बिना कुंडली के इन लक्षणो से पहचान सकते है कि व्यक्ति मांगलिक है या नहीं

ज्योतिष के अनुसार मंगल दोष सबसे खतरनाक दोष है। विशेषतौर पर ये दोष, वैवाहिक जीवन के लिए अनिष्ठकारी माना जाता है। इसलिए विवाह से पूर्व ही इस दोष की पहचान और उसका निवारण आवश्यक है। ऐसे में प्रश्न ये भी उठता है कि जिन लोगों की जन्म कुंडली या जन्मतिथि उपलब्ध नहीं है उनके मंगल दोष की पहचान कैसे किए जाए .. तो आपको बता दें कि ज्योतिष में इसका भी समाधान बताया गया है। दरअसल मंगल दोष से प्रभावित व्यक्ति में कुछ विशेष लक्षण देखे जाते हैं और ज्योतिष की माने तो ऐसे लक्षण विशेष के जरिए मांगलिक व्यक्ति की पहचान की जा सकती है। आज हम आपको ऐसे ही कुछ लक्षणों के बारे में बताने जा रहे हैं ..

ज्योतिष के अनुसार हर व्यक्ति किसी न किसी ग्रह दोष से प्रभावित होता है और जीवन में आने वाले समस्याओं का कारण भी यही होता है। नौ ग्रहों में से व्यक्ति अगर किसी भी ग्रह दोष से प्रभावित है तो उसका जीवन सुखमय नहीं रहेगा। आज हम आपको नवग्रहों में से एक ग्रह मंगल के दोष के बारे में बता रहे है.. अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में मंगल दोष है तो क्या परेशानियाँ हो सकती है और मंगल दोष का निवारण कैसे किया जा सकता है।

इन लक्षणों से करें मांगलिक व्यक्ति की पहचान

1 ज्योतिष की प्रसिद्ध लाल किताब के अनुसार मंगल का सबसे ज्यादा असर आंखों में होता है। दरअसल हमारी नसों में दोड़ने वाला खून भी मंगल ही है। ऐसे में लाल किताब के मुताबिक अगर किसी व्यक्ति की आंखे हमेशा लाल दिखती हैं.. साथ ही सीधा देखते वक्त उसकी पुतलियां उपर उठी हुई है तो वो व्यक्ति मंगल से प्रभावित होता है।

2 मंगल से प्रभावित व्यक्ति अक्सर जुबान के कड़वे होते हैं। लोगों को उनकी बोली अच्‍छी नहीं लगती। उनकी बातें से लोगों का दिल दुखता है।

3 मंगल से प्रभावित व्यक्ति स्वतंत्र विचारधारा के होते हैं। ये हमेशा अपने मन की करती हैं .. ये कभी भी दूसरों के अनुसार नहीं चलते हैं।

4 ऐसे लोग जीवन में बेहद सैद्धांतिक होते हैं .. कभी झूठ नहीं बोलते हैं, जहां बहुत जरूरी हो वहीं झूठ बोलते हैं, पर हमेशा अपने सिद्धांत पर अठिग रहते हैं।

5 मंगल से प्रभावित व्यक्ति जल्दी किसी का बुरा नहीं करते, पर अगर किसी दुश्मनी हो जाए तो फिर उसे छोड़ते भी नहीं है।

6 ये लोग खुद को ही ज्ञानी और शक्तिशाली समझते हैं। ऐसे में अगर ये गलत रास्ते पर चले जाएं तो असामाजिक या अपराधी बन सकते हैं, वहीं अगर सही रास्ते पर जाएं तो धर्मात्म बन सकते हैं।

7 मंगल से प्रभावित व्यक्ति क्रोधी स्वभाव का होता है। गुस्से में वो कुछ भी कर सकता है।

अक्सर देखा गया है कि अपने हठी स्वभाव और सिद्धांत के चलते मंगल के प्रभावित लोग जीवन में बहुत कम सफल हो पाते हैं। ऐसे में अगर ये अपना व्यवहार बदलें और नम्रता से व्यवहार करें, दूसरों का सम्मान करें और दूसरों की उचित बाते मानें तो जीवन में सफल हो सकते हैं। इन्हें आंखों में हमेशा सफेद या काला सुरमा लगाना चाहिए और हनुमानजी की सतुति करते हुए हमेशा उत्तम चरित्र का परिचय देना चाहिए। यही वो उपाय है जिससे ये जीवन के हर क्षेत्र में सफल बन सकते हैं।