स्वास्थ्य

पीरियड्स प्रॉब्लम : ये है पीरियड्स लेट होने के मुख्य कारण, और तीसरी वजह तो आप ने सोचा भी न होगा

पीरियड्स प्रॉब्लम, मासिक धर्म में देरी (late periods problem in hindi)

लड़कियों में महावरी यानी पीरियड्स की समस्या होना आम बात है. लड़कियों को पीरियड्स की समस्या 12 साल की आयु से ही शुरू हो जाती है.  महवारी को मासिक धर्म भी कहा जाता है. कईं  बार प्रेगनेंसी या फिर कमज़ोरी के चलते महिलायों में पीरियड्स की अनियमितता (मासिक धर्म में देरी) बनी रहती है. ऐसे में कुछ लड़कियों को पीरियड्स लेट हो जाते हैं ओ कुछ के पीरियड्स मिस हो जाते हैं. पीरियड्स बंद होने के कईं कारण हो सकते हैं. जब भी किसी लड़की के मासिक धर्म में देरी हो जाती हैं या फिर बंद हो जाए तो उसके मन में सबसे पहला ख्याल गर्भवस्था का आता है. मगर आज के इस आर्टिकल में हम आपको पीरियड्स प्रॉब्लम (late periods problem in hindi) ऐसे कारणों के बारे में बताने जा रहे हैं,

जिनके चलते लड़कियों के पीरियड्स अक्सर मिस हो जाते हैं. बहुत सारी महिलाएं पीरियड्स लाने के लिए दवाइयों का सेवन करने लगती हैं. या अपने घरेलू नुस्खों का प्रयोग करने लगती हैं.  परन्तु आपको हम बता दें की पीरियड्स प्रॉब्लम मासिक या धर्म लेट होने पर आपको किसी प्रकार की चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है. क्यूंकि इनके बंद होने के कुछ समान्य कारण भी हो सकते हैं. चलिए जानते हैं उन कारणों के बारे में-

पीरियड्स प्रॉब्लम (Periods Problem) : मासिक धर्म में देरी के कारण 

  • एक सामान्य महिला को पीरियड्स 28 दिन बाद होते हैं. परन्तु कुछ महिलायों को मासिक धर्म की तिथि बदलती ही रहती है. अगर आपकी उम्र अभी कम है और आपको पीरियड्स आने की शुरुआत हाल ही में हुई है और दोबारा पीरियड्स नहीं आ पा रहे तो इसमें आपके लिए चिंता की कोई बात नहीं है. क्यूंकि कुछ लड़कियों को मासिक धर्म की शुरुआत में अनियमितता बनी रहती है और ये पीरियड्स प्रॉब्लम कोई समस्या नहीं है बल्कि ये धीरे धीरे खुद ही ठीक हो जाएगी.

  • पीरियड्स प्रॉब्लम 2. माहवारी रुकने के कारण मिस होने का एक कारण वजन का बढ़ना भी हो सकता है. क्यूंकि मोटापे के चलते लड़की के हार्मोन ठीक तरह से विकसित नहीं हो पाते और उन्हें पीरियड्स लेट हो जाते हैं. इस समस्या से बचने के लिए आप अपनी डाइट का ख़ास ख्याल रखें और हर रोज़ योग या कसरत करें ताकि आपका वजन आपके कंट्रोल में रह सके.

  • बहुत सारी लड़कियां अपने फिगर को लेकर सीरियस होती हैं ऐसे में वह स्लिम रहने के लिए खाना पीना कम कर देती हैं. जिससे उनके शरीर को जरूरी पोषक तत्व नहीं मिल पाते और उनके मासिक धर्म लेट हो जाते हैं.

  • कुछ लड़कियां हद से ज्यादा दुबली एवं पतली होती हैं और उनकी इसी बॉडी के चलते उनके शरीर में उचित मात्रा में एस्ट्रोजन नहीं बन पाता और उनके पीरियड्स अनियमित हो जाते हैं. ऐसे में उन लड़कियों को अपना वजन बढाने की आवश्यकता है.

कुछ महिलाएं जरूरत से अधिक एक्सरसाइज करती हैं जिसके कारण उनके मासिक धर्म कईं बार साल भर तक बंद रहते हैं. ( पीरियड्स प्रॉब्लम )

  • जिन लड़कियों का वजन अधिक है उन्हें पोलेस्टिक ओवरी सिंड्रोम नामक रोग भी हो सकता है. जिसके चलते उनके पीरियड्स देर से आते हैं या बंद रहते हैं. इस रोग के कारण शुगर, बच्चा पैदा ना होना आदि जैसी समस्याएं बन सकती हैं.

  • थायराइड के कारण भी लड़कियों के मासिक धर्म मिस हो सकते हैं और उन्हें पीरियड्स प्रॉब्लम होते हैं . ऐसे में आप तुरंत अपने डॉक्टर से जांच करवाएं और इलाज शुरू करवाएं.

Related Articles

Close