डिलीवरी के बाद दिखने वाले इन लक्षणों को ना करें इग्नोर, हो सकते हैं जानलेवा

आमतौर पर गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को देखभाल के लिए कई सलाह दिए जाते हैं पर वहीं डिलीवरी के बाद सेहत का उचित ख्याल नहीं रखा जाता है जिसके परिणाम स्वरूप कई बार गम्भीर परिणाम भुगतने पड़ जाते हैं। दरअसल गर्भावस्था के तुरंत बाद मां के शरीर को वापस सामान्य होने में कुछ वक्त लगता है। ऐसे में इस दौरान उन्हें कई तरह की शारीरिक समस्याओं से जूझना पड़ता है जिनकी समय रहते उचित रोकथाम बेहद जरूरी हैं क्योंकि इन्हे नजरअंदाज करने की वजह से यही समस्याएं बाद में गम्भीर बीमारियों का रूप ले लेती हैं, जो कि मां की सेहत के लिए घातक हो सकती हैं। आज हम आपको डिलीवरी के बाद दिखने वाले ऐसे ही कुछ लक्षणों के बारे में बता रहे हैं जिनका समय रहते ही निवारण होना चाहिए।

डिलीवरी के बाद रक्त स्राव, थकान, दर्द जैसी कुछ समस्याएं हैं महिलाओं को झेलनी पड़ती हैं। पर इनके साथ ही अगर आपको लम्बे समय तक स्वास्थ्य सम्बंधी दिक्कतें बनी रहती हैं तो इन्हें नजरअंदाज करने की जरूरत नहीं है। क्योंकि ये छोटी-छोटी समस्याएं ही बाद में गंभीर बीमारियों का रूप ले सकती हैं। चलिए जानते हैं डिलीवरी के बाद दिखने वाले ऐसे ही कुछ लक्षणों के बारे में जिनके लिए तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना बेहद जरूरी है।

लगातार सिर में दर्द रहना

डिलीवरी के वक्त तनाव की वजह के सिर दर्द होना आम समस्या है, पर वहीं अगर प्रसव के 72 घंटों के भीतर तेज सिर दर्द की शिकायत होती है तो फिर ये प्री-एक्लेमप्सिया का संकेत हो सकता है। साथ ही तेज सिर दर्द के अलावा आंखों से धुंधला दिखाई देना, जी मिचलाना या उल्टी होने जैसे लक्षण भी प्री-एक्लेम्प्सिया का संकेत हो सकते हैं। ऐसे में डाक्टर से संपर्क करना बेहद जरूरी हो जाता है।

हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत

अगर डिलीवरी के बाद महिला का ब्लड प्रेशर अचानक से बढ़ने लगता है तो ये भी गम्भीर खतरे का संकेत हो सकता है। दरअसल इसका कारण प्री-एक्लेमप्सिया भी हो सकता है। ऐसे में इलाज में देरी होने से महिला को पूर्ण विकसित एक्लेमप्सिया हो सकता है।

सांस लेने में दिक्कत होना

कई बार डिलीवरी के बाद मां को सांस लेने में तकलीफ होने लगती है जो कि पल्मोनरी एम्बोलिस्म की वजह से हो सकता है। आपको बता दें ये एक जानलेवा बीमारी है। ऐसे में इसके लक्षण दिखते ही इसका उचित रोकथाम और चिकित्सा जरूरी है।

पेशाब न आना

वहीं प्रसव के 6 घंटे के अंदर अगर महिला को पेशाब नहीं आता तो ये भी एक गंभीर समस्या हो सकती है और ऐसी स्थिति में तुरंत चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।

सीने में दर्द की शिकायत

डिलीवरी के बाद अगर महिला को सीने में दर्द की शिकायत है तो फिर ये सीने में संक्रमण का संकेत हो सकता है। वहीं सीने में दर्द के साथ खांसते हुए मुंह से खून भी आए तो ये पल्मोनरी एम्बोलिस्म का संकेत हो सकता है। ऐसे में थोड़ी सी भी लापरवाही खतरनाक हो सकती है जिसके लिए तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क जरूरी होता है।

इन सारे लक्षणों में से कोई डिलीवरी के बाद दिखें तो उसे भूलकर भी इग्नोर मत कीजिए, तुरंत डॉक्टरी सलाह लीजिए क्योंकि इससे मां के जान पर भी बन सकती हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.