इंगलिश के बोर्ड देख भड़की ऊमा भारती

Uma Bharti English Board

दरअसल मामला ये है कि नई दिल्ली में शनिवार कोआइटीओ स्थित छठ घाट पर नमामि गंगे के अंतर्गत यमुना संरछड़ के कार्यक्रम का उदघाटन करने गयीं थी उनके साथ दिल्ली सरकार के मंत्री कपिल मिश्र भी थे और उन्ही के कैहने पर सारे उदघाटन बोर्ड ईंगलिश में लिखवाये गये थे ऊमा भारती जी ने जैसे ही ईगलिश के बोर्ड देखे सभी अधिकारियों को आड़े लेते हुए कहा ऐसा नही है कि मै ईंगलिश पढ़ना नही जानती मगर जो लोग यहां यमुना किनारे रैहते है जिनके लिए परियोजना शूरू की गई है क्या वे पढ़ सकते हैं उन्होने अधिकारियों को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा आगे से अगर आप नें ईंगलिश के बोर्ड लगे तो मैं दूर से देख कर ही गाड़ी घूमा दूंगी और योजना का उदघाटन नही करूंगा हमारी मात्र भाषा हिन्दी है या फिर स्थानिय भाषा में बोर्ड लगवाया करें

उमा भारती के बदले तेवर पर अधिकारी बगलें ताकने लगे तो उमा भारती ने माहौल हल्का करने के लिए कहा कि बंगाल में बांग्ला, तमिलनाडु में तमिल, कर्नाटक में कन्नड़ होनी चाहिए भाई. ऐसा नहीं कि हर जगह हिंदी हो लेकिन जहां की जो स्थानीय भाषा है, उसका प्रयोग होना चाहिए. लगे हाथ उमा भारती ने जापान और इजरायल की मिसाल भी दे डाली जो पिछली मीटिंगों में उनके साथ दुभाषिये लेकर आए थे लेकिन अंग्रेजी का उपयोग नहीं किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

ten − five =