राजनीति

विवादों के बीच फंसे मोहम्मद शमी का एक्सीडेंट हादसा है या साजिश, सामने आया सच

भारतीय गेंदबाज मोहम्मद शमी का वक्त इनदिनों सही नहीं चल रहा है.. एक तरफ जहां वो बीवी हसीन जहां के चौतरफा आरोपों से घिरे हुए हैं, वहीं रविवार के दिन वे सड़क दुर्घटना का शिकार भी हो गए। ऐसे में जैसे ही मोहम्मद शमी के एक्सीडेंट की खबर आई, शमी और उनकी पत्नी के बीच उपजे विवाद को देखते हुए इस हादसे में साजिश की चर्चा होने लगी।वैसे देहरादून की क्लेमेंटटाउन पुलिस ने अब इस सड़क हादसे का कारण बताते हुए इस मामले का सच दुनिया के सामने ला दिया है।

देहरादून में हुए थे हादसे का शिकार

गौरतलब है कि क्रिकेटर मोहम्मद शमी रविवार को एक सड़क दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हुए थे। दरअसल, शमी अपनी क्रिकेट ट्रेनिंग को पूरा कर देहरादून से दिल्ली लौट रहे थे तभी उनकी कार के सामने से आ रहे ट्रक ने टक्कर मार दी थी। इस हादसे में शमी के सिर में गंभीर चोटें आई और उपचार के दौरान उनके सिर में 10 टांके लगाए गए। इस एक्सीडेंट में शमी के साथ उनका दोस्त और ड्राइवर भी घायल हुए थे। तीनों को तत्काल शहर के सीएमआई हॉस्पिटल पहुंचाया गया जहां उपचार के बाद कुछ देर आराम कर शमी दिल्ली के लिए रवाना हो गए।

पुलिस ने बताया हादसे का सच

इस एक्सीडेंट की खबर आते ही शमी के फैंस उनकी सलामती की दुआ करने लगे थे..  वहीं ऐसी खबरों का बाजार भी गर्म हो गया था कि कहीं शमी किसी साजिश का शिकार तो नहीं हुए। वैसे पुलिस ने अब ये राज खोल दिया है। पुलिस के अनुसार जिस ट्रक से शमी की कार को ठोकर लगी है उसके चालक ने स्वीकार किया है कि तेज रफ्तार होने से उसने ट्रक पर नियंत्रण खो दिया और जिसके फलस्वरूप ये हादसा हुआ। देहरादून के क्लेमेंटटाउन के थानाध्यक्ष,दिलबर सिंह नेगी ने बताया कि तेज रफ्तार के कारण यह हुआ हादसा है.. ऐसे में इसके पीछे कोई साजिश नहीं लगती।वहीं इस मामले में क्लेमेंटटाउन पुलिस ने मुकदमा दर्ज करते हुए आरोपी ट्रक चालक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी से मिलीं हसीन जहां

गौरतलब है कि मोहम्मद शमी पर मैच फिक्सिंग, अवैध संबंध का आरोप लगाने वाली उनकी पत्नी हसीन जहां ने इस मामले को लेकर बीते शुक्रवार (23 मार्च) को कोलकाता में राज्य की सीएम ममता बनर्जी से मुलाकात भी कीहै । हसीन जहां ने ममता बनर्जी से से मिलकर उन्हें अपना दुखड़ा सुनाया और उनसे इस मामले में इंसाफ की गुहार लगाई है।

मैच फिक्सिंग के मामले में बीसीसीआई ने शमी को क्लीन चिट दी

वहीं हसीन जहां द्वारा लगाए गए मैच फिक्सिंग और अन्य लड़कियों से शमी के संबंध के आरोपों को बाद बीसीसीआई ने शमी को सालाना कॉन्ट्रैक्ट से बाहर कर दिया था, पर बाद में इस मामले की एक प्राथमिक जांच के बाद बीसीसीआई ने शमी को मैच फिक्सिंग के मामले में क्लीन चिट दे दी और शमी को सालाना कॉन्ट्रैक्ट में शामिल भी कर लिया है। बीसीसीआई ने शमी को सालाना कॉन्ट्रैक्ट में बी-ग्रेड में शामिल किया है। इसके साथ ही मोहम्मद शमी के आईपीएल में में दिल्ली डेयरडेविल्स के तरफ से खेलने के रास्ते भी साफ हो गए हैं। इससे पहले उनके आईपीएल में खेलने पर भी संशय बना हुआ था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close