ब्रेकिंग न्यूज़

मायावती को मिला मोदी के मंत्री से बड़ा ऑफर, क्या है पूरा मामला

उत्तर प्रदेश में सपा बसपा गठबंधन का असर बीजेपी में दिखाई दे रहा है। यही वजह है कि मोदी के मंत्री ने मायावती को इस ऑफर दे दिया, जिसके बारे में किसी ने कल्पना भी नहीं किया होगा। जी हां, मोदी के मंत्री ने मायावती को आफर देने के साथ साथ भविष्य में पार्टी के लिए चिंता भी जाहिर की है। बता दें कि अखिलेश और मायावती के गठबंधन के बाद बीजेपी तिलमिला सी गयी है, ऐसे में भले ही बीजेपी इस गठबंधन से कोई खतरा नहीं है, ऐसा बोलती हुई नजर आ रही है, लेकिन हकीकत तो कुछ और ही है। आइये जानते हैं कि पूरा मामला क्या है?

फूलपुर और गोरखपुर हारने के बाद बीजेपी के नेता पार्टी के भविष्य को लेकर चिंतित दिखाई दे रहे हैं, ऐसे में पार्टी के सहयोगी दल के नेता ने मायावती को लेकर बड़ा बयान दे दिया है, जिससे सियासी हलचलें तेज हो चुकी है। हालांकि, जो बयान मोदी के मंत्री ने दिया है, उसका हकीकत होना एक सपना जैसा है, लेकिन राजनीति में कभी भी कुछ भी हो सकता है। फायदे के लिए कोई भी किसी का हाथ थाम सकता है, इसमें कोई दोराय नहीं है। बता दें कि मायावती लगातार दलितों को लेकर बीजेपी को घेरती हुई नजर आती है, ऐसे में मोदी के केंद्रीय मंत्री ने बड़ा बयान दे दिया है।
जी हां, केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले ने कहा कि अगर मायावती को दलितों की वाकई चिंता है तो उन्हें एनडीए का हिस्सा बन जाना चाहिए, ऐसे में मंत्री का ये बयान तेजी से सुर्खियां बटोर रहा है। इतना ही नहीं, इनके इस बयान से अटकलें भी लगाई जा रही है कि कहीं बीजेपी के साथ मायावती की दाल तो नहीं गलने वाली है, क्योंकि मंत्री ने सीधे तौर पे मायावती को बीजेपी का हिस्सा बनने की सलाह दी है, ऐसे में सियासत न हो, ये तो हो ही नहीं सकता है। बता दें कि केंद्रीय मंत्री रामदास ने इस दौरान पार्टी के भविष्य को लेकर भी चिंता व्यक्त की।
रामदास ने आगे कहा कि मैंने मायावती को इसलिये आफर दिया है, क्योंकि उन्हें दलितों की चिंता है और दलितों के विकास के लिए उन्हें बीजेपी से जुड़ जाना चाहिए, तभी जाकर उनका ये सपना पूरा हो सकता है, ऐसे में रामदास ने इसे कल्याणकारी सांझेदारी का नाम दिया है। ऐसे में सवाल उठता है कि मायावती इस पे क्या राय देती हैं, क्योंकि वो शुरू से ही बीजेपी को दलित और गरीब विरोधी बताती हुई नजर आयी हैं, क्या मायावती भविष्य में रामदास के ऑफर को स्वीकार करेंगी या फिर उनकी बीजेपी के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगा? ये तो खैर वक़्त ही बताएगा।
एनडीए पे बात करते हुए रामदास ने कहा कि अगर 2019 में सपा बसपा एक साथ चुनाव लड़ेगी तो बीजेपी को कम से कम 20-30 सीटो का नुकसान हिग, लेकिन अमित शाह और योगी की माने तो उन्हें गठबंधन से कोई खतरा नहीं है, क्योंकि उनका मानना है कि बीजेपी यूपी की 80 की 80 सीटे लेकर आएगी। मामला चाहे जो कुछ भी क्यों न हो लेकिन एक बात तो तय है कि आने वाले दिनों में यूपी की राजनीति हर पल नया मोड़ ले सकती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close