चीन और पाकिस्तान को सबक सिखाने के लिए भारत तैयार, अमेरिका से होवित्ज़र तोप खरीदने की तैयारी!

भारत और पाकिस्तान के रिश्ते इस समय ठीक नहीं चल रहे हैं, यह सभी जानते हैं। ऐसे में समय- समय पर चीन भी भारत को आँखें दिखाने से बाज नहीं आ रहा है। देश के वर्तमान हालात ठीक नहीं हैं किसी भी समय युद्ध हो सकता है। ऐसे में भारत को सतर्क रहने की जरुरत है। भारत ने इसी दिशा में कदम बढ़ाते हुए एक बड़ा फैसला लिया है। भारत और अमेरिका के सामरिक रिश्ते दिन प्रति दिन अच्छे ही होते जा रहे हैं, दोनों देशों के बीच इस समय बहुत ही अच्छा सम्बन्ध है। ऐसे में भारत अमेरिका से 145 अल्ट्रा लाइट होवित्ज़र तोप खरीदने के लिए समझौता कर सकता है। इस तोप के लिए 5000 करोड़ का सौदा होने का अनुमान है। ज्ञात हो 80 के दशक में बोफोर्स तोप खरीद घोटाला सामने आने के बाद यह किसी भी तोप की खरीद का पहला सौदा होगा।

cannon-us-newstend-04-11-16-4

 

रक्षा मंत्रालय ने शुक्रवार को 777 होवित्ज़र तोपों को खरीदने के लिए फाइल को स्वीकृति दी है। रक्षा मंत्रालय से फाइल को स्वीकृति मिलने के बाद अब इसे वित्त मंत्रालय के पास ले जाया जायेगा। इसके बाद इस मुद्दे की संतुति के लिए सुरक्षा मामलों की कैबिनेट समिति के सामने रखा जायेगा। आख़िरी फैसला वही से होगा कि तोप की खरीद की जाएगी या नहीं।

भारत अमेरिका से होवित्ज़र तोप खरीदने की तैयारी

रक्षा मंत्रालय ने पहले ही 25 किलोमीटर तक मार करने वाले तोपों के लिए आपूर्ति की समय सीमा को घटा दिया है, उन्हें तय समय से पहले ही माँगा जा रहा है। हालांकि तय किये गए नए समय की जानकारी अभी तक नहीं हुई है। भारत सरकार ने अमेरिका के पास इस तोप को खरीदने का प्रस्ताव भेजा था, भारत को लगा कि इससे उसके देश की सुरक्षा में बढ़ोत्तरी हो जाएगी। फ़िलहाल इन तोपों को चीन की सीमा से लगे अरुणांचल प्रदेश और लद्दाख में तैनात किया जायेगा। भारत के इस कदम से चीन के साथ ही पाकिस्तान भी हैरान हुआ है, अब दोनों देशों की मुश्किल बढ़ सकती है। अमेरिका ने भारत के प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए इस साल जून में खरीद की शर्तों पर बात किया था, और खरीद की स्वीकृति दे दी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.