ब्रेकिंग न्यूज़

कर्नाटक से बोले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ‘लोग उन्हें सर कहकर न बुलाएं’

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनोंं कर्नाटक दौरे पर हैं। ऐसे में राहुल गांधी कांग्रेस को दोबारा सत्ता में लाने के लिए जमकर रैलियां करते हुए नजर आ रहे हैं। जी हां, राहुल गांधी ने एक के बाद एक ताबतोड़ रैलियां कर रहे हैं। ऐसे में जनसभा के दौरान राहुल ने कहा कि उन्हें सर न बोले लोग। इसके पीछे राहुल गांधी ने वजह भी बताई। सूबे में अगले महीने चुनाव है, ऐसे में सूबे की सियासत पूरी तरह से गरम हो चुकी है। कांग्रेस के एक तरफ जोर लगा रही है, तो वहीं दूसरी तरफ बीजेपी भी जोर लगा रही है। इन सबके बीच देखने वाली बात तो यह होगी आखिर दोनोंं में से किसकी कोशिश सफल होती है। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

कर्नाटक में एक जनसभा के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि उन्हें लोग सर कहकर बुलाते हैं, तो उन्हे अच्छा नहीं लगता है। जी हां, राहुल गांधी ने कहा कि जब मैं लोगों से मिलता हूं, तो वो मुझे सर बुलाते हैं, फिर मुझे ऐसा लगता है, जैसे मेरी उम्र बहुत ज्यादा हो गई है। इस दौरान राहुल ने यह भी कहा कि लोग उन्हें सिर्फ राहुल के नाम से बुलाए, क्योंकि उन्हें जब लोग राहुल बोलते हैं, तो अच्छा लगता है। बता दें कि राहुल इन दिनोंं कर्नाटक में जनआशीर्वाद यात्रा कर रहे हैं।

बताते चलें कि राहुल गांधी कर्नाटक को जीतने के लिए हर संभव कोशिश करते हुए नजर आ रहे हैं। राहुल कर्नाटक को किसी भी तरह से हाथ से नहीं जाने देने चाहते हैं, क्योंकि कर्नाटक पर ही उनका पूरा भविष्य टिका हुआ है, ऐसे में राहुल किसी भी तरह की कोई गलती करने के मूड में नहीं है। कर्नाटक चुनाव में राहुल वोटर्स को लुभाने के लिए मठ जाते दिख रहे हैं, क्योंकि वहां मठ की बहुत ही ज्यादा मान्यता है, ऐसे में राहुल इसके सहारे चुनाव जीतने की कोशिश कर रहे हैं।

राहुल गांधी के अलावा अगर बीजेपी के भी प्रचार भी नजर डाला जाए तो दोनों ही पार्टियां दिलो जान से प्रचार करती हुई नजर आ रही है। बता दें कि बीजेपी और कांग्रेस दोनों मठ के सहारे कर्नाटक को भेदने की कोशिश कर रही है, ऐसे में देखने वाली बात यह होगी कि आखिर किसकी कोशिश रंग ला जाएगी। बता दें कि बीजेपी के तरफ से अभी पीएम मोदी का कर्नाटक में प्रचार करना बाकि है, ऐसे में संभावनाएं जताई जा रही है कि पीएम मोदी जल्दी ही कर्नाटक जाएंगे।

याद दिला दें कि कर्नाटक मेंं चुनाव 12 मई को है, ऐसे में अभी पार्टियों के पास पूरा एक महीना बचा हुआ है। बता दें कि चुनाव के परिणाम 15 मई को आएंगे, ऐसे में सभी पार्टियां जोर शोर से कर्नाटक की तैयारी में लगी हुई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close