ब्रेकिंग न्यूज़

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर बीजेपी का पलटवार, ‘अक्ल नहीं है क्या’

कांग्रेस अध्यक्ष ने गुरूवार की सुबह बीजेपी पर ट्वीट करके निशाना साधा तो एनडीए के कैबिनेट मंत्री ने राहुल को करारा जवाब दिया। इस दौरान केंद्रीय मंत्री अब्बास पूरी तरह से बौखलाए भी नजर आएं। बता दें कि राहुल गांधी ने बीजेपी सरकार पर मुद्दों से ध्यान हटाने का आरोप लगाया तो बीजेपी भी पलटवार करने से नहीं बची, ऐसे में बीजेपी ने राहुल गांधी को लेकर बड़ा बयान दिया। तो आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

राहुल गांधी ने गुरूवार को इराक मुद्दे से ध्यान बंटाने के लिए बीजेपी पर जबदस्त हमला बोला तो बीजेपी ने नहले पर दहला मारा। बता दें कि फेसबुक डाटा लीक मामले को लेकर देश की सियासत गरमा चुकी है, ऐसे में दोनों ही पार्टियां एक दूसरे पर आरोप लगा रही है। जहां एक तरफ कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी ने पिछले आम चुनाव में एनालिटिक्स को हायर किया था, तो वहीं दूसरी तरफ बीजेपी कांग्रेस पर आरोप लगा रही है कि कांग्रेस 2019 को जितने के लिए जनता के खिलवाड़ करने के मूड में है, ऐसे में यहां फेसबुक को लेकर बड़ी राजनीति देखने को मिल रही है।

फेसबुक डाटा लीक के मामले में फाउंडर मार्क जुकरबर्ग ने माफी मांगने के साथ साथ बड़े बदलाव करने का ऐलान भी किया है। इसके साथ ही कहा कि फेसबुक पर अब विशेष तरह से ध्यान रखा जाएगा, ऐसे में आगे से इस तरह की घटनाएं नहीं  होगी। साथ ही भारतीय चुनावों में फेसबुक का विशेष ध्यान ऱखा जाएगा, ताकि किसी भी तरह की कोई गड़बड़ी की गुंजाइश ही न बचे। ऐसे में इस समय फेसबुक और इराक का मुद्दा सुर्खियों में है, जिसको लेकर राजनीतिक पार्टियां आपस में लड़ती हुई नजर आ रही है।

राहुल पर बीजेपी का पलटवार, केंद्रीय मंत्री बोले अक्ल नहीं है क्या?

जी हां, राहुल पर पलटवार करते हुए केंद्रीय मंत्री नकवी अब्बास ने कहा कि ‘राहुल गांधी जी अक्ल से पैदल हैं क्या? उनको ये समझना चाहिए कि भोले-भाले भारतीयों के डाटा चोरी का संगीन अपराध हुआ है, तो ऐसे में अगर उसमें शामिल लोगों का पर्दाफाश हो रहा है तो इसमें उनको क्या प्रॉब्लम है?”

याद दिला दें कि राहुल गांधी ने इराक में मारे गये भारतीय को लेकर बीजेपी पर तंज कसते हुए ट्वीट किया कि सरकार मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए फेसबुक डाटा लीक का मसला जोरो शोरो से उछाल रही है, जिसमें मीडिया ने भी उनका पूरा साथ दे रही है। बताते चलें कि चार साल पहले इराक में खोए भारतीय की हत्या हो चुकी है, जिसको लेकर देश में सियासी संग्राम जारी है।

Related Articles

Close