रूरी होता है, इससे ज़्यादा फ़ायदा होता है। शरीर को थोड़ा गर्म करने के बाद पहले सूर्य नमस्कार करें, इससे शरीर पूरी तरह से गर्म हो जाता है।

लम्बाई बढ़ाने के लिए अपनाएँ ये उपाय:

स्ट्रेचिंग से लम्बाई बढ़ाने में बहुत ज़्यादा मदद मिलती है। अगर आप आसान करेंगे तो स्ट्रेचिंग अपने आप हो जाएगी, इसके साथ ही लटकना भी फ़ायदेमंद होता है। इससे आपके दिमाग़ को यह पता चलता है कि आप ख़ुद को बढ़ाना चाहते हैं। किसी रॉड की सहायता से ख़ुद को हर रोज़ लटकाएँ, इससे आपकी लम्बाई बढ़ सकती है।

व्यायाम और खेलकूद करने से ह्यूमन ग्रोथ हार्मोन तेज़ी से रिलीज़ होता है। यही वजह है कि कोई भी खिलाड़ी हर समय चुस्त-दुरुस्त रहता है। आप हर रोज़ पार्क में जाएँ और खेलकूद में हिस्सा लें। ऐसे खेल खेलने की कोशिश करें जिसमें कूदना ज़्यादा पड़े। इससे आपको लम्बाई बढ़ाने में मदद मिलेगी।

अगर आप लम्बाई बढ़ाना चाहते हैं तो उसकी कोशिश करते रहें लेकिन इसके लिए ख़ुद के दिमाग़ पर ज़ोर ना डालें। अपने दिमाग़ में हमेशा यह बात ना लाएँ कि आप लम्बाई बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं। अपना काम करते रहें, दिमाग़ तक यह बात स्वयं ही चली जाएगी। बार-बार अपनी लम्बाई ना नापें, टारगेट ना बनाएँ कि आपको इतने दिनों में लम्बाई बढ़ा लेनी है।

ऊपर बतायी गयी बातें तभी काम करती हैं जब आप भरपूर नींद लेते हैं। सोते समय हमारी बॉडी मरम्मत का काम करती है। व्यायाम करते समय और सोते समय बॉडी ज़्यादा काम करती है। जब हम गहरी नींद में होते हैं तभी ग्रोथ हार्मोन ज़्यादा मात्रा में रिलीज़ होता है। जो लोग काम सोते हैं, वो बहुत जल्दी बूढ़े हो जाते हैं।

दूध शरीर के लिए बहुत ज़्यादा फ़ायदेमंद होता है। इसमें हर तरह के विकास के लिए कोई ना कोई चीज़ होती है। किसी व्यक्ति की लम्बाई उसके हड्डियों के विकास के ऊपर निर्भर करती है। दूध में भरपूर मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है जो हड्डियों के विकास के लिए बहुत ज़रूरी होता है। दूध में प्रोटीन और विटामिन ए भी होता है। अगर आप अपनी लम्बाई बढ़ाना चाहते हैं तो दो-तीन गिलास हर रोज़ दूध पीएँ।

error: Content is protected !!