पहली नज़र में ही इस लड़की पर मर मिटा था कुख्यात तस्कर वीरप्पन, जानिए दोनों की अनोखी प्रेम कहानी

मुंबई: प्रेम कितना पवित्र होता है, यह सभी लोगों को पता है। प्रेम में इतनी शक्ति होती है कि यह कभी भी किसी को बदल सकती है। इतिहास में कई ऐसे लोग हुए हैं, जिन्हें प्रेम ने बदल दिया था। प्रेम का सप्ताह चल रहा है, ऐसे में हर जगह प्रेमी जोड़े देखे जा सकता हैं। 14 फ़रवरी को वेलेंटाइन डे के रूप में मनाया जाता है। वेलेंटाइन डे को पुरे विश्व में प्रेम दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन प्रेमी एक दुसरे को गुलाब देकर अपने प्रेम का इज़हार करते हैं। भारत का सबसे कुख्यात चन्दन तस्कर था वीरप्पन

प्रेम किसी को भी हो सकता है। जरुरी नहीं है कि एक अच्छे व्यक्ति को ही प्रेम हो सकता है। कई खूंखार लोग भी हैं, जिन्हें प्रेम हुआ और उनके प्रेम के किस्से मशहूर हो गए हैं। डॉन अबू सलेम और बॉलीवुड एक्ट्रेस मोनिका बेदी के प्रेम के किस्से के बारे में हर कोई जानता होगा। लेकिन आज हम आपको भारत के सबसे खूंखार कुख्यात तस्कर की प्रेम कहानी के बारे में बताने जा रहे हैं। जी हाँ आप बिलकुल सही समझे हम बात कर रहे हैं भारत के सबसे कुख्यात चन्दन तस्कर वीरप्पन की।

भारत का सबसे कुख्यात चन्दन तस्कर था वीरप्पन, 16 साल की एक लड़की पर आ गया था दिल:

आपको जानकार काफी हैरानी होगी कि कुख्यात तस्कर वीरप्पन के ऊपर 184 केस होने के बाद भी पुलिस और आर्मी को उस तक पहुँचने में 30 साल का लम्बा समय लग गया। एक समय था जब वीरप्पन के आतंक से दक्षिण भारत कांपता था। तीन राज्यों की पुलिस वीरप्पन के पीछे हाथ धोकर पड़ी हुई थी। लेकिन वीरप्पन था कि किसी के हाथ ही नहीं आ रहा था। वीरप्पन को पकड़ने में 20 करोड़ से ज्यादा रूपये भी खर्च हो गए थे। जब वीरप्पन 29 साल का था तब उसे एक 16 साल की लड़की से प्रेम हो गया था। लड़की का नाम मुत्तुलक्ष्मी था, जो एक निचले तबके में आती थी।

पहली नजर में हुआ प्यार और कर ली शादी:

1989 का साल था जब पहली बार वीरप्पन ने मुत्तुलक्ष्मी को देखा था। एक विवाद सुलझाने के लिए वीरप्पन धर्मपुरी जिले में अपने गाँव नेरुपुर जा रहा था। एक लड़की कावेरी से पानी भरकर ला रही थी, तभी वीरप्पन की नज़र उसके ऊपर पड़ी। पहली ही नज़र्मे वीरप्पन को प्यार हो गया। कुछ दिनों बाद जब वीरप्पन मुत्तुलक्ष्मी से मिला तो कहा कि मैं कभी शादी नहीं करना चाहता था, लेकिन तुम्हे देखने के बाद मेरा इरादा बदल गया है। रिपोर्ट्स के अनुसार वीरप्पन ने कहा कि अगर तुम शादी से इनकार करोगी तो मेरी जिंदगी में शादी का मौका दुबारा नहीं आएगा। 1990 में वीरप्पन और मुत्तुलक्ष्मी की शादी हुई।

वीरप्पन की दोनों बेटियां कर रही हैं इंजीनियरिंग की पढ़ाई:

वीरप्पन से शादी करने के बाद मुत्तुलक्ष्मी उसी के साथ तमिलनाडु, कर्नाटक और केरल के बॉर्डर पर जंगलों में रहती थी। आपको बता दें मुत्तुलक्ष्मी धर्मपुरी जिले के एक गाँव के चरवाहा परिवार से सम्बन्ध रखती थी। मुत्तुलक्ष्मी और वीरप्पन की दो बेटियां विद्यारानी और प्रभा है। दोनों ही इस समय इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही हैं। इस समय मुत्तुलक्ष्मी अपनी कम्युनिटी के लिए तमिलनाडु के सेलम में सोशल वर्क का काम करती हैं। इसके साथ ही मुत्तुलक्ष्मी उनके लिए भी काम कर रही हैं, जिन्हें पुलिस ने वीरप्पन की मदद करने के लिए परेशान किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.