इस मशहूर डॉक्टर ने पूरी डॉक्टर जाती को किया शर्मसार, सोशल मीडिया पर मचा बवाल!

अस्पताल में बुलाया गया तांत्रिक: जहाँ डॉक्टर को जान बचाने वाला दूसरा भगवान माना जाता है, वहीँ आज के डॉक्टर हैवान बनते जा रहे हैं. कुछ ऐसी ही एक घटना पुणे से हमारे सामने आई है. जहाँ एक डॉक्टर की विडियो इंटरनेट पर बवाल मचा रही है. दरअसल, महिला के इलाज में नाकाम हुए इस डॉक्टर ने अंधविश्वास और तांत्रिक विद्या का सहारा ले लिया. जिसके कारण महिला की मृत्यु हो गई. ये पूरी घटना पुणे के जाने माने अस्पताल दीनानाथ मंगेशकर की है. हालांकि, इस घटना का खुलासा विडियो से हुआ.

महिला का किया था ऑपरेशन 

दत्तवाडी की रहने वाली 24 वर्षीय संध्या सोनावणे को गांठ संबंधी समस्या थी जिसके चलते उसे अस्पताल में डॉ. सतीश चव्हाण के पास इलाज के लिए लाया गया था. यहां पर डॉक्टर ने संध्या को अस्पताल में भर्ती कर लिया क्योंकि उन्होंने संध्या के सीने में गांठ पाई. इसके बाद डॉक्टर सतीश ने संध्या का ऑपरेशन कर दिया. परन्तु ऑपरेशन करने के बाद पीडिता की तबीयत सुधरने के बजाय और बिगड़ती चली गई. जिसके बाद डॉक्टर सतीश ने पीड़ित महिला को मंगेशकर हस्पताल में भर्ती करवा दिया.

अस्पताल में बुलाया गया तांत्रिक

महिला की हालत दिनों दिन बिगड़ती देखकर डॉक्टर सतीश वहां पर एक तांत्रिक को लेकर आईसीयू पहुंच गया. आईसीयू में तांत्रिक ने संध्या पर कई प्रकार के तंत्र मंत्र और जादू टोने किए. जब संध्या के रिश्तेदारों ने डॉक्टर से इस मंत्र टोने के बारे में पूछा तो डॉक्टर का जवाब था कि उसकी भगवान और तांत्रिक पर श्रद्धा है इसलिए वह ऐसा करवा रहा है. डॉक्टर ने महिला के परिजनों को दूसरे ऑपरेशन का समय बताया और कहा कि दूसरे ऑपरेशन के बाद वह एकदम ठीक हो जाएगी परंतु ऐसा कुछ नहीं हुआ बल्कि महिला की हालत और ज्यादा बिगड़ गई और आखिरकार उसने सोमवार को दम तोड़ दिया.

वीडियो हुआ वायरल

डॉक्टर द्वारा करवाए गए इस तांत्रिक वाले तमाशे को महिला के रिश्तेदारों ने मोबाइल में कैद कर लिया. जिसका वीडियो वायरल होने के बाद डॉक्टर की करतूत सबको जाहिर हो गई. आपको हम बता दें कि महिला की तबीयत को दिनों दिन खराब होते देखकर डॉक्टर के हाथ पैर फूल गए थे और वह इतना घबरा गया उसने तांत्रिक विद्या का सहारा ले लिया. वीडियो में डॉक्टर के साथ वहां दो नर्सें भी मौजूद थी. सही समय पर इलाज ना मिलने के कारण संध्या की हालत बद से बदतर हो गई और आखिरकार उसने दम तोड़ दिया. संध्या की मौत का और डॉक्टर के इस अंधविश्वास का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है.

आपको हम बता दें कि देश में आए दिन कोई ना कोई इंसान अंधविश्वास का शिकार होता चला आ रहा है. इस अंधविश्वास और तांत्रिक विद्या के चलते कईं मासूम अपनी जान से हाथ धो चुके हैं मगर अभी तक ये अंधविश्वास रुकने का नाम नहीं ले रहा. इससे पहले उत्तर प्रदेश के अस्पताल में भी एक महिला पढ़े लिखे डॉक्टर की तांत्रिक विद्या का शिकार हो कर दम तोड़ चुकी है. ऐसे में लोगों को इस अंधविश्वास से बाहर निकल कर खुद को जागरूक करना होगा ताकि आगे चल कर ये तांत्रिक विद्या किसी और की जान ना ले पाए.