ये दिल आशिकाना का ये हीरो एक हिट फिल्म देने के बाद गायब हो गया बॉलीवुड से, अब दिखता है ऐसा…

ये दिल आशिकाना का हीरो: बॉलीवुड का जीवन हर किसी के लिए नहीं बना होता है। बॉलीवुड का सपना तो कई लोग देखते हैं लेकिन कम ही लोग अपने इस सपने को साकार कर पाते हैं। यह चमक-धमक की दुनिया हर किसी को अपनी तरफ आकर्षित करती है। कई लोग इसी चमक-धमक के चक्कर में अपना सबकुछ छोड़कर मुंबई की तरफ रवाना हो गए और आज सफल अभिनेता हैं। वहीँ कुछ भीड़ में गायब हो गए और उन्हें आज कोई नहीं जानता है। बॉलीवुड में जाना ही बड़ी बात नहीं होती है, यहाँ पर खुद को स्थापित करना सबसे बड़ी बात होती है।

पहली बार में पसंद करके बाद में नकार देते हैं दर्शक:

अक्सर आपने कई ऐसे अभिनेता या अभिनेत्रियों को देखा होगा जो बॉलीवुड में एक बार दिखाई देते हैं, लेकिन फिर उसके बाद गायब ही हो जाते हैं। ऐसा कहा जाता है कि बॉलीवुड में वही टिक पाता है, जिसे दर्शक पसंद करते हैं। लेकिन कुछ ऐसे भी अभिनेता हैं, जिन्हें दर्शक पहली बार तो पसंद करते हैं, लेकिन बाद में नकार देते हैं। जी हाँ ऐसे लोगों की बॉलीवुड में कोई कमी नहीं है। आज हम आपको बॉलीवुड के एक ऐसे ही अभिनेता के बारे में बताने जा रहे हैं।

पहली पसंद बन गए थे युवतियों के:

अगर आपको याद होगा तो आज से एक दशक पहले एक फिल्म आई थी, जिसने सभी युवाओं को अपना दीवाना बना दिया था। फिल्म का हर एक गाना लोगों की जुबान पर था। हर शादी-ब्याह या किसी पार्टी में उसी फिल्म का गाना बजता था। जी हाँ हम बात कर रहे हैं 2002 में आई फिल्म ‘ये दिल आशिकाना’ की। इस फिल्म ने उस समय जबरदस्त सफलता हासिल की थी। इस फिल्म का हीरो हर युवती की पसंद बन गया था। लेकिन कोई यह नहीं जानता था कि फिल्म सफल होने के बाद भी यह चॉकलेटी हीरो बॉलीवुड से हमेशा के लिए गायब हो जायेगा।

करण के पिता थे माधुरी दीक्षित के मैनेजर:

ये दिल आशिकाना का हीरो गायब ही नहीं हुआ बल्कि फिर कभी बॉलीवुड की तरफ मुड़कर भी नहीं देखा। आपको हम पहले भी कई बार बता चुके हैं कि बॉलीवुड एक ऐसी दुनिया है, जहाँ कब क्या हो जाये, कुछ कहा नहीं जा सकता है। हम बात कर रहे हैं हीरो करणनाथ की। ये दिल आशिकाना बॉक्स ऑफिस पर हिट हुई थी, लेकिन उसके बाद फिर करणनाथ कभी वापस नहीं दिखाई दिए। दरअसल इसका नाता माधुरी दीक्षित से भी है। आप परेशान मत होइए। दरअसल करणनाथ के पिता रिक्कू राकेश नाथ माधुरी दीक्षित के मैनेजर थे। इन्होने ही माधुरी दीक्षित का कैरियर बनाया था।

अपना कैरियर बचाने में रहे नाकामयाब:

रिक्कू का यह सपना था कि उनका बेटा भी बॉलीवुड के आसमान में चमके। उनका सपना पूरा हुआ लेकिन बहुत जल्दी टूट भी गया। करणनाथ की पहली ही फिल्म ये दिल आशिकाना हिट हुई थी। लोगों को लगने लगा था कि बॉलीवुड में एक और स्टार चमकने के लिए तैयार है। पहली फिल्म हिट हुई थी तो रिक्कू को लगा कि उनके बेटे के लुक्स और एक्टिंग ने कमाल कर दिया।

लेकिन ऐसा नहीं था। करण का कैरियर डगमगाया और वह डिप्रेशन के शिकार हो गए। इस फिल्म के बाद उन्होंने अपने कैरियर को बचाने की बहुत कोशिश की लेकिन वह नाकामयाब रहे और एक के बाद एक कई फ्लॉप फ़िल्में देने लगे।

दादा रह चुके हैं मशहूर एक्टर:

काफी समय बाद करण एक फिल्म में नज़र आये लेकिन उनका लुक पूरी तरह से बदला हुआ था। इन 15 सालों ने दौरान करण पूरी तरह से बदल चुके हैं। उस समय चॉकलेटी बॉय दिखने वाले करण अब रफ एंड टफ लुक में आ गए हैं। करण अपने नए लुक के साथ श्रद्धा कपूर और आदित्य रॉय कपूर की फिल्म ओके जानू में नजर आये थे। लेकिन इस बार भी उनके ऊपर लोगों का ध्यान नहीं गया।

करणनाथ का जन्म एक फ़िल्मी परिवार में हुआ था। इनके दादा डीके सप्रू एक मशहूर एक्टर रह चुके थे। उन्होंने 300 से ज्यादा फिल्मों में काम किया था। करण की माँ रीमा एक स्क्रिप्ट राइटर हैं। आज भी करणनाथ के बॉलीवुड से काफी अच्छे कनेक्शन हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.