सावधान: आग की तरह फैल रही है ये भयंकर बीमारी, वक्त पर नहीं कराया इलाज तो जिंदगी भर पछताएंगे आप

नई दिल्ली – इन दिनों देशभर में एक अजीब सी बिमारी फैली हुई है। इस बिमारी को लेकर ज्यादातर लोगों को मालूम नहीं है। आलम ये है कि खत्म होती सर्दी और बढ़ती गर्मी के बीच इसके मरीजों की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। दरअसल, इस बिमारी का नाम है गले का इंफेक्शन। आज हम आपको तेजी से फैल रहे गले का इंफेक्शन और इसके लक्षण के बारे में बताने जा रहे हैं।

गले का इंफेक्शन और इसके लक्षण क्या है?

इसे गले का इफेक्शन और कभी-कभी ग्रसनीशोथ भी कहा जाता है। यह जीवाणु या वायरल संक्रमण के कारण हो सकता है जिससे गले के ऊतकों की सूजन हो सकती है। गले के इंफेक्शन में दर्द और सूजन हो सकती है। गले के इंफेक्शन के लिए जिम्मेदार कारक अक्सर मुँह या नाक के माध्यम से शरीर के अंदर प्रवेश करते हैं। इन संक्रमणों में से कई फैलने वाले यानि ऐसे होते हैं जो बैक्टीरिया (जैसे स्ट्रैपटोकोकस पायोजनेज या समूह ए स्ट्रेटोकोकस) के कारण फैल सकते हैं।

गले के इंफेक्शन के लक्षण

स्ट्रेप्टोकोकी हर जगह मौजूद होते हैं, जो मनुष्य की शरीर के माध्यम से चिपके रहते हैं। ये त्वचा और गले पर जमा होते हैं और इस बीमारी का कारण बनते हैं। स्ट्रेप्टोकोसी संक्रामक हैं यानि ये फैलते हैं। वे वायरस के रूप में खाँसी, छींक या हाथ के संपर्क के माध्यम से दूसरे लोगों में फैलते हैं।  गले का इंफेक्शन और इसके लक्षण की बात करे तो इसके लक्षण इस प्रकार हैं –

तेज बुखार (38 डिग्री सेल्सियस या 100.4 डिग्री सेल्सियस से अधिक), ठंड लगना और पसीना आना

सिरदर्द

टॉन्सिल पर सफेद दाग

कभी-कभी मतली और उल्टी आना

गले में खराश

गले में सूजन

खांसी, नाक का बहना और छींकना गले के इंफेक्शन के लक्षण हैं और आमतौर पर वायरल संक्रमण के कारण होते हैं। गले का इंफेक्शन वायरल और बैक्टीरिया के संक्रमण दोनों से हो सकता है। बैक्टीरिया के शरीर में फैलने में लगभग 24 से 72 घंटे का समय लगता है। एंटीबायोटिक दवाओं की खोज से पहले, यह देश और दुनिया की सबसे गंभीर बिमारी मानी जाती थी।

बचाव है बेहद जरुरी

गले का इंफेक्शन और इसके लक्षण जानना आज हर किसी के लिए बेहद जरुरी है। क्योंकि, अधिक दिनों तक गले का इंफेक्शन रहने पर यह मुंह के कैसर जैसी गंभीर बिमारी का कारण भी हो सकता है। अगर आम खांसी तीन से चार दिनों में ठीक नहीं हो रही है तो आपको इस मामले में तुरंत ही किसी अच्छे डॉक्टर कि सलाह लेनी चाहिए। गौरतलब है कि इस वक्त देश के राजस्थान राज्य और पूरे उत्तर भारत में गले का इन्फेक्शन बहुत तेजी से फैल रहा है।

इसके बचाव के लिए आप घर से बाहर निकलते वक्त मुंह पर मास्क लगाकर निकले। क्योंकि, सर्दी का मौसम खत्म हो रहा है और गर्मीयां शुरु हो रही हैं इसलिए इस बिमारी के फैलने का खतरा अधिक बढ़ गया है। गले के इंफेक्शन से बचाव के लिए ठण्डी चीजों का सेवन न करें। अगर आप को भी इस तरह से लक्षण दिखाई दें तो तुरंत ही किसी अच्छे डॉक्टर के संपर्क करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.