राजनीति

जब कानून और घरवालों ने भी नहीं दिया साथ तो प्रेमी ने बीच सड़क पर ही प्रेमिका के साथ किया ये काम

प्रेमी ने सड़क पर भर दी प्रेमिका की मांग: सही कहा जाता है प्रेम के आगे कितनी भी मुसीबत क्यों ना आ जाये अंत में जीत सच्चे प्रेम की ही होती है। प्रेमी लाख मुसीबतों को सहने के बाद भी अपने प्रेमिका का साथ नहीं छोड़ता है। हालाँकि आज के समय में यह बहुत कम ही देखने को मिलता है। अक्सर इस तरह की घटनाओं के बारे में आपने कहानियों में पढ़ा या फिल्मों में देखा होगा, लेकिन असल जीवन में ऐसा शायद ही कभी होते हुए देखा होगा।

हर व्यक्ति के जीवन में होता है शादी का महत्व:

असल जीवन में लोग मुसीबतों से डरकर अपने माँ-बाप का साथ छोड़ देते हैं तो प्रेमिका क्या चीज है, अगर आप भी ऐसा सोचते हैं तो आपको अपनी सोच बदलने की जरुरत है। जी हाँ आज भी कुछ लोग हैं जिनके लिए रिश्ते बहुत मायने रखते हैं और वह उन्हें अच्छे से निभाना भी जानते हैं। आप सभी लोग यह अच्छे से जानते हैं कि किसी भी व्यक्ति के लिए शादी का क्या महत्व होता है। किसी भी व्यक्ति की शादी जीवन में एक ही बार होती है (कुछ खास स्थितियों को छोड़कर)। ऐसे में हर व्यक्ति की यही चाहत होती है कि उसकी शादी खूब धूम-धाम से हो।

ना ही पंडित बुलवाया और ना ही लिए फेरे लेकिन हो गयी शादी:

लेकिन ऐसा सबके साथ नहीं होता है। खासतौर से जब कोई घर वालों की मर्जी के खिलाफ शादी करता है तो उसे भागकर ही शादी करनी पड़ती है। तब वह या तो कानून का सहारा लेता है या भगवान का। लेकिन अगर कानून भी साथ ना दे और भगवान के दरबार में भी सुनवाई ना हो तो क्या करेगा कोई, इसके बारे में आपने सोचा है? हाल ही में एक ऐसी ही अजीबो-गरीब शादी देखने को मिली है। ना ही इस शादी में कोई पंडित बुलवाया गया और ना ही फेरे लिए गए।

कोर्ट की औपचारिकताओं से परेशान होकर बाहर कर ली शादी:

प्रेमी ने बस अपनी प्रेमिका की मांग में सिंदूर भर दिया एवं दो मालाएं पहनाई और हो गयी शादी। आपको बता दें ये मामला सोमवार को मध्यप्रदेश के गुना जिले में सामने आई है। इस समय पुरे जिले में इस शादी की चर्चा हो रही है। एक साल से एक-दूसरे के संपर्क में रहने के बाद प्रेमी जोड़े ने शादी करने का निर्णय लिया और वह कोर्ट गए, लेकिन वहां की औपचारिकताओं से परेशान होकर बाहर निकल आये और बहार शादी कर ली। जब दोनों मंदिर के सामने गए तो वहां ताला लगा हुआ था लेकिन दोनों ने बंद दरवाजे के सामने ही शादी कर ली।

शादी के बाद पति के बच्चों का ख़याल रखने की खाई कसमें:

प्रेमी जोड़े ने कहा कि हमारी शादी का गवाह मंदिर और कोर्ट दोनों ही हैं। आपको बता दें प्रेमी की पहले ही शादी हो चुकी थी और वह चार बच्चों का बाप भी है। दरअसल बिजली कंपनी का कर्मचारी 35 वर्षीय राजेंद्र सिंह गुना की रहने वाली 42 साल की राजकुमारी के साथ एक साल से संपर्क में था। राजेंद्र सिंह की पहली पत्नी का निधन हो गया था। राजकुमारी के पति का भी निधन 2005 में ही हो गया था। प्रेमिका ने शादी के बाद पति के चारो बच्चों की अच्छे से ख़याल रखने की कसमें भी खायी। इस शादी को देखने के लिए कोर्ट के बाहर भीड़ इकट्ठी हो गयी थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close